Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पंचकुला हिंसा मामले में आरोपी हनीप्रीत को गुरमीत राम रहीम से पहले मिली आजादी

पंचकुला हिंसा में मुख्य आरोपी और डेरा सच्चा प्रमुख गुरमीत राम रहीम के राजदार हनीप्रीत इन्सां को बुधवार को कोर्ट ने जमानत दे दी है। दो वर्ष बाद हनीप्रीत इन्सां बुधवार को जेल से बाहर आएंगी।

पंचकुला हिंसा मामले में आरोपी हनीप्रीत को गुरमीत राम रहीम से पहले मिली आजादीहनीप्रीत सिंह: फाइल फोटो

हनीप्रीत इन्सां (Honeypreet Insan) आध्यातमिक संस्था डेरा सच्चा सौदा (Dera Saccha Sauda) प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह इन्सां (Gurmeet Ram Rahim Singh Insan) के निकटतम सहयोगी और उनकी उत्तराधारी हैं। पंचकुला हिंसा मामले में आरोपी हनीप्रीत को गुरमीत राम रहीम से पहले आजादी मिल गई है। जबकि उनके गुरू राम रहीम को फिलहाल राहत की कोई उम्मीद नहीं दिखायी दे रही हैं।

गुरमीत राम रहीम की तरह हनीप्रीत एक अभिनेता, निर्देशक, संपादक, पापा की परी, और फिलेनथ्रोपिस्ट भी हैं। जिनका असली नाम प्रियंका तनेजा है। वह हिसार स्थित फतेहाबाद की निवासी हैं। वह गुरमीत राम रहीम के साथ घनिष्ठता के कारण इस शक्ति और पद को हासिल कर सकीं। वर्ष 1999 में उनकी विश्वास गुप्ता के साथ शादी हुई। सिरसा निवासी विश्वास गुप्ता भी डेरा सच्चा के अनुयायी थे।

डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम के साथ उनकी निकटता उनके और पति विश्वास के बीच मतभेद का कारण बन गई। इस कारण बौखलाहट में उनके पति विश्वास गुप्ता ने 2012 में कोर्ट में गुरमीत राम रहीम के खिलाफ उनकी पत्नी का यौन शोषण किए जाने की शिकायत दर्ज की थी। लेकिन बाद में अज्ञात कारणों से उन्होंने गुरमीत राम रहीम के खिलाफ दर्ज की शिकायत को वापस ले लिया था।

पंचकुला हिसां में गुरमीत राम रहीम की गिरफ्तारी के बाद हनीप्रीत फरार हो गई थीं। जानकारी के मुताबिक उस दौरान वह रोहतक में डेरा के अनुयायी के घर में छुपी हुई थीं। 18 सितंबर 2017 में हरियाणा पुलिस द्वारा जारी किए गए एक बयान में कहा गया था कि फरार हनीप्रीत इन्सां 43 मोस्ट वांटेड अपराधियों की सूची में टॉप पर हैं। जिनकी तलाश में पुलिस जुटी हुई है।

38 दिनों तक फरार रहने के बाद 3 अक्टूबर 2017 को हनीप्रीत इन्सां को गिरफ्तार किया गया था। मामले की जांच कर रही एसआईटी ने खुलासा किया था कि गुरमीत राम रहीम को दोषी ठहराए जाने के बाद हुई हिंसा की साजिश हनीप्रीत द्वारा की गई थी। पुलिस पूछताछ के दौरान हनीप्रीत ने न केवल योजना तैयार करने की बात कबूल की बल्कि लोगों को उकसाने वाले वीडियो क्लिप के जरिए भी अभियान चलाने की बात भी कही थी।

बता दें, दो विभिन्न बलात्कार मामलों में आरोपी गुरमीत राम रहीम को 25 अगस्त 2017 को गिरफ्तार किया गया था। उन्हें कोर्ट ने 20 वर्ष कैद की सजा सुनाई थी। जिसके बाद डेरा समर्थकों की भीड़ भड़क गई थी और उनके द्वारा की गई हिंसा में 30 लोगों की मौत हो गई थी। 350 से अधिक लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे। फिलहाल वह रोहतक जेल में बंद हैं और सजा काट रहे हैं।

Next Story
Top