Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

एनएचएम कर्मचारियों को सरकार ने दिया तीन माह का वेतन, ठेका कर्मचारियों के भुगतान में देरी

एनएचएम मिशन डारेक्टर द्वारा जारी 33.83 करोड़ का बजट आते ही अधिकांश जिलों में कार्यरत एनएचएम कर्मचारियों के खातों में जनवरी, फरवरी औऱ मार्च महीने का वेतन डाल दिया गया है।

एनएचएम कर्मचारियों को सरकार ने दिया तीन माह का वेतन, ठेका कर्मचारियों के भुगतान में देरी

चंड़ीगढ़। सर्व कर्मचारी संघ द्वारा लगातार उठाए जा रहे मामले के कारण नेशनल हेल्थ मिशन के 14 हजार हेल्थ कर्मचारियों को बृहस्पतिवार को तीन माह का बकाया वेतन मिल गया है। एनएचएम मिशन डारेक्टर द्वारा जारी 33.83 करोड़ का बजट आते ही अधिकांश जिलों में कार्यरत एनएचएम कर्मचारियों के खातों में जनवरी, फरवरी औऱ मार्च महीने का वेतन डाल दिया गया है।

लेकिन सरकार के वायदे के बावजूद हेल्थ विभाग में ठेके पर लगे 10 हजार से अधिक ठेका कर्मचारियों को बकाया तीन महीने का वेतन अभी तक नहीं मिला है। जिसको लेकर ठेके पर लगे सिक्योरटी गार्ड, सफाई कर्मचारी, वार्ड सर्वेंट, लिफ्ट मैन, इलेक्ट्रिशियन,प्लंबर,धौबी,माली, चपड़ासी आदि पदों पर लगे कर्मचारियों में काफी आक्रोश है। उल्लेखनीय है कि बकाया वेतन के इस मामले को नेता प्रतिपक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने भी उठाया था।

संघ हरियाणा प्रदेशाध्यक्ष सुभाष लांबा व महासचिव सतीश सेठी ने बताया की एनएचएम कर्मचारी संघ हरियाणा और स्वास्थ्य ठेका कर्मचारी संघ यूनियन हरियाणा ने पत्र लिखकर एसकेएस को बताया था की एनएचएम कर्मचारियों व ठेका कर्मचारियों को तीन महीने से वेतन तक नहीं मिला है। इसके बाद सरकार ने मामले की गंभीरता को समझते हुए बजट जारी किया।

संघ हरियाणा प्रदेशाध्यक्ष सुभाष लांबा और सीटू के महासचिव जयभगवान ने मुख्यमंत्री व स्वास्थ्य मंत्री से बिना किसी देरी के अपनी जान जोखिम में डालते हुए मामूली वेतन पर कार्यरत ठेका कर्मचारियों के बकाया वेतन का भी शीघ्र भुगतान करने की मांग की। प्रदेशाध्यक्ष सुभाष लांबा ने बताया कि नए सेवा नियमों में एनएचएम कर्मचारियों को वेतन टुकडों में दिया जाता है। जो कभी भी समय पर नहीं मिलता है। उन्होंने भविष्य में टुकड़ों में वेतन देने की बजाय एकमुश्त वेतन देना सुनिश्चित करने की मांग की।

Next Story
Top