Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

संस्कारों की मौत : भरा पूरा परिवार फिर भी लावारिस के रूप में हुआ अंतिम संस्कार

बहादुरगढ़ में एक बुजुर्ग की मौत हो गई लेकिन उसके बच्चों ने मुखाग्नि देना तक जरूरी नहीं समझा और लावारिस छोड़ दिया तो सामाजिक संस्था मोक्ष सेवा समिति की ओर से शव का दाह संस्कार किया गया ।

संस्कारों की मौत :  भरा पूरा परिवार फिर भी लावारिस के रूप में हुआ अंतिम संस्कार

मनीष कुमार:बहादुरगढ़

शहर में एक बुजुर्ग की मौत हो गई लेकिन उसके बच्चों ने मुखाग्नि देना तक जरूरी नहीं समझा और लावारिस छोड़ दिया। मामला उत्तर प्रदेश के संत रविदास नगर (भदोई) और हरियाणा के बहादुरगढ़ से जुड़ा है। दरअसल, संत रविदास नगर जिले के निवासी झुन्नर ने अपने परिवार के पोषण के लिए गांव छोड़ दिया था। दूसरे शहर में गया और जी तोड़ मेहनत से खुद की आर्थिक स्थिति सुधारी। बच्चों को अच्छी शिक्षा दिला योग्य बनाया और शादी करा दी। पूरी जवानी मेहनत मजदूरी में निकालने के बाद जब बच्चों का परिवार बसा तो झुन्नर को उम्मीद हुई कि अब बुढ़ापा चैन से कट जाएगा। लेकिन जब कलयुगी सन्तान ने रंग दिखाने शुरू किए तो उसकी सारी उम्मीदें धरी की धरी रह गई। घर से निकाल दिया गया तो इधर-उधर भटकने लगा।

बुढ़ापे में एक बार फिर खुद का जीवन यापन करने का बोझ पड़ा तो हरियाणा के बहादुरगढ़ में आकर किराए पर रहने लगा और रिक्शा चलानी शुरू कर दी। उम्र 72 हो गई और शरीर ने साथ देना छोड़ दिया। बीमारियों ने भी घेर लिया। करीब डेढ़-दो महीने ज्यादा बीमार रहने के बाद वीरवार को इंदिरा मार्केट में दम तोड़ दिया। पुलिस आई और परिजनों के बारे में जानकारी जुटानी शुरू कर दी। पड़ोसियों से नम्बर मिला तो पुलिस ने बच्चों को फोन कर सूचना दी। लेकिन बच्चों से कोई खास रिस्पॉन्स नहीं मिला। इसके बाद शव को लावारिस मानकर कार्रवाई आगे बढ़़ी।

बीमारी के दौरान भी परिजनों को किया था फोन पर अनसुना कर दिया

मोक्ष सेवा समिति के सुरेंद्र चुघ ने बताया कि झुन्नर जब बीमार था तो पड़ोसियों ने कई बार उसके बच्चों को कॉल की, लेकिन वे अनसुना करते रहे। हमने भी दाह संस्कार से पहले कई बार कॉल की लेकिन उनको कोई फर्क ही नहीं पड़ा। झुन्नर के दामाद ने तो यह तक कह दिया कि मामले को वहीं रफा दफा कर दो हम नहीं आ सकते। बच्चों ने भले ही झुन्नर को लावारिस छोड़ दिया लेकिन हमारी समिति ने पूरी रीति रस्मों के साथ संस्कार किया। रविवार को सोशल मीडिया पर दिनभर यह मामला चर्चा का विषय बना रहा। हर कोई कलयुगी संतान को कोस रहा था।

Next Story
Top