Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

प्रद्युम्न हत्याकांड: सीसीटीवी से हुआ बड़ा खुलासा, कैसे लड़ा रहा था मौत से जंग

सीसीटीवी फुटेज के मुताबिक, सिर्फ 10 मिनट के अंदर ही बस कंडेटर ने पूरी वारदात को अंजाम दिया।

प्रद्युम्न हत्याकांड: सीसीटीवी से हुआ बड़ा खुलासा, कैसे लड़ा रहा था मौत से जंग

गुरुग्राम के रयान इंटरनेशनल स्कूल में 7 साल के बच्चे प्रद्युम्न हत्याकांड को लेकर सीसीटीवी की फुटेज से बड़ा खुलासा हुआ है। कैसे प्रत्युम्न को बस कंडेकर अशोक ने चाकू की धार पर उसकी गर्दन काट दी थी। वहीं अब सीबीएसई ने बच्चों की सुरक्षा को लेकर दिशा निर्देश जारी किए हैं।

पुलिस ने गुरुवार को रयान स्कूल के टीचिंग स्टाफ से पूछताछ की तो वहीं सीसीटीवी फुटेज भी ली। सीसीटीवी फुटेज के मुताबिक, 8 सितंबर की सुबह बस कंडेक्टर 7 बजरक 40 मिनट पर स्कूल पहुंच गया था।

सबसे पहले अशोकर ने बस को स्कूल के कंपाउंड में खड़ा किया और फिर वो प्रद्युम्न को मारने के लिए स्कूल के मेन गेट से अंदर आया और सीधा टॉयलेट में पहुंच गया।

फुटेज से खुलासा हुआ है कि टॉयलेट में दोनों अंदर गए थे, लेकिन एक एक करके। इस फुटेज में कोई भी तीसरा शख्स टॉयलेट में नहीं आया था। ये घटना सुबह 7 बचकर 55 मिनट से 8 बजकर 5 मिनट के बीच हुई थी।

सुबह 7 बचकर 55 मिनट पर प्रद्युम्न स्कूल आता है। उसके पिता वरण ठाकुर उसे और उसकी बहन को स्कूल के मेनगेट पर छो़डते हैं। 8 बजे अशोक और प्रद्युम्न एक के बाद एक टॉयलेट में दाखिल होते हैं। 8 बजकर 10 मिनट पर अशोक टॉयलेट से बाहर आता दिखता है।

ये है मामला

गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में बीते शुक्रवार को दूसरी क्लास में पढ़ने वाला 7 साल के प्रद्युम्न के साथ कुकर्म की कोशिश करने के बाद उसकी गला रेतकर हत्या कर दी गई थी।

जब मामले ने तूल पकड़ा तो पुलिस ने बस कंडक्टर अशोक समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया, जिसके बाद अशोक ने अपना जुर्म कबूल कर लिया।

वहीं मृत छात्र के परिजनों का कहना है कि बस कंडक्टर ने प्रद्युम्न की हत्या नहीं की है, बस कंडक्टर का स्कूल के बाथरूम में क्या काम। परिजनों ने इस केस की सीबीआई जांच की मांग की है।

Next Story
Share it
Top