Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मौसम की जानकारी : घनी धुंध तथा कोहरे ने लगायी रफ्तार पर ब्रेक

मौसम की जानकारी : सुबह के समय पड़ रही घनी धुंध तथा कोहरे ने जिंदगी की रफ्तार पर ब्रेक लगाए हुए है। घनी धुंध तथा कोहरे के कारण दृश्यता पांच मीटर तक सिमट गई। जिसके चलते वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

पर्यावरण प्रदूषण के लिए किसान नहीं जिम्मेदार, वैज्ञानिकों को बदलने होंगे शोध के तरीके
X
घना कोहरा (प्रतीकात्मक फोटो)

मौसम की जानकारी : जींद में पिछले तीन दिनों से सुबह के समय पड़ रही घनी धुंध तथा कोहरे ने जिंदगी की रफ्तार पर ब्रेक लगाए हुए है। हालांकि धुंध को फसलों के लिए फायदेमंद माना जा रहा है लेकिन जनजीवन भी प्रभावित हो रहा है। दिनभर खिली धूप से ठंड से भी राहत नहीं मिल रही है। रविवार को घनी धुंध तथा कोहरे के कारण दृश्यता पांच मीटर तक सिमट गई। जिसके चलते वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ा। रविवार को अधिकत्तम तापमान 18 डिग्री, न्यूनतम तापमान छह डिग्री दर्ज किया गया।

जबकि मौसम में आद्रता 59 प्रतिशत व हवा की गति 11 किलोमीटर प्रति घंटा दर्ज की गई। रविवार को दिन का आगाज घनी धुंध तथा कोहरे के साथ हुआ। सुबह के दौरान हालात यहां तक रहे कि पांच मीटर दूर का भी दिखाई नहीं दे रहा था। वाहन सड़कों पर एक दूसरे के पीछे लाइट जलाकर चल रहे थे। जबकि कुछ वाहन सड़कों के किनारे साइड में खड़े दिखाई दिए। दिन चढ़ने के साथ धुंध तथा कोहरा छंटने लगा और धूप खिल उठी। दिनभर मौसम साफ बना रहा, पहाड़ों की तरफ से आ रही हवा लगातार ठंड का अहसास करवाती रही।

हवा की गति भी अन्य दिनों की बजाए तेज रही। जिसके चलते मौसम में ठंडक का अहसास लगातार होता रहा। घनी धुंध का असर यातायात के अलावा जनजीवन पर भी देखने को मिला। धुंध के कारण लोग देरी से घरों से बाहर निकले, इसी प्रकार यातायात के साधन भी देरी से गंतव्य तक पहुंचे और देरी से रवाना हुए। हालांकि धुंध को फसलों के लिए फायदेमंद बताया जा रहा है। मौसम अनुकूल होने के चलते और धुंध से फसलों को अच्छी ग्रोथ मिल रही है।

पांडू पिंडारा कृषि विज्ञान केंद्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक डा. यशपाल मलिक ने बताया कि धुंध फसलों के लिए काफी फायदेमंद है। अगले 24 घंटों के दौरान मौसम परिवर्तनशील होने की संभावना है। मंगलवार को हलके बादल छा सकते हैं।


Next Story
Top