Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सोनीपत में तीन लोगों का मर्डर, घर से भगाकर ले जाने वाले ने नाबालिग की चाकूओं से गोदकर की हत्या

कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए केंद्र सरकार ने लॉकडाउन की घोषणा कर रखी हैं। लॉकडाउन लगे एक महीना बीत चुका हैं। वहीं जिले में आपसी रजिंश के चलते दिन-दहाड़े युवक की गोली मारकर हत्या करने व प्रेम प्रसंग के चलते नाबालिग की चाकू से गोदकर हत्या करने सहित तीन मामले सामने आ चुके हैं।

सोनीपत में तीन लोगों का मर्डर, घर से भगाकर ले जाने वाले ने नाबालिग की चाकूओं से गोदकर की हत्या

सोनीपत। कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए केंद्र सरकार ने लॉकडाउन की घोषणा कर रखी हैं। लॉकडाउन लगे एक महीना बीत चुका हैं। वहीं जिले में आपसी रजिंश के चलते दिन-दहाड़े युवक की गोली मारकर हत्या करने व प्रेम प्रसंग के चलते नाबालिग की चाकू से गोदकर हत्या करने सहित तीन मामले सामने आ चुके हैं। महज 12 घंटे के अंदर तीन हत्याओं से जिले भर में लोगों के जहन में दहशत का माहौल बना हुआ हैं। लॉकडाउन के दौरान बरती जा रही सख्ती को धता बताकर वारदातों को सरेआम अंजाम दिया गया हैं। तीनों मामलों में पुलिस तमाशबीन बनी हुई हैं। वहीं जल्द हत्यारोपितों को गिरफ्तार करने का राग अलाप रही हैं।

पहला मामला

घर से भगाकर ले गया, उसके बाद चाकू मारकर की हत्या

गोहाना शहर थाना क्षेत्र में सरेआम चौक पर नाबालिग लड़की को चाकूओं व सूएं से गोदकर मौत के घाट उतार दिया। मृतका तमन्ना महज (16) वर्ष की थी। जिसे खटीक बस्ती निवासी हन्नी करीब पांच माह पहले विष्णु नगर से भाग ले गया था। तमन्ना पांच माह से हन्नी के साथ थी। तमन्ना की कई बार मोबाइल पर अपने परिजनों से बातचीत भी हुई। तमन्ना परिजनों को बताती थी कि हन्नी व उसके परिजन उसे मारपीट करते हैं और जान से मारने की धमकी देते हैं।

शुक्रवार सुबह तमन्ना किसी तरह से अपने घर पहुंच गई। दोपहर करीब एक बजे तमन्ना अपनी मां सीमा के साथ हन्नी के खिलाफ शहर थाना में शिकायत देने के लिए घर से निकली। जब मां-बेटी शहर में फव्वारा चौक के निकट पहुंची तो हन्नी चाकू और एक सुआं लेकर दौड़ता हुआ आया। एक के बाद एक चाकू व सूएं से वार कर तमन्ना को लहू-लहुान कर भाग गया। जिसे अस्पताल में चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया।

दूसरा मामला-

दोस्त के भाई की जन्मदिन पार्टी में आना पड़ा मंहगा, गोली मारकर हत्या

बता दें कि गांव जटवाड़ा निवासी मनीष व जाहरी निवासी प्रविंद्र उर्फ भोलू (22) शुक्रवार देर रात अपने साथी की कार लेकर कुराड़ रोड स्थित शराब ठेके पर बीयर लेने गए थे। मनीष ने पुलिस को बताया कि जब वह ठेके पर पहुंचे तो उसे पता लगा कि वह पर्स घर पर ही छोड़ आया है। जिस पर उसने अपने दोस्त मयूर विहार निवासी नितिन को फोन कर बुला लिया। इसी बीच वह कार को शराब ठेके पर खड़ी कर देवडू चौक की तरफ पैदल ही घूमने आ गए। मनीष ने बताया कि इसी बीच देवडू रोड का रहने वाला कुनाल अपने साथी के साथ कार में सवार होकर आया। उनके साथ उसकी पुरानी रंजिश है।

कुनाल ने धमकी दी कि उसे श्याम नगर में गोली चलाने का जवाब देते हैं। इसी बीच कुनाल का दोस्त सींक पाथरी का सुमित उर्फ काला व तिहाड़ खुर्द का रोहित व सोनू भी स्कार्पियो में सवार होकर आ गए। उन्होंने उन पर गोली चला दी। मनीष ने बताया कि एक गोली उसके मुंह पर लगी। जिसके बाद वह शोर मचाता हुआ ठेके की तरफ भाग गया। इसी बीच उन्होंने प्रविंद्र को गोली मार दी। जिसकी मौके पर ही मौत हो गई।

तीसरा मामला- रजिंश के चलते युवक की गोली मारकर हत्या

खरखौदा थाना क्षेत्र में सरेआम युवक की गोली मारकर हत्या करने दी। जिसके बाद हमलावर वारदात को अंजाम देकर फरार हो गये। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार दोनों पक्षों में पहले कहासुनी हो चुकी थी। जिसकी रजिंश के चलते वारदात को अंजाम दिया गया हैं। वारदात में गांव हलालपुर निवासी राजेश (35) की मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस ने मृतक के भाई के बयान पर गांव के ही दो युवकों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया हैं। वारदात को अंजाम देकर फरार हुए हत्यारोपित गली में लगे सीसीटीवी में कैद हो गये।

लॉकडाउन में सुरक्षा की उड़ी धज्जियां

वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए एक माह से लॉकडाउन चल रहा हैं। जिसके चलते हर चौक-चौराहे पर नाकेबंदी कर पुलिस कर्मी सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम होने के दावे करते हैं। पिछले 12 घंटे में हुई तीन हत्या की वारदातों ने पुलिस की सुरक्षा प्रणाली में सवाल खड़े कर दिये। दिन-दहाड़े गांव में युवक की गोली मारकर हत्या करने व चौक पर चाकूओं से गोदकर नाबालिग की हत्या करने की वारदात पुलिस की तैनात को सवालों के घेरे में खड़ा कर रही हैं। एक के बाद तीन वारदातों से जिले में लोगों असुरिक्षत महसूस करने लगे हैं। कोरोना वायरस से संक्रमित होने के खतरा कम व बदमाशों से ज्यादा भय सताने लगा हैं।

जिले में पिछले 12 घंटे के अंदर अलग-अलग स्थानों पर तीन हत्याओं की वारदात सामने आ चुकी हैं। ऐसे में हत्यारोपितों को पकड़ने के लिए पुलिस टीमें संदिग्ध ठिकानों पर दबिश दे रही हैं। आपसी रजिंश के चलते वारदातों को अंजाम देने के आरोप लगे हैं। मामलों की गंभीरता से जांच की जा रही हैं। जल्द से जल्द हत्यारोपित पुलिस गिरफ्त में होगें।

Next Story
Top