Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर पीएम ने कहा- जन-आंदोलन से धरातल पर सफल होगा बीबीबीपी अभियान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की जनता से अपील करते हुए कहा कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान (बीबीबीपी) और राष्ट्रीय पोषण मिशन (एनएनएम) को धरातल पर शत-प्रतिशत सफल बनाने के लिए एक जन आंदोलन की शुरुआत करनी पड़ेगी।

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर पीएम ने कहा- जन-आंदोलन से धरातल पर सफल होगा बीबीबीपी अभियान
X

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की जनता से अपील करते हुए कहा कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान (बीबीबीपी) और राष्ट्रीय पोषण मिशन (एनएनएम) को धरातल पर शत-प्रतिशत सफल बनाने के लिए एक जन आंदोलन की शुरुआत करनी पड़ेगी।

इसी की मदद से लड़कियों के घटते लिंगानुपात को सुधारने व बच्चों में जन्म के बाद होने वाले कुषोषण को जड़ से उखाड़ने में मदद मिलेगी।

यहां बृहस्पतिवार को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर राजस्थान के झुंझुनू जिले से बीबीबीपी अभियान का 640 जिलों में विस्तार किया और राष्ट्रीय पोषण मिशन (एनएनएम) की औपचारिक शुरुआत करने को लेकर आयोजित कार्यक्रम में पीएम ने यह जानकारी दी।

उन्होंने विरोधियों पर कटाक्ष करते हुए कहा कि जितनी बार पीएम की आलोचना करनी हो, करें। जो भी कहना हो कहें। लेकिन मन में एनएम को नरेंद्र मोदी नहीं न्यूट्रीशन मिशन के रुप में मानें। इसी से बदलाव की नई इबारत लिखी जा सकेगी।

2022 में आजादी की 75वीं वर्षगांठ के मौके पर भारत ऐसे काम करें। जिनसे दुनिया के सामने हमारी एक अच्छी व अलग छवि बनकर उभरे। समारोह में पीएम ने एनएनएम की लोगो प्रतियोगिता की विजेता को भी सम्मानित किया।

छत्तीसगढ़ और हरियाणा को सम्मान

कार्यक्रम में पीएम ने लड़कों के मुकाबले लड़कियों की घटती संख्या में सुधार करने के लिए देश के 10 जिलों को जिलाधीशों को सम्मानित किया। इसमें छत्तीसगढ़ के रायगढ़ और हरियाणा के सोनीपत जिले के जिलाधीशों को भी सम्मानित किया गया।

पीएम ने अपने संबोधन में 10 जिलों का जिक्र करते हुए कहा कि इन्हें इनके बेहतर प्रदर्शन के लिए पुरस्कृत किया जा रहा है। उन्होंने हरियाणा का खासतौर पर जिक्र करते हुए कहा कि करीब दो साल पहले जब हमने बीबीबीपी अभियान की राज्य के पानीपत जिले से शुरुआत करने का मन बनाया था।

तब जिले की हालत बहुत खराब थी और मुझे ऐसे संकेत दिए गए कि पानीपत से अभियान का आगाज न किया जाए। लेकिन मैंने पानीपत को ही इसकी कर्मभूमि बनाया और आज हालात में सुधार देखने को मिल रहा है।

हरियाणा के सोनीपत जिले को कन्या भ्रूण हत्या की प्रवृति पर रोक लगाने के लिए बनाए गए पीसीपीएनडीटी कानून के बेहतर क्रियान्वयन को लेकर सम्मानित किया गया। जिले के उप-जिलाधीश के.एम.पांडूरंगा ने यह पुरस्कार ग्रहण किया।

अन्य जिलों में पंजाब का तरनतारण, राजस्थान का सीकर और झुंझुनू, कर्नाटक का बीजापुर, सिक्किम का नार्थ सिक्किम, हैदराबाद का तेलंगाना, जम्मू कश्मीर का उधमपुर, गुजरात का अहमदाबाद शामिल है।

छत्तीसगढ़ की प्रतिक्रिया

छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले की जिलाधीश शम्मी आबिदी ने हरिभूमि से बातचीत में कहा कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत जिले के लोगों को प्रभावशाली ढंग से जोड़ने के लिए पीएम ने यह सम्मानित दिया है। तीन साल पहले रायगढ़ को लड़कों के मुकाबले लड़कियों की घटती संख्या की वजह से प्रदेश सरकार द्वारा सुधार के लिए चयनित किया गया था।

इस दौरान जिला प्रशासन द्वारा किए गए सतत प्रयासों से इसमें सुधार हुआ और आज लड़के-लड़कियों के लिंगानुपात का आंकड़ा 951 हो गया है। यानि प्रति एक हजार लड़कों में लड़कियों की संख्या 918 से बढ़कर 951 हो गई है।

इस बदलाव के लिए हमने व्यापक जन अभियान चलाया, स्कूल-कॉलेजों को जोड़ा और समाज के हर तबके की भागीदारी को सुनिश्चित किया। इसी से बदलाव हुआ। जिले को यह पुरस्कार दूसरी बार मिला है। इससे पहले बीते वर्ष भी यह पुरस्कार दिया गया था।

लड़कियों के सशक्तिकरण के लिए किए गए प्रयासों की वजह से जिले में इंफेंट मॉरटेल्टी रेट, मेटरनल मॉरटेलिटी रेट, इंस्ट्टीट्यूशनल डिलीवरी, लड़कियों के स्कूल ड्रापआउट रेट में कमी देखने को मिल रही है। भविष्य में भी रायगढ़ की रफ्तार ऐसी ही रहेगी। जिससे कामयाबी की यह इबारत स्थायी सफलता का रुप ले सके।

भावी पीढ़ी होगी सशक्त

राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया ने कहा कि इन योजनाओं से देश की भावी पीढ़ी सशक्त होगी। केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने कहा बीबीबीपी के जरिए लड़कियों का लिंगानुपात 900 के आंकड़ें को पार कर रहा है।

अब इसका विस्तार देश के सभी जिलों तक हो गया है। बलात्कार पीड़ितों से जुड़ी हुई जांच में तेजी लाने के लिए चंड़ीगढ़ में एक आधुनिक फॉरेंसिक प्रयोगशाला बनायी जा रही है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story