Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बाथरूम में बस कंडक्टर नहीं आया था, किसी और ने मारा है मेरे बेटे को: ज्योति ठाकुर

मृत छात्र की मां ज्योति ठाकुर ने कहा अगर खट्टर सरकार ने नहीं सुनी तो पीएम मोदी से करेंगे शिकायत।

बाथरूम में बस कंडक्टर नहीं आया था, किसी और ने मारा है मेरे बेटे को: ज्योति ठाकुर

गुरुग्राम के 'रायन इंटरनेशनल स्कूल' में शुक्रवार को दूसरी कक्षा के छात्र प्रद्युम्न ठाकुर की गला काटकर हत्या कर दी गई। जिसके बाद प्रद्युम्न की मां ज्योति ठाकुर ने कहा कि अगर राज्य की खट्टर सरकार से इन्साफ नहीं मिला तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से शिकायत करेंगे।

ज्योति ठाकुर ने कहा, असली गुनहगार बस कंडक्टर नहीं बल्कि स्कूल प्रशासन है, बस कंडक्टर का बाथरूम में क्या काम...? मेरे बेटे ने कुछ गलत होते देख लिया होगा इसीलिए उसकी हत्या कर दी गई। प्रिंसिपल इस मामले को दबाना चाहती हैं, इसकी सीबीआई जांच होनी चाहिए।

बच्चे की मां ने बताया कि उन्होंने कभी भी अपने बेटे को स्कूल बस से स्कूल नहीं भेजा। हमेशा उसे स्कूल छोड़ने के लिए गए। वहीं छूट्टी होने पर खुद ही घर लेकर आए।

वहीं मृत छात्र के परिजनों ने स्कूल प्रबंधन के खिलाफ सख्त कार्रवाई और सीबीआई जांच की मांग की है। गौरतलब है कि सात साल के मासूम प्रद्युम्न का शव स्कूल शुरू होने के महज 15 मिनट बाद शौचालय में मिला। शव के पास से चाकू भी बरामद किया गया है।

इसे भी पढ़ें: बस कंडक्टर ने कबूला जुर्म- कहा- स्कूल में बच्चे के साथ कुकर्म के बाद की हत्या!

पुलिस ने देर शाम हत्या के आरोप में स्कूल बस के कंडक्टर को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के अनुसार, आरोपी अशोक कुमार (42) ने हत्या से पहले बच्चे से कुकर्म की कोशिश की थी।

घामड़ौज निवासी अशोक ने पूछताछ में अपना जुर्म कबूल कर लिया है। डीसीपी ने बताया कि आरोपी ने बच्चे का यौन उत्पीड़न करने का प्रयास किया था, जब बच्चे ने विरोध किया तो आरोपी ने उसे मार डाला।

डीसीपी ने बताया कि अभियुक्त पिछले करीब 8 महीने से स्कूल में काम कर रहा था। आरोपी शौचालय का इस्तेमाल करने गया था, यहीं उसने बच्चे को देखा था। आरोपी के पास पहले से ही चाकू था।

Next Story
Share it
Top