Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

फाइनेंसर को गोली मार पेट्रोल पंप मालिक ने दी जान, रुपए को लेकर हुआ था विवाद

अनिल ने बताया कि गाड़ी से उतरे ही थे कि सामने से कर्ण आया। उसने कहा कि वह दो मिनट में आया और अंदर कैबिन में चला गया। वहां से रिवाल्वर लेकर आया और आते ही कुलदीप पर गोलियां दाग दीं।

सांकेतिक फोटोसांकेतिक फोटो

चौधरीवाली गांव के पास पेट्रोल पंप पर रुपयों के लेन-देन को लेकर पंप मालिक ने फाइनेंसर सदलपुर वासी 22 वर्षीय कुलदीप गोदारा की गोली मारकर हत्या कर दी। वहीं उसके दोस्त राहुल पर तीन फायर किए। उसका शहर के एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। घटना के बाद पंप मालिक चौधरीवाली वासी कर्ण सिंह ने खुद को गोली मार कर सुसाइड कर लिया। आदमपुर थाना पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने फाइनेंसर के शव को पोस्टमार्टम के लिए नागरिक अस्पताल के शवगृह में रखवा दिया। पंप मालिक का शव देर रात तक आदमपुर में ही था।

रिवाल्वर किए फायर

सदलपुर वासी 23 वर्षीय कुलदीप आदमपुर में डीजे की दुकान चलाता था। इसके अलावा वह फाइनेंसर का काम भी करता था। बताया जाता है कि कुलदीप का चौधरीवाली वासी कर्ण सिंह गोदारा के साथ लेन देन था। बृहस्पवितार दोपहर को कुलदीप अपने साथियों ऋषि नगर वासी राहुल, अनिल और संजय के साथ कार से कुलदीप के पेट्रोल पंप पर गया। अनिल ने बताया कि गाड़ी से उतरे ही थे कि सामने से कर्ण आया। उसने कहा कि वह दो मिनट में आया और अंदर कैबिन में चला गया। वहां से रिवाल्वर लेकर आया और आते ही कुलदीप पर गोलियां दाग दीं।

बाद में खुद को मारी गोली

इस घटना के बाद पेट्रोल पंप मालिक कर्ण सिंह गोदारा पंप के पीछे की तरफ गए और खुद को लाइसेंसी रिवाल्वर से कनपटी पर गोली मार ली। उसकी भी मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस का कहना है कि अभी मामले की जांच की जा रही है। प्रारंभिक जांच में मामला रुपये के लेन देन का सामने आ रहा है।

कुछ दिन पहले हुआ था बेटे का जन्म

सदलपुर वासी कुलदीप गोदारा के घर कुछ दिन पहले ही बेटे का जन्म हुआ था। घर में खुशियों का माहौल था। दोपहर को अचानक आई खबर ने खुशियों को मातम में बदल दिया। मृतक कुलदीप इकलौता था। उनके पिता खेतीबाड़ी करते है।

Next Story
Top