Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

हरियाणाः किसानों को बड़ी राहत, बिना ब्याज के मिलेगा किसानों को कर्ज

किसानों के लिए हरियाणा सरकार ने बड़ी घोषणा की है। अब भविष्य में फसली कर्ज पर उन्हें ब्याज नहीं देना पड़ेगा।

हरियाणाः किसानों को बड़ी राहत, बिना ब्याज के मिलेगा किसानों को कर्ज

चंडीगढ़. किसानों के लिए हरियाणा सरकार ने बड़ी घोषणा की है। अब भविष्य में फसली कर्ज पर उन्हें ब्याज नहीं देना पड़ेगा। यह ब्याज सूबा सरकार खुद भरेगी। यह घोषणा कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ ने शुक्रवार को यहां मीट द प्रेस कार्यक्रम में की। कृषि मंत्री ने कहा कि किसानों को चार फीसदी ब्याज देना पड़ता था। जो समय पर अदायगी कर देता था उसका ब्याज माफ हो जाता था। मगर अब यह शर्त भी हटा दी है। फसली कर्ज सदा के लिए ब्याज मुक्त होगा। ब्याज की अदायगी सरकार खुद करेगी।

हरियाणा के हिसार में मिले हड़प्पा सभ्यता के चार मानव कंकाल

उन्होंने कहा कि बेमौसमी बारिश और ओलावृष्टि से प्रभावित किसानों का बिजली बिल एक साल के लिए माफ कर दिया है और जिनकी फसल 50 फीसदी से कम खराब हुई है उनका छह महीने का बिजली बिल माफ किया गया है। सारे कर्ज तीन साल के लिए मुलतवी कर दिए गए हैं। किसानों को गेहूं की पूरी फसल बर्बाद होने पर 12000 रुपये, सरसों की फसल पर 10000 रुपये प्रति एकड़ मुआवजा दिया जाएगा।

किसी पर धन की बारिश तो कहीं सूखा, जानिए इस महिला खिलाड़ी के बारे में जो काट रही हैं दूसरों के खेत में गेहूं

दिल्ली को छोड़ यह मुआवजा राशि देश में सबसे ज्यादा है। ऐसा इंतजाम किया जा रहा है कि भविष्य में मुआवजा या सब्सिडी आदि बैंकों के जरिए दी जाए। किसानों की फसल का बीमा करवाने के लिए पीपीपी मोड पर बीमा निगम बनाने का प्रस्ताव है। कृषि से आमदनी सिर्फ 15-20 हजार रुपये प्रति एकड़ है। राज्य में 93 फीसदी किसान कृषि करते हैं और सात फीसदी बागवानी। बागवानी में आमदनी 5 लाख रुपये से 10-12 लाख रुपये प्रति एकड़ होती है।

पद्म पुरस्कार देना बंद होना चाहिए : शरद

नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, पूरी खबर -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top