Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

शादी का झांसा देकर नाबालिग को भगाया था, अदालत ने सुनायी कड़ी सजा

सोनीपत में नाबालिग को भगाकर शादी करने और बलात्कार करने के मामले में न्यायालय ने कड़ी सजा सुनायी है। आरोपी को दस साल की सला दी गई है।

शादी का झांसा देकर नाबालिग को भगाया था, अदालत ने सुनायी कड़ी सजानाबालिग को शादी का झांसा देकर भगाने पर दस साल की कैद (प्रतीकात्मक फोटो)

सोनीपत के सदर थाना क्षेत्र में नाबालिग लड़की को शादी का झांसा देकर भगाकर ले जाने व उसके साथ दुष्कर्म करने की वारदात को अंजाम देने के आरोपित को अदालत ने दोषी करार दिया है। अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश डीआर चालिया की अदालत ने दोषी को दस साल कैद व दस हजार रुपये जुर्माना लगाया है। जुर्माना अदा न करने पर दोषी को एक साल अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी।

एक युवक ने पुलिस सदर थाना पुलिस ने शिकायत देकर बताया कि उसकी छोटी बहन 12वीं कक्षा की छात्रा है। वह घर से प्रैक्टिल बनवाने के लिए गई थी। देर शाम तक वापिस नहीं लौटी। अपने स्तर पर उसकी तलाश की। जांच में पता लगा कि उसकी बहन को मोहित उर्फ गुल्लू निवासी कुमासपुर शादी का झांसा देकर भगा ले गया है। मामले की शिकायत पुलिस को दी। पुलिस ने आरोपित के खिलाफ अपहरण का मुकदमा दर्ज कर लिया था। जांच अधिकारी एएसआई दर्शना ने मामले में कार्यवाही करते हुए आरोपित व लड़की को गुरूग्राम से बरामद किया था। लड़की का मेडिकल करवाकर अदालत में बयान अदालत में दर्ज करवाये। उसके बाद आरोपित को अदालत में पेश किया। जहां से उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। पुलिस ने वारदात में प्रयुक्त स्कूटी को भी बरामद कर लिया था। बुधवार को मामले में सुनवाई करते हुए एएसजे डीआर चालिया की अदालत(फास्ट कोर्ट) ने आरोपित मोहित को दोषी करार देते हुए दस साल कैद व दस हजार रुपये का जुर्माना लगाया है। जुर्माना अदा न करने पर दोषी को एक साल की अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी।

Next Story
Top