Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भतीजे ने की थी चाचा की हत्या, जमीन के लालच में वारदात को दिया अंजाम

करनाल में चाचा की हत्या के मामले में पुलिस ने बड़ा खुलासा करते हुए कहा कि मृतक के भतीजे ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर पूरी वारदात की साजिश रची थी।

हरियाणा: पैसे के लेनदेन को लेकर युवक के सिर पर बरसाई ईंटें, पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भेजा शव
X
क्राइम न्यूज

करनाल। भतीजे ने दोस्त साथ मिलकर अपने चाचा की हत्या की थी। पुलिस तफतीश में खुलासा हुआ है कि भतीजे ने अपने चाचा की जमीन को हड़पने के लिए वारदात की थी। विदित है 11 फरवरी 2020 को दिन दहाड़े कुछ अज्ञात बदमाशों द्वारा गांव घोघड़ीपुर निवासी बिजेन्द्र सिंह मान को उसके फर्महाउस के सामने ही गोलियों से भून दिया था। जिस संबंध में जिला पुलिस द्वारा मृतक के भतीजे रणदीप मान की शिकायत पर थाना मधुबन में मुकदमा दर्ज किया गया था।

पुलिस की क्राइम यूनिट सीआईए-1 टीम के इंचार्ज निरीक्षक दीपेन्द्र राणा ने उप निरीक्षक नरेश कुमार के नेतृत्व में एक टीम गठित की थी। पूछताछ में हर बार पुलिस के शक की सुई मृतक के भतीजे रणदीप मान की ओर घूमी। जिस पर 16 फरवरी को पुलिस टीम द्वारा उसे हिरासत में लेकर गहनता से पूछताछ की गई।

दौराने पूछताछ उसने बताया कि उसके चाचा की शादी नहीं हुई थी और हमें उसके हिस्से की जमीन पाने का लालच था व यह जमीन उसके मरने के उपरांत ही हमारी हो सकती थी। लेकिन उसके चाचा ने पहले भी अपने हिस्से से काफ जमीन बेच दी थी और अब भी वह उसमें से जमीन बेचना चाहता था।

उसने कई बार अपने चाचा को जमीन बेचने से रोकने का प्रयास किया, लेकिन उसका चाचा उनकी कोई बात नहीं सुनता था। जिसके चलते अपने दोस्त विषू मान वासी घोघड़ीपुर के साथ मिलकर उसकी हत्या की साजिश रच डाली। 11 फरवरी को अपनी योजनानुसार चाचा बिजेन्द्र सिंह मान की हत्या की वारदात को अंजाम दिया व अपनी गाड़ी में सवार होकर वहां से फ रार हो गए।

जानकारी देते हुए उप पुलिस अधीक्षक मुख्यालय विरेन्द्र सिंह ने बताया कि कुछ दिन पहले ही अज्ञात बदमाशों द्वारा घोघड़ीपुर निवासी एक व्यक्ति बिजेन्द्र सिंह मान की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी, जिसपर पुलिस द्वारा मामला दर्जकर मामले की जांच की गई और दौराने जांच कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस टीम ने मामले में मुख्य आरोपित रणदीप मान को काबू कर लिया है। पुलिस टीम द्वारा आरोपी के कब्जे से वारदात के बाद फ रार होने के लिए प्रयोग की गई कार बरामद कर ली गई है।

उन्होंने बताया कि वारदात में आरोपी का एक अन्य साथी विशु मान पुत्र तेजबीर मान वासी घोघड़ीपुर भी शामिल था, जिसे भी बहुत जल्द गिफ्तार किया जाएगा। आज आरोपी को अदालत के सामने पेशकर पुलिस रिमांड हासिल किया जाएगा व दौराने रिमांड आरोपी के दूसरे साथी व वारदात में प्रयोग किए गए हथियार के संबंध में पूछताछ की जाएगी।

विरेन्द्र सिंह ने बताया कि आरोपी विषु मान के खिलाफ कई जिलों में पहले भी हत्या, लूट, चोरी व स्नैचिंग के कई मामले दर्ज हैं। हाल ही में यमुनानगर पुलिस को भी एक हत्या के मामले में उसकी तलाश है।

Next Story