Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट से शिक्षकों को मिली बड़ी राहत, नौकरी से नहीं हटाए जाएंगे

नौकरी से हटाए गए चंडीगढ़ के सैकड़ो शिक्षकों की सेवा पर संकट के बादल छाए हुए थे। पंजाब एंव हरियाणा के उच्च नयायलय ने अपना फैसला सुनाते हुए कहा शिक्षकों की सेवा बरकरार रहेगी।

पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट से शिक्षकों को मिली बड़ी राहत,बरकरार रहेगी सेवाहाईकोर्ट ने शिक्षकों को दी राहत

पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायलय ने चडीगढ़ के सैकड़ों शिक्षकों को एक बड़ी राहत दी है। चंडीगढ़ प्रशासन की ओर हटाए गए 850 शिक्षकों की सेवा समाप्त करने के आदेश को केंद्रीय प्रशासनिक ट्रिब्यूनल (कैट) ने खारिज कर दिया था।

चंडीगढ़ शिक्षा विभाग ने 2015 में सरकारी स्कूलों में 850 भर्ती किए गए जेबीटी और टीजीटी शिक्षकों की सेवा को समाप्त करने का आदेश दिया था। चंडीगढ़ प्रशासन ने इन शिक्षकों की सेवा को समाप्त करने का फैसला लिया था। शिक्षकों ने इस फैसले को केंद्रीय प्रशासनिक ट्रिब्यूनल में अपील की थी। कैट ने फैसले पर सुनवाई के बाद इस मामले को खारिज कर दिया था। इसके बाद चंडीगढ़ प्रशासन ने कैट के फैसले को पंजाब एंव हरियाणा हाईकोर्ट में चुनौती दे दी। हाईकोर्ट में सुनवाई के दौरान दोनों पक्षों को अपनी बात रखने का मौका दिया। दोनों पक्षों की बातों को सुनते हुए कैट के फैसले को बरकरार रखा। वैसे जिन अध्यापकों का नाम एफआइआर में है उन्हें कोई राहत नहीं मिलेगी।

भर्ती में धांधली की थी आशंका

चंडीगढ़ शिक्षा विभाग ने 2014 में लगभग 1150 शिक्षकों की भर्ती के लिए लिखित परीक्षा आयोजित की थी। मेरिट के आधार पर 2015 में शिक्षकों की नियुक्ति भी कर दी गई। बाद में पता चला कि पंजाब में शिक्षक भर्ती में धांधली हुई है। यह जानकारी धांधली में शामिल आरोपियों से पता चला है। आरोपियों ने 10 लाख प्रश्नपत्र बेच दिए थे। मामले में भर्ती हुए लगभग 40 लोगों पर एफआइआर दर्ज की गई है, जिसके तहत कई लोगों की गिरफ्तारी भी की गई है। हंलाकि केस में जांच पड़ताल अभी भी जारी है।

Next Story
Top