Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

जजपा विधायकों ने दु्ष्यंत चौटाला को दल का नेता चुना, कहा साथियों ने भाजपा के साथ जाने का प्रस्ताव रखा है

जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) के विधायक दल का नेता दुष्यंत चौटाला को चुना गया है। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि बैठक में कांग्रेस और भाजपा के साथ सरकार बनाने पर चर्चा की गई है।

जननायक जनता पार्टी शाम 4 बजे करेगी प्रेसवार्ता, भाजपा को समर्थन का कर सकती है ऐलानदुष्यंत चौटाला (फाइल फोटो)

हरियाणा विधानसभा चुनावों के परिणामों के बाद जननाकयक जनता पार्टी के विधायकोंं की दिल्ली में बैठक हुई। बैठक में शुक्रवार को विधायक दल का नेता दुष्यंत चौटाला को चुना गया है। जिसके बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दुष्यंत चौटाला ने कहा कि मुझे विधायक दल का नेता चुना गया है और ईश्वर सिंह को उपनेता चुना गया है।

विधायक दल की बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। हमने प्रदेश की स्थिति को लेकर चर्चा की है। बैठक में कांग्रेस और भाजपा के साथ सरकार बनाने पर चर्चा की है। अभी भाजपा की तरफ से कोई बातचीत नहीं हुई है। कई साथियों ने भाजपा के साथ सरकार बनाने की बात रखी है।

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि वो पार्टी जो हमारे साथ सभी बातों के साथ सहमत होगी उसके साथ सरकार बनाएंगे। इसमें हरियाणवी के लिए 75 फीसदी नौकरियों के आरक्षण, चौधरी देवीलाल की वृद्धावस्था पेंशन के बारे में विचार करने वाली पार्टी को जेजेपी अपना समर्थन देगी।

हरियाणा विधानसभा चुनावों में जननायक जनता पार्टी को 10 सीटें मिली हैं। जबकि भाजपा 46 के जादुई आंकड़े से 6 सीट दूर रह गई है। ऐसे में जजपा किंग मेकर की भूमिक निभाएगी। जानकारी के मुताबिक जजपा के विधायक दल की बैठक शुक्रवार को दिल्ली में होगी। जिसमें विधायकों से पार्टी के भविष्य और फैसलों को लेकर चर्चा की जाएगी। जिसके बाद फैसले की जानकारी मीडिया को दी जाएगी।

जजपा की तरफ से शाम चार बजे प्रेसवार्ता बुलायी गई है। सूत्रों का कहना है कि प्रेसवार्ता में जजपा भाजपा को समर्थन देने का ऐलान कर सकती है। लेकिन देखना ये होगा कि जजपा, भाजपा सरकार में शामिल होती है या फिर बाहर से समर्थन देती है। जेजेपी के प्रदेश अध्यक्ष निशांत सिंह ने कहा कि दोनों बड़ी पार्टियों की तरफ से प्रस्ताव मिला है। विधायकों से चर्चा के बाद फैसला लिया जाएगा।

कांग्रेस भी कोशिशों में जुटी

प्रदेश में सरकार बनाने की कोशिशों में कांग्रेस भी जुटी हुई है। चुनाव में कांग्रेस को 31 सीटों पर जीत मिली है। ऐसे में सरकार बनाने के लिए 15 विधायकों की जरुरत होगी। कांग्रेस जजपा और निर्दलीयों के भरोसे सरकार बनाने की कोशिश में लगी हुई है।

Next Story
Top