Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

इमाम कहता रहा हां मैं आतंकियों और गद्दारों के खिलाफ हूं, तब भी मारते रहे मुझे

पीड़ित इमाम उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले के रहने वाले हैं। वह हिसार पहली बार आए थे।

इमाम कहता रहा हां मैं आतंकियों और गद्दारों के खिलाफ हूं, तब भी मारते रहे मुझे

हरियाणा के हिसार की एक मस्जिद के इमाम हारून कासनी की बजरंग दल के कथित कार्यकर्ता द्वारा पिटाई का वीडियो मीडिया सामने आने के बाद राजनीति गरमा गई है। हारून ने एक अखबार से बातचीत करते हुए बताया कि वह हमलावरों को लगातार ये समझाते रहे कि वह आतंकवादियों के विरोधी हैं लेकिन किसी ने उनकी नहीं सुनी। हारून ने कहा, "मैं उन्हें समझाता रहा कि मैं आतंकवादियों और देश के गद्दारों के खिलाफ हूं। लेकिन उन्होंने मेरी नहीं सुनी और मस्जिद से बाहर घसीट कर मुझे थप्पड़ मारे।"

हारून उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले के रहने वाले हैं। वह हिसार पहली बार आए थे। शाम साढ़े पांच बजे के करीब वह स्थानीय जामा मस्जिद में नमाज पढ़ने गए थे। इसी वक्त बजरंग दल के कार्यकर्ता ने उनकी पिटाई कर दी। पुलिस के अनुसार कपित वत्स नामक शख्स के नेतृत्व में अमरनाथ यात्रियों पर हमले के विरोध में निकाले जा रहे रैली के दौरान ये घटना हुई।

30 वर्षीय अनिल भी विरोध प्रदर्शन में शामिल था। पुलिस के अनुसार पूछताछ में उसने हारून की पिटाई की बात स्वीकार की है। हारून ने बताया, "बजरंग दल वाले मुझे घसीट कर बाहर ले गए और मुझसे 'जय श्री राम' और 'भारत माता की जय' जैसे नारे लगाने के लिए कहने लगे। ये मेरे मजहबी यकीन का मुद्दा था। मैं डरा हुआ था और चुपचाप खड़ा था। उन्हें मुझे लगातार थप्पड़ मारे।" हारून के अनुसार वह मौलवी हैं और हिसार आम बेचने आए थे।

Next Story
Share it
Top