Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पीएम मोदी की योजना से बहादुरगढ़ में हुआ बड़ा बदलाव, अब सरल केंद्र में पटवारी देंगे नकल

अब सरल केंद्र में तीन पटवारियों को नियुक्त किया गया है जो वेब जीआईएस सॉफ्टवेयर से हाथोंहाथ जमाबंदी नकल लेकर निर्धारित फीस में ही लोगों को देंगे। इससे लोगों का समय और पैसे दोनों बचेंगे।

अब सरल केंद्र में पटवारी देंगे नकल
X
सरल सेण्टर (प्रतीकात्मक फोटो)
प्रधानमंत्री की डिजिटल योजना पर पटवारी की मनमर्जी से पानी फिर रहा था। लेकिन हरियाणा के बहादुरगढ़ के नए तहसीलदार ने कार्यभार संभालते ही जमाबंदी नकल देने की कठिन प्रक्रिया को सरल बना दिया है। अब सरल केंद्र में तीन पटवारियों को नियुक्त किया है। जो वेब जीआईएस सॉफ्टवेयर से हाथोंहाथ जमाबंदी नकल लेकर निर्धारित फीस में ही लोगों को देंगे। इससे लोगों का समय और पैसे दोनों बचेंगे।

बता दें कि सॉफ्टवेयर से अनजान लोग जमाबंदी व इंतकाल आदि की नकल लेने के लिए पटवारियों के पीछे चक्कर लगाते रहते थे। कई दिन के बाद जेब ढीली करने पर ही नकल उनके हाथ में आती थी। इस प्रक्रिया में जमींदार के कम से कम 200 से 250 रुपए खर्च हो जाते थे और तय समयावधि में नकल भी नहीं मिल पाती थी। इस पुरानी परिपाटी में किसानों की भागदौड़ और पटवारियों की आमदनी ज्यादा है।

लेकिन नए तहसीलदार कनब लाकड़ा ने बहादुरगढ़ तहसील में कार्यभार संभालते ही लघु सचिवालय के भूतल पर बने सरल केंद्र में ही तीन पटवारियों की सीट तय कर दी है। यहां बैठने वाले पटवारी अब लोगों को हाथोंहाथ कंप्यूटर से जमाबंदी की नकल प्रमाणीकरण के साथ निर्धारित फीस लेकर उपलब्ध करवाएगा। इससे लोगों को तीसरी-चौथी मंजिल तक की कई बार की भागदौड़ व अतिरिक्त भुगतान से मुक्ति मिलेगी।

लोगों की सुविधा के मद्देनजर तीन पटवारी अब सरल केंद्र में बैठेंगे। वे लोगों को निर्धारित फीस लेकर तय समयावधि में जमाबंदी की नकल आदि सुलभता से उपलब्ध करवाएंगे।


Next Story