Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष की पहली बार महिला ने संभाली कमान, सबसे मुश्किल वक्त का करेंगी सामना

हरियाणा कांग्रेस में पहली बार पार्टी की कमान किसी महिला के हाथों में आयी है। कुमारी शैलजा ने शनिवार को पद संभाला है। लेकिन कुमारी शैलजा का सफर किसी भी अध्यक्ष के मुकाबले सबसे ज्यादा मुश्किल भरा होगा।

Haryana Assembly Election: बागी नेताओं के खिलाफ कांग्रेस की कार्रवाई, 6 साल के लिए पार्टी से किया बाहर, ये हैं नामCongress action against rebel leaders party expelled for six years before Haryana Assembly Election

हरियाणा विधानसभा चुनावों से पहले कांग्रेस ने पहली बार किसी महिला को पार्टी का अध्यक्ष बनाया है। इससे पहले रहे 19 अध्यक्ष पुरूष रहे हैं। कुमारी शैलजा को अध्यक्ष बनने के बाद अब कई मोर्चों पर लड़ना होगा। जिसमें पार्टी की गुटबाजी को दूर करने से लेकर आर्थिक सेहत को ठीक करना होगा। क्योंकि पिछले पांच साल में गुटबाजी के कारण हांसिए पर गई प्रदेश कांग्रेस का खजाना भी खाली हो गया है।



प्रदेश में कांग्रेस के कमजोर पड़ने का असर उसके कोष पर भी पड़ा है। नेता से लेकर उद्यमी तक ने कांग्रेस को चंदा देना कम कर दिया है। जिसके कारण प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कोष में चंद रुपये ही शेष रहे गए हैं। जिनसे प्रदेश में पार्टी को चलाना तो दूर कर्मचारियों को तनख्वाह देना भी संभव नहीं है। ऐसे में लंबे समय से कार्य कर रहे कर्मचारी भी नौकरी छोड़कर चले गए। क्योंकि उन्हें तनख्वाह तक नहीं मिल सकी।

ऐसे में अब कुमारी शैलजा के सामने कांग्रेस की गुटबाजी को दूर करने के साथ-साथ माली हालत को भी दूर करना होगा। हालांकि प्रदेश में बदले समीकरण के बाद हालात में सुधार हुआ है। कांग्रेस के प्रदेश कार्यालय की नए सिरे सफाई की गई है। झंड़े लेकर अन्य चीजों को बदला गया है। कांग्रेस कार्यालय सचिव मोहिंदर सिंह भी नौकरी पर वापस आ गए है। मोहिंदर सिंह नौकरी छोड़कर चले गए थे। इसके अलावा विधायक और पूर्व विधायक भी चंदा जमा करा रहे हैं।



कार्यभार संभालते वक्त शक्ति प्रदर्शन

कांग्रेस की नई प्रदेश अध्यक्ष कुमारी शैलजा ने कार्यभार संभाल लिया है। इस दौरान कांग्रेस की तरफ से शक्ति प्रदर्शन किया गया है। कार्यक्रम में प्रदेश प्रभारी गुलाम नबी आजाद, पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा सहित बड़ी संख्या में बड़े नेता-कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Next Story
Top