Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लॉकडाउन में दुकानदारी ठप होने से युवक ने की आत्महत्या, पिछले माह लगा था दुष्कर्म का आरोप

सिविल लाइन थाना क्षेत्र में किराये के मकान में रहने वाले व्यक्ति ने फंदे से लटकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर दी। मिली जानकारी के अनुसार लॉकडाउन के चलते उसकी दुकानदारी नहीं चल रही थी। जिसके कारण वह मानसिक तौर से परेशान रहने लगा। जिसके चलते उसने फंदे से लटकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली।

लॉकडाउन में दुकानदारी ठप होने से युवक ने की आत्महत्या, पिछले माह लगा था दुष्कर्म का आरोप
X
फांसी (प्रतीकात्मक फोटो)

सिविल लाइन थाना क्षेत्र में किराये के मकान में रहने वाले व्यक्ति ने फंदे से लटकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर दी। मिली जानकारी के अनुसार लॉकडाउन के चलते उसकी दुकानदारी नहीं चल रही थी। जिसके कारण वह मानसिक तौर से परेशान रहने लगा। जिसके चलते उसने फंदे से लटकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। मृतक पर दुष्कर्म की वारदात में शामिल होने का आरोप था। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सुपुर्द कर दिया।

गांव कुलासी हाल में सेक्टर-12 निवासी मनोज उर्फ मोनू (42) शहर में कढ़ी-चावल बेचने का काम करता था। वह किराए के मकान पर रहता था। सोमवार को कमरे के अंदर उसका शव फंदे से लटका हुआ मिला। मकान मालिक ने मामले की सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने वारदात स्थल से नमूने एकत्रित किये।

पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर नागरिक अस्पताल में भिजवाया। परिजनों ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान मोनू की दुकानदारी नहीं चल रही थी। जिसके कारण वह मानसिक तौर से परेशान रहता था। जिसके चलते उसे फंदे से लटकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। पुलिस ने मृतक के पिता के बयान पर भादसं की धारा-174 के तहत कार्यवाही अमल में लाई हैं।

दुष्कर्म की वारदात में था आरोपित

एक किशोरी ने 15 मई को पुलिस से शिकायत देकर बताया कि उसे तीन साल के अंदर कई बाद अनैतिक कार्य के साथ-साथ दुष्कर्म हुआ हैं। पीडि़ता के साथ आई महिला ने बताया कि करीब चार पहले यूपी की रहने वाली किशोरी अपनी मां के साथ ओडिशा गई थी। वहां से उसे यूपी की रहने वाली एक महिला अपने साथ ले आई। आरोप है कि उस महिला ने उसे अपनी रिश्तेदारी में सोनीपत भेज दिया। आरोप है कि यहां पर उसके साथ तीन-चार लोगों ने दुष्कर्म किया।

उसे बंधक बनाकर रखा गया। साथ ही उसे अन्य लोगों के पास भेजकर दुष्कर्म कराया गया। पीडि़ता ने बताया कि हनुमान नगर निवासी प्रेम ने उसके साथ जबरदस्ती शादी कर दुष्कर्म किया। वह किसी तरह आरोपियों के चंगुल से निकल भागी। उसने मामले से युवती को अवगत कराया। आरोप है कि किशोरी के साथ शहर, सदर थाना व सिविल लाइन थाना क्षेत्र में रहने वाले आरोपितों ने दुष्कर्म किया। इसमें एक अन्य महिला ने भी उनका साथ दिया। पुलिस ने पीडि़ता की शिकायत पर दो महिलाओं समेत आठ लोगों पर मुकदमा दर्ज किया था। मामले में मनोज उर्फ मोनू भी शामिल था।

कमरे में व्यक्ति फंदे से लटका होने की सूचना मिली थी। मौके पर जाकर शव को कब्जे में लेकर नागरिक अस्पताल में भिजवाया। मृतक के पिता के बयान पर शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सुपुर्द कर दिया। व्यक्ति कढ़ी-चावल बेचने का काम करता था। वहीं उसपर दुष्कर्म की वारदात में शामिल होने का आरोप भी था।

और पढ़ें
Next Story