Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गोहाना में अचानक रोक दी गई गई बाजरे की खरीद, भड़के किसान

वैबसाइट पर मैसेज आ रहा था कि अत्यधिक आवक के मद्देनजर बाजरे की आवक रोक दी गई है। आप को इस फसल की बिक्री के लिए बाद में सूचित किया जाएगा। इस मैसेज को देख कर किसान भड़क गए।

गोहाना में अचानक रोक दी गई गई बाजरे की खरीद, भड़के किसान
X

गोहाना में बाजरे की खरीद को अचानक बंद कर दिया गया है। शुक्रवार को जब किसान नई अनाजमंडी स्थित मार्किट कमेटी के कार्यालय में गेट पास के लिए पहुंचे, तब वैबसाइट पर मैसेज आ रहा था कि अत्यधिक आवक के मद्देनजर बाजरे की आवक रोक दी गई है। आप को इस फसल की बिक्री के लिए बाद में सूचित किया जाएगा। इस मैसेज को देख कर किसान भड़क गए।

गोहाना की नई अनाजमंडी प्रदेश की उन गिनी-चुनी अनाज मंडियों में शुमार है, जहां बाजरे की खरीद हो रही है। शहर की नई अनाजमंडी में बाजरा बेचने के लिए न केवल गोहाना बल्कि सोनीपत जिले के अन्य स्थानों से भी किसान बड़ी संख्या में रोज पहुंचते हैं। शुक्रवार को बाजरे की खरीद को अचानक बंद कर दिया गया।

इस की कोई पूर्व सूचना अधिकारियों के पास भी नहीं थी। बाजरे की खरीद थम जाने का खुलासा तब हुआ जब किसान बाजरे की बिक्री के लिए पहुंचे और उनका गेट पास ही नहीं बन सका। इस स्थिति से हतप्रभ किसान लघु सचिवालय गए जहां एसडीएम आशीष वशिष्ठ के उपलब्ध न होने पर किसानों ने तहसीलदार गुलाब सिंह से मिले।

गुलाब सिंह ने मार्किट कमेटी के सचिव परमजीत नांदल से संपर्क किया और नांदल से बात करने के लिए किसानों को भेज दिया। मार्किट कमेटी के कार्यालय में पहुंचने पर किसानों को वह मैसेज दिखा दिया गया जो वैबसाइट पर अपीयर हो रहा था। इस मैसेज में दर्ज था कि बाजरे की आवक अत्यधिक होने से इसकी खरीद रोक दी गई है।

आपको इस फसल की बिक्री के लिए बाद में सूचित किया जाएगा। बाजरा उत्पादक रमेश, प्रवीण, राजबीर, दिनेश और महेन्द्र ने सवाल किया कि वे अपने बाजरे को लेकर कहां जाएं। उन्होंने भाजपा-जजपा के गठबंधन की नई प्रदेश सरकार से बाजरे की खरीद को दोबारा से शुरू करने और पूरा बाजरा खरीदने की गुहार की।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story