Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

नाबालिक से रेप के बाद आरोपी गया जेल, अब बाहर आने पर किया अपहरण

लड़की के परिजन एक अधिकारी से दूसरे अधिकारी के काट रहे चक्कर। लेकिन अभी तक लड़की का कोई सुराग नहीं मिला है। आज सैकड़ों की संख्या में प्रजापति समाज के लोग जिला सचिवालय पहुंचे।

यमुनानगर: शादी का झांसा देकर नाबालिग लड़की को किया अगवाशादी का झांसा देकर नाबालिग लड़की को किया अगवा

देश के अलग-अलग राज्यों में महिलाओं और लड़कियों के खिलाफ अपराध कम होने के बजाए और बढ़ रहे हैं। सरकार महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराधों पर पूरी तरह से लगाम लगाने की कोशिश कर रही है। इसके लिए देश में शख्त कानून भी है।

लेकिन अपराध करने वालों के हौंसले अभी भी बुलंद दिख रहे हैं। हरियाणा में रेवाड़ी के एक गांव में एक व्यक्ति नाबालिग से बलात्कार करने के बाद जेल गया, लेकिन जेल से बाहर आने के बाद उसने लड़की का अपहरण कर लिया।

लड़की के परिजन एक अधिकारी से दूसरे अधिकारी के चक्कर काट रहे हैं। उनकी सुनवाई नहीं हो रही है। अभी तक लड़की का कोई सुराग नहीं मिला है। आज सैकड़ों की संख्या में प्रजापति समाज के लोग जिला सचिवालय पहुंचे। यहां पर उन्होंने चेतावनी दी है कि या तो लड़की को बरामद करें नहीं तो आर-पार की लड़ाई लड़ेंगे। वहीं गांव में पोस्टर लगे हैं कि समाज विशेष की एक लड़की को उठाया और भी उठाएंगे।

क्या है पूरा मामला

बता दें कि व्यक्ति ने पहले नाबालिग लड़की के साथ बलात्कार की घटना को अंजाम दिया। इस अपराध कि सिलसिले में आरोपी को जेल जाना पड़ा लेकिन जेल से बाहर निकलते ही नाबालिक का फिर से अपरहण कर लिया और कार्रवाई करने पर समाज की अन्य लड़कियों को उठाने के पोस्टर लगा दिया।

आपको जानकर यह हैरानी होगी कि यह कहानी फिल्मी नहीं है, यह रेवाड़ी जिले के गांव नेहरूगढ़ का मामला है। आज भी अपनी नाबालिग बेटी को अपहरणकर्ता से वापस लाने की गुहार जिले के छोटे से बड़े पुलिस अधिकारियों के चक्कर लगा चुका हैं। लेकिन उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही है।

सुनवाई न होने पर कड़ाके की ठंड में सैकड़ों की संख्या में जिला सचिवालय के सामने समुदाय के लोग जुटे। उन्हें उम्मीद है कि नई सरकार बनने के बाद पुलिस महकमा हंटर वाले बाबा के पास आ गया है और महकमे के माननीय मंत्री एक के बाद एक पुलिस अधिकारियों को निलंबित भी कर रहे हैं तो पुलिस की कार्यप्रणाली में जरूर कोई सुधार आया होगा लेकिन मंत्री जी आप खुद ही देख सकते हैं कि कितना सुधार हुआ है।

नेहरूगढ़ की चंद्रकला भट्टे पर अपने पति के साथ मजदूरी करती है 17 अगस्त 2018 को दोनों पति-पत्नी मजदूरी करने चले गए पीछे से गांव के ही एक दबंग परिवार से संबंध रखने वाले लड़के ने इनकी नाबालिग बेटी का अपहरण कर लिया।

बाकायदा पुलिस ने 18 अगस्त 2018 को अपहरण तथा बलात्कार का मुकदमा संख्या 173 भी दर्ज कर लिया और आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भी भेज दिया। लेकिन जैसे ही आरोपी को बेल मिली तो उसने 10 जून 2019 को नाबालिक लड़की का फिर से अपहरण कर लिया।

इस संबंध में भी पुलिस ने मुकदमा संख्या 162 दर्ज करके इसे रद्दी की टोकरी में डाल दिया है। परिजन जब कार्रवाई करने लगे तो 19 दिसंबर 2019 को समाज विशेष के घरों के पास एक इश्तहार लगा दिया। जिसमें कहा गया कि अगर कार्रवाई की तो समाज की दो से तीन लड़कियों को और अपहरण कर लिया जाएगा।

पुलिस ने इस पर भी मुकदमा तो जरूर दर्ज कर लिया लेकिन कार्रवाई के नाम पर अभी तक कुछ भी नहीं हुआ है। जब हमने पीड़िता से बात करनी चाही तो वह अपने आंसू ही नहीं रोक पाई। पीड़ित परिवार ने महिला आयोग प्रधानमंत्री गृह मंत्री मुख्यमंत्री गृह मंत्री हरियाणा को भी गुहार लगाई है।

लेकिन कार्रवाई कहीं भी नहीं हुई है। अब पीड़ित परिवार वह समाज का कहना है कि अगर पुलिस कार्रवाई नहीं करती है तो वह धरना प्रदर्शन करने पर मजबूर हो जाएंगे।

Next Story
Top