Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हिसार में भारी मात्रा में नीलगाय का मांस बरामद, दो बंदूक भी मिलीं, जांच जारी

आशंका जताई जा रही है कि इतनी भारी मात्रा में मांस खाया नहीं जा सकता। कहीं मांस की तस्‍करी तो नहीं की जा रही थी।

हिसार में भारी मात्रा में नीलगाय का मांस बरामद, दो बंदूक भी मिलीं, जांच जारी
X
नीलगाय का मांस बरामद

हरियाणा में हिसार के ढंढूर में वाइल्‍ड लाइफ की टीम ने छापेमारी की है। इस छापेमारी में टीम को भारी मात्रा में नीलगाय का मांस मिला है। साथ ही दो बंदुकें भी बरामद की गई हैं। लेकिन शिकारी मौका देखकर भागने में सफल हो हए।

जैसे ही इस मामले की जानकारी गांव के लोगों को लगी, तो भीड़ जुटनी शुरू हो गई। वन्य जीव अधिकारी जांच कर रहे हैं। मिली जानकारी के अनुसार, शिकारियों के घर से पका हुआ और कच्चा मांस भी मिला है। अधिकारी जांच कर रहे हैं कि मीट किस जीव का है।

शुरुआती जांच में मालूम होता है कि मांस नीलगाय का ही है। आरोपी शिकारी बावरी, सोनू बावरी व संगम बावरी निवासी गांव दुर्जनपुर के बताए जा रहे हैं। फिलहाल आरोपी फरार हैं। उनकी गिरफ्तारी होने के बाद पूरा मामला साफ हो जाएगा।

गुप्‍त सूचना के आधार पर की गई छापेमारी

आशंका जताई जा रही है कि इतनी भारी मात्रा में मांस खाया नहीं जा सकता। कहीं मांस की तस्‍करी तो नहीं की जा रही थी। वही मौके पर बंदूक का मिलना भी इस ओर इशारा कर रहा है कि यह सिलसिला लंबे समय से जारी था।

वहीं वन्‍य जीव विभाग के अधिकारियों का भी यही कहना है कि मांस की तस्‍करी की जा रही थी। एक गुप्‍त सूचना के आधार पर ही छापेमारी की गई थी। आपको बता दें कि भारत में नील गाय की हत्या करना हत्‍या करना जुर्म है। आमतौर पर खेतों में नील गाय देखने को मिल जाती हैं। वर्तमान समय में

इनकी संख्या में गिरावट हो रही है। ऐसे में नील गाय की हत्‍या कर उसका मांस तस्‍करी करना और भी बड़ा क्राइम है। मांस की तस्‍करी कहां की जा रही थी यह बड़ा सवाल है। अंदाजा लगाया जा रहा है कि यह कोई बड़ा गिरोह हो सकता है जो मांस तस्‍करी से पैसे कमाने में जुटा था।

Next Story