Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

हरियाणा : दतौड़ रोड पर बदमाशों और पुलिस में फायरिंग, तीन बड़े अपराधी हिरासत में

पुलिस ने तीनों युवकों को हथियारों सहित गिरफ्तार कर लिया। आरोपितों से 4 पिस्तौल, 9 कारतूस व एक खाली खोल बरामद हुआ है।

हरियाणा : दतौड़ रोड पर बदमाशों और पुलिस में फायरिंग, तीन बड़े अपराधी हिरासत में

सीआईए दो और बदमाशों के बीच शनिवार की रात को मुठभेड़ हो गई। बदमाशों ने पुलिस पर फायर भी किया। दोनों तरफ से हुई फायरिंग के बाद पुलिस ने तीनों युवकों को हथियारों सहित काबू कर लिया। आरोपितों से 4 पिस्तौल, 9 कारतूस व एक खाली खोल बरामद हुआ है। आरोपित हत्या के प्रयास के चार मामले में वांछित है और फरार चल रहे थे। कई मामलों में वह संलिप्त रहे हैं। आरोेपितों काे कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया है।

सीआई दो के प्रभारी आजाद सिंह ने बताया कि एसआई योगेन्द्र सिंह के नेतृत्व में टीम गश्त में मौजूद थी। इस दौरान सूचना मिली कि गम्भीर मामलों में वांछित युवक हथियारों सहित दतौड़ रोड पर एक कमरे में मौजूद हैं। वह किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की योजना बना रहे हैं। योगेंद्र सिंह ने सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचकर छापेमारी की।

युवकों ने भागने का प्रयास किया और इस दौरान एक युवक ने सीआईए टीम पर फायर कर दिया। सीआईए टीम ने फायर से बचाव किया। योगेंद्र सिंह ने हवाई फायर किया। सीआईए टीम ने तत्परता, सूझबूझ से काम करते हुए करते हुए तीनों युवकों को हथियारों सहित काबू किया। पूछताछ पर युवकों की पहचान गांव बिधल (जिला सोनीपत) निवासी तरूण, गांव समचाना (रोहतक) निवासी बिजेन्द्र उर्फ विजय व गांव बिधल (सोनीपत) निवासी दीपक के रूप में हुई है।

वारदात में तरुण ने सीआईए टीम पर फायर किया था। तलाशी लेने पर तरुण से 2 देशी पिस्तौल, 5 कारतूस, एक खाली खोल, बिजेंद्र से एक देशी पिस्तौल व 2 कारतूस व दीपक से 1 देशी पिस्तौल व 2 कारतूस बरामद हुए हैं। युवकों के खिलाफ थाना सांपला में केस दर्ज किया गया है।

प्रारंभिक जांच में सामने आया कि तीनों का आपराधिक रिकाॅर्ड रहा है और आरोपित कई संगीन वारदातों में फरार चल रहे हैं। तरूण के खिलाफ हत्या, हत्या का प्रयास, चोरी, लड़ाई-झगड़ा, अवैध हथियार रखने के करीब एक दर्जन से ज्यादा मामले सोनीपत व रोहतक में दर्ज हैं। बिजेन्द्र के खिलाफ हत्या का प्रयास, लड़ाई-झगड़े के करीब आधा दर्जन मामले दर्ज हैं।

तरुण द्वारा की गई वारदात-

1. सितम्बर 2013 में तरुण ने अपने साथियों रविंद्र, सोमबीर व देवेंद्र के साथ मिलकर गोहाना बस अड्डा से एक व्यक्ति का अपहरण किया था।

2. जनवरी 2014 में तरुण ने अपने साथियों रणजीत, रोहित, कर्ण व दीपक के साथ मिलकर राजू निवासी रुड़की को लाठी डंडों से पीटा था।

3. फरवरी 2014 में तरुण ने अपने साथियों रविंद्र, सोमबीर, दीपक, संदीप, पवन व विनोद के साथ मिलकर पिनाना निवासी एक युवक को चोटें मारी थी।

4. सन् 2014 में तरुण अवैध असला सहित दो बार थाना सदर गोहाना में पकड़ा गया था।

5. 2015 में तरुण ने अपने साथी रविंद्र के साथ मिलकर बस अड्डे से स्टेडियम रोड पर होटल मालिक के साथ लेनदेन के चलते मार पिटाई की थी।

6. अप्रैल 2015 में तरुण ने अपने साथी रविंद्र उर्फ मोनू के साथ मिलकर हरि निवासी बीधल को जान से मारने की धमकी दी थी। 5 दिन बाद बीधल गांव के ठेके पर हरी पर फायर किया था, जिसमें वह बच गया था।

7. नवम्बर 2015 में तरुण ने रणजीत, पिकूं, प्रवीन कच्छी, पवन, शमशेर, सुरेन्द्र, अंकुश व दिनेश के साथ मिलकर पवन व विक्की निवासी पिनाना की गोली मारकर हत्या की थी।

8. 2018 में तरुण अवैध हथियार सहित थाना सदर गोहाना में पकड़ा गया था।

दीपक द्वारा की गई वारदात--

1. 2018 में दीपक ने अपने साथियों नीरज, सुमित व दिनेश के साथ मिलकर नवीन गार्डन सोनीपत में निजी बैंक के एटीएम से रुपये चोरी करते हुए मौके पर पकड़े गए थे।

बिजेंद्र द्वारा की गई वारदात--

1. 2015 में बिजेंद्र ने अपने साथियों सचिन, आशीष, अशोक, सिकन्दर, सोमबीर व अन्य के साथ मिलकर अनिल निवासी सलारपुर माजरा को गोली मारी थी। जिसमें अनिल बच गया था।

2. 2016 में बिजेद्र अवैध पिस्तौल सहित सोनीपत पुलिस द्वारा पकड़ा गया था।

3. 2017 में बिजेंद्र ने अपने साथियों टीनू, सुमित व अंकित के साथ मिलकर कृष्ण नीवासी रिढाऊ को गोली मारी थी। जिसमें कृष्ण बच गया था।

इन वारदातोें में हुए खुलासे-

1. अगस्त 2019 में तरुण, दीपक व बिजेंद्र ने अपने साथियों सुल्तान, आशीष व जितेंद्र के साथ मिलकर मोहित उर्फ शेरा निवासी बीघल के घर पर हवाई फायर किया था। उसके बाद शेरा के ठेके पर भी हवाई फायर किया था।

2. सितम्बर 2019 में दीपक ने अपने साथी विशाल, सुधीर, नितिन व सुल्तान के साथ मिलकर गन्नौर में शिवा ढाबा पर हवाई फायर किया था।

3. अगस्त 2019 में बिजेंद्र ने अपने साथियों जयदीप, चांदा, टीनू, तरुण व सुमित के साथ मिलकर बटाना गांव में हवाई फायर किया था।

4. अक्तूबर 2019 में दीपक ने अपने साथी सुल्तान निवासी सुनारिया कलां के साथ मिलकर गांव बीधल में मोनू के घर पर हवाई फायर किया था।

Next Story
Top