Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ट्रेजरी में शिक्षा विभाग के वेतन के अलावा कोई भी बिल नही किये जा रहे पास

अध्यापकों ने खजाना कार्यालय के अडियल रवैये पर प्रकट किया रोष।

परीक्षा में फेल करने की धमकी देकर करते थे यौन शोषण, 24 छात्राओं का आरोप
X
शिक्षकों द्वारा यौन उत्पीड़न(फाइल फोटो)
हरिभूमि न्यूज. यमुनानगर। स्कूल अध्यापक संघ के सदस्यों की बैठक प्रदीप सरीन की अध्यक्षता में आयोजित हुई। जिसमें ्रखजाना कार्यालय के अडियल रवैये पर रोष प्रकट किया गया।

संघ के सदस्य प्रदीप सरीन व यशपाल ढांडा ने कहा कि ट्रेजरी में शिक्षा विभाग के वेतन के अलावा कोई भी बिल पास नही किये जा रहे। जिसकी वजह में खजाना कार्यालय के कर्मचारी व अधिकारी सरकारी आदेशों का हवाला दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग के डीडीओ वेतन के अलावा विभिन्न मदो के बिल्स को खजाना कार्यालय में लेकर जाते हैं तो वहां उन्हें यह कहकर टरका दिया जाता है कि उन्हें सरकारी आदेश हैं वेतन के अलावा कोई भी बिल पास नहीं किया जाएगा। जबकि बहुत से बिल 31 मार्च से पहले पास होने जरूरी होते हैं नहीं तो वह राशि निरस्त हो जाती है। इनमें पार्ट टाइम स्वीपर का वेतन, बच्चों के खेल के सामान के बिल, सौंदर्यकरण प्रोत्साहन राशि के बिल, चिकित्सा प्रतिपूर्ति बिल व एलटीसी के बिल समेत बहुत से बिलों को खजाना कर्मचारियों ने पास करने से इंकार कर दिया है। जिसका कि कारण डीडीओ व अध्यापकों को समझ नहीं आ रहा है। उन्होंने कहा कि यदि जल्द ही बिल पास नहीं किए गए तो अध्यापक सड़कों पर आकर प्रदर्शन करेंगे। मौके पर अध्यापक नेता रमेश कुमार, साहिब सिंह, राजकुमार, सुरिंद्र सिंह, मनोज सहरावत, निरंजन सिंह, अनिल कांबोज, रविंद्र कांबोज, सुखदेव, रमेश कुमार, जगदीप कालिया, साहिब सिंह चौहान, रविंद्र राणा, गुरमीत सिंह, नरेंद्र लाड़ी, विनोद जिंदल, राजेश छछरौली, हरजिंद्र, संजीव शर्मा व कर्मबीर आदि मौजूद थे।

Next Story