Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

हरियाणा : ट्रेन में जगह नहीं मिलने पर परीक्षार्थियों का हंगामा, रेलवे ट्रैक को किया जाम

एचएसएससी की परीक्षा देने आए युवकों (HSSC Candidates) ने ट्रेन में बैठने की जगह नहीं मिल पाने के कारण जमकर हंगामा किया। परीक्षर्थीयों ने ट्रैक जाम (Railway Track Jammed) किया और उसके ऊपर प्रदर्शन किया। जिस वजह से यातायात में भी रुकावट हुई।

ट्रेन में जगह नहीं मिलने पर परीक्षार्थियों ने किया ट्रैक जामThe candidates Jammed the Track due to lack of space in the Train

हरियाणा के पानीपत में एचएसएससी की परीक्षा देने आए परीक्षार्थियों (HSSC Candidates) ने देर रात जमकर हंगामा किया है। परीक्षार्थियों ने गुस्सा जाहिर करते हुए रेवले का ट्रैक (Railway Track) जाम कर दिया और ट्रैक पर धरना (Protest) दिया। जिस वजह से रेवले यातायात रूक गया और यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। पुलिस (Haryana Police) ने घटना स्थल पर पहुंच कर कार्रवाई की और ट्रैक को खाली करवाया।

डिब्बे कम होने के कारण बैठने की जगह नहीं मिली

करनाल की ओर से भिवानी जाने वाली झेलम ऐक्सप्रेस पानीपत आने के बाद दो भागों में बट जाती है। ट्रेन का एक भाग रोहतक से होते हुए भिवानी चला जाता है। भिवानी की ओर जाने वाली ट्रेन में डिब्बे कम होने के कारण परीक्षार्थियों को बैठने की जगह नहीं मिली (Lack Of Space) जिस वजह से उन्हें ट्रेन के इंजन पर चढ़कर जाना पड़ा। इस बात से आक्रोशित होकर परीक्षार्थियों ने रेलवे ट्रैक जाम कर दिया। उस ट्रैक पर खड़े होकर खूब हंगामा किया।



पुलिस ने लाठी चार्ज की

परीक्षर्थियों का कहना है कि ट्रेन में भीड़ होने के कारण वह परीक्षा केंद्रों पर नहीं पहुंच पाए। इस कारण उन्होंने ट्रैक जाम किया और उस पर धरना दिया। मामले की सूचना मिलते ही पुलिस ने मौके पर पहुंच कर संबंधित थानों से पुलिस फोर्स बुलाई और ट्रैक को खाली करवाया। पारीक्षार्थियों ने यह आरोप भी लगाया है कि उनके ऊपर पुलिस ने लाठी चार्ज (Lathi Charge) की है और उनके साथ अभद्र व्यवहार भी किया गया।

कई परीक्षर्थी परीक्षा स्थल तक नहीं पहुंचे

ट्रैक खाली करवाने के बाद पुलिस ने परीक्षार्थियों के लिए एक प्रइवेट बस का इंतजाम करवाया और परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्र भेजने में उनकी मदद की । लेकिन बस में अत्यधिक भीड़ हो जाने के कारण परीक्षर्थियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। कई परीक्षार्थी अपने परीक्षा स्थल तक भी नहीं पहुंच पाए। परीक्षार्थियों का कहना है कि मामले को निपटाने के लिए उन्हें बुरी तरह से पुलिस द्वारा बस में भरकर ले जाया गया। बस में मौजूद सवारियों की सीटों से बहुत अधिक संख्या में परीक्षार्थी थे।

Next Story
Top