Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पोते को बिना रिश्वत मिली नौकरी, अम्मा ने मुख्यमंत्री को रोककर दिया आशीर्वाद

हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा 18 अगस्त से शुरू की गई जन आशीर्वाद यात्रा के करनाल पहुंचने पर वहां की जनता द्वारा जोरदार स्वागत किया गया। इसी दौरान एक महिला ने सीएम को ये चिट्ठी दी जो चर्चा का विषय बन गई।

पोते को बिना रिश्वत मिली नौकरी, अम्मा ने मुख्यमंत्री को रोककर दिया आशीर्वाद

हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा 18 अगस्त से शुरू की गई जन आशीर्वाद यात्रा के करनाल पहुंचने पर वहां की जनता द्वारा जोरदार स्वागत किया गया। इसी दौरान एक वृद्ध महिला ने सीएम को आशीर्वाद दिया। पोते को नौकरी मिलने से खुश अम्मा ने मुख्यमंत्री का काफिला रूकवाकर आशीर्वाद दिया। जो कि चर्चा का विषय बन गया।

जानकारी के मुताबिक मुख्यमंत्री के जन आशीर्वाद यात्रा को रूकवाकर अम्मा ने चिट्ठी सौंपी। चिट्ठी के जरिए सीएम को बताया कि प्रदेश में नौकरियों की भर्ती में पारदर्शिता होने के कारण उनके पोते को नौकरी मिल गई है। महिला ने मुख्यमंत्री को धन्यवाद ज्ञापित किया साथ ही उन्हें आशीर्वाद दिया।

बतातें चले कि प्रदेश की भाजपा सरकार ने 22 दिनों की जन आशीर्वाद यात्रा निकाली है। जिसकी शुरूआत 18 अगस्त को कालका मंडी से हुई, 22 दिनों चलने वाली यह यात्रा हर दिन अलग अलग शहरों से होते हुए पूरे प्रदेश को कवर करेगी। 8 सितंबर को रोहतक में यह यात्रा सम्पन्न होगी।

2100 किलोमीटर की दूरी तय करेगी यात्रा

जन आशीर्वाद यात्रा पूरे प्रदेश में कुल 2100 किलोमीटर की दूरी तय करेगी। हर चरण के लिए 400 से 500 किमी की यात्रा की जाएगी। हर दिन के हिसाब से देखे तो ये यात्रा 150 किलोमीटर का सफर तय कर रही है। इन 150 किमी की यात्रा में पार्टी के आलानेताओं के मुताबिक 40 कार्यक्रम किए जा रहे हैं।

भाजपा की दोबारा सरकार बनाने के लिए यात्रा

प्रदेश के भाजपा अध्यक्ष सुभाष बराला ने इस जन आशीर्वाद यात्रा के रोडमैप को लेकर बात करते हुए कहा कि प्रदेश में एक बार फिर भाजपा सरकार को वापस लाने के लिए इस यात्रा की शुरूआत की गई है। सुभाष बराला ने कहा कि प्रदेश में सरकार द्वारा किए गए विकास कार्यों के बलबूते एकबार फिर से पार्टी सत्ता में वापस आएगी।

Next Story
Share it
Top