Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Ram Rahim Latest News जानें कौन थे पत्रकार रामचंद्र छत्रपति, जिसने राम रहीम की सच्चाई दुनिया को बताई

हरियाणा के सिरसा में डेरा प्रमुख बाबा गुरमीत राम रहीम को पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या मामले में पंचकुला की विशेष सीबीआई आज सजा का ऐलान करने वाली है।

Ram Rahim Latest News जानें कौन थे पत्रकार रामचंद्र छत्रपति, जिसने राम रहीम की सच्चाई दुनिया को बताई
हरियाणा (Haryana) के सिरसा (Sirsa) में डेरा प्रमुख बाबा गुरमीत राम रहीम (Gurmeet Ram Rahim) को पत्रकार रामचंद्र छत्रपति (Journalist Ramchandra Chatrapati) की हत्या मामले में पंचकुला की विशेष सीबीआई (CBI) आज सजा का ऐलान करने वाली है। इस मामले में राम रहीम के अलावा 4 लोग और भी हैं। लेकिन इससे पहले जान लेते हैं कि आखिर पत्रकार रामचंद्र छत्रपति कौन थे और कैसे उन्होंने गुरमीत राम रहीम के काले कारनामों को दुनिया के सामने ला दिया था।
कौन थे पत्रकार रामचंद्र छत्रपति (Who was Journalist Ramchandra Chatrapati)
रामचंद्र छत्रपति शुरुआत में पेशे से एक वकील थे। जिन्होंने साल 2000 से पत्रकारिता शुरू की और 'पूरा सच' अखबार शुरु किया। इसके 2 साल बाद रामचंद्र के अखबार पूरा सच में बाबा राम रहीम की एक खबर को प्रमुखता से छापा गया। जिसमें हैडिंग दी गई 'धर्म के नाम पर किए जा रहे हैं साध्वियों के जीवन बर्बाद'। रामचंद्र को इस खबर के छापने के बाद धमकियां मिलने लगी।
रामचंद्र छत्रपति की हत्या (Ramchandra Chatrapati Murder Case)
Image result for राम रहीम हरिभूमि
छत्रपति की 19 अक्टूबर 2002 उनके घर के बाहर गोली मारकर हत्या कर दी। उनकी हत्या के पीछे 2002 में छत्रपति को एक अनजान चिट्ठी मिली थी। जिसमें राम रहीम के पहले कुकर्मों का खुलासा हुआ।
कब हुआ मामला दर्ज
पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या के बाद साल 2003 में पुलिस में मामला दर्ज किया गया। जिसमें राम रहीम को मुख्य आरोपी बनाया गया। लेकिन बाद में यह मामला सीबीआई को सौंप दिया गया। इस मामले में सीबीआई 2006 से सुनवाई कर रही है। अब राम रहीम को इस हत्या मामले में सजा सुनाई जानी है।
राम रहीम जेल में बंद
Image result for राम रहीम हरिभूमि
सिरसा डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम पर दो साध्वियों से रेप मामले में पंचकुला की सीबीआई कोर्ट से 20 साल की सजा सुनाई गई। अभी वो रोहतक की सुनारिया जेल में बंद है। इन दोनों मामलों में राम रहीम को 10-10 साल की सजा सुनाई गई है। राम रहीम के जेल जाने के बाद राज्य में हिंसा फैल गई। जिसमें 40 लोगों की मौत हो गई और संपत्ति का भी काफी नुकसान हुआ था।
Next Story
Share it
Top