Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली सीमा: हरियाणा ने सीमाएं खोली तो केजरीवाल सरकार ने कर दी सील, अब कहां जाएं लोग!

सियासत में पीसेंगे लोग। हरियाणा ने सीमाएं खोलने का फैसला किया तो लोगों ने राहत की सांस ली थी लेकिन अब दिल्ली ने सीमाएं सील कर दी हैं तो हरियाणा में आए लोग अब दिल्ली कैसे जाएंगे ये बडा सवाल है।

दिल्ली सरकार ने कोरोना मरीजों के लिए लॉन्च किया ऐप, अस्पताल में कितने बेड-आईसीयू खाली हैं ये बताएगीअरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

योगेंद्र शर्मा. चंडीगढ़। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए लाकडाउन में घरों तक सिमटे लोगों को "अनलाक-वन" के तहत थोड़ी राहत मिली और बाहर निकलकर लोगों ने अपने अहम कार्यों को अंजाम दिया। केंद्र (एमएचए) की ओर से नई गाइड लाइन जारी होने के बाद में हरियाणा ने अंतरराज्यीय सीमाओं को खोलने का फैसला बीती रात ले लिया था। लेकिन जब हरियाणा ने दिल्ली से सटी अपनी सीमा खोल दी है, लेकिन एन वक्त पर दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार ने एक सप्ताह के लिए दिल्ली बार्डर को सील करने का फैसला ले लिया। इतना ही नहीं दिल्ली से अनिवार्य सेवाएं जारी रहेंगी लेकिन ई-पास लेकर जाने वालों को ही एंट्री मिलेगी। दिल्ली बार्डर सील हो जाने के बाद में सियासत तेज हो गई है।

हरियाणा प्रदेश के गृहमंत्री अनिल विज ने देर शाम कहा कि अब (एमएचए) की नई गाइड लाइन के हिसाब से हरियाणा ने अपनी दिल्ली से सटी सीमाएं खोल दी हैं। उस समय दिल्ली के मुख्यमंत्री और आप नेता अरविंद केजरीवाल गलत फैसला ले रहे हैं। जब अंतरराज्यीय सीमाएं खोल दी गई हैं, तो इस तरह के माहौल में दिल्ली के सीएम विपरीत काम कर रहे हैं।

दिल्ली के अस्पताल और भवन देश की संपत्ति

हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा दिल्ली के अस्पतालों में केवल दिल्ली के लोगों का उपचार किए जाने के फैसले पर कड़ी आपत्ति जाहिर की, साथ ही साफ कर दिया कि यह देश की राष्ट्रीय राजधानी है। दिल्ली के अस्पतालों में पूरे देश के मरीजों का उपचार होता रहा है, जो पूरे देश की संपत्ति हैं। संक्रमण फैलने और महामारी के बीच केजरीवाल को इस तरह की सियासत नहीं करनी चाहिए, क्योंकि हम हरियाणा में के अस्पतालों में दिल्ली, पंजाब, हिमाचल कहीं का भी कोई मरीज क्यों नहीं हो उनका उपचार करते हैं। विज ने कहा कि दिल्ली राष्ट्रीय राजधानी है, अस्पताल ही नहीं बल्कि वहां पर संपत्ति केजरीवाल सरकार के समय में नहीं बल्कि पूरे देश की खून पसीने की मेहनत से बनी है।

प्रदेश के लोगों की चिंता करना ठीक, सियासत गलत

विज ने कहा कि दिल्ली की सीमाओं को संक्रमण के डर से सील करना ठीक है। हमने भी पहले हरियाणा की दिल्ली से लगती सीमाएं सील की थीं लेकिन लाकडाउन चल रहा था। विज ने साफ कर दिया कि एमएचए की गाइड लाइन में साफ साफ लिखा हुआ था कि इंटरस्टेट सीमा पर केवल ईपास वाले लोगों को ही जाने की छूट होगी। इसके अलावा कोरोना योद्धाओं, अनिवार्य सेवाओं में सर्विस देने वालों को छूट थी, हमने वही किया। लेकिन जैसे ही केंद्रीय गृहमंत्रालय की ओर से अब अनलाक वन की शुरुआत की गई, तो हमने राज्य की दिल्ली सीमाओं को भी खोल दिया है। विज ने कहा कि दिल्ली जाने वाले अनिवार्य सेवाओं से जुडे़ लोगों को ईपास जारी किए जाएंगे, सरकारी कर्मचारी व अधिकारियों की कार्ड से ही एंट्री होगी।

Next Story
Top