Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

सपना चौधरी के 'नेता' बनने की पूरी कहानी, जब दो वक्त की रोटी के लिए करना पड़ा ये काम

सपना ने स्थानीय लोगों के डांस ग्रुप में शामिल होकर नाचना शुरू किया। जैसे-जैसे उम्र बढ़ी सपना चौधरी की भी मांग बढ़ी। लोगों के बीच पॉपुलर हुई सपना अब हर बड़े प्रोग्राम में दिखने लगी। उनके डांस वीडियो यूट्यूब पर भी देखे जाने लगे और देखते ही देखते उसपर करोड़ो व्यूज आने लगे। फेमस होने के बाद हरियाणा का एक वर्ग उनपर प्रदेश की संस्कृति को बर्बाद करने का आरोप लगाने लगे

सपना चौधरीHaryanavi Singer Dancer Sapna Choudhary Life Interesting facts

आखिर लंबी उहापोह के बाद हरियाणा की मशहूर डांसर सपना चौधरी (Sapna Choudhary) ने भाजपा का दामन थामकर राजनीति में उतर आई। डांस से लेकर राजनीति में आने तक का सफर सपना का आसान नहीं रहा। हर कदम पर संघर्षों से लड़ते हुए हरियाणा की मशहूर डांसर अब उस मुकाम पर पहुंच गई हैं जहां से उनकी हर बातें अब खबर में तब्दील होकर अखबारों और टीवी की सुर्खियां बनने लगी हैं।

लोवर मिडिल क्लास परिवार में जन्मी सपना के लिए यहां तक पहुंचना बिल्कुल आसान नहीं था। खासकर उस राज्य में जन्म लेकर जहां की सोच ही पुरुष प्रधान और रूढ़ीवादी विचारों का हो। 25 सितंबर 1990 को हरियाणा के रोहतक में जन्मी सपना को जन्म से ही चुनौतियों का सामना करना पड़ा। 12 साल की उम्र में पिता की मौत के बाद परिवार की जिम्मेदारी भी सपना पर आ पड़ी। जिसके बाद उन्हें नाच गाने में उतरना पड़ा।


सपना ने स्थानीय लोगों के डांस ग्रुप में शामिल होकर नाचना शुरू किया। जैसे-जैसे उम्र बढ़ी सपना चौधरी की भी मांग बढ़ी। लोगों के बीच पॉपुलर हुई सपना अब हर बड़े प्रोग्राम में दिखने लगी। उनके डांस वीडियो यूट्यूब पर भी देखे जाने लगे और देखते ही देखते उसपर करोड़ो व्यूज आने लगे। फेमस होने के बाद हरियाणा का एक वर्ग उनपर प्रदेश की संस्कृति को बर्बाद करने का आरोप लगाने लगे। और उनके डांस को बंद करवाने की कोशिश करने लगे।

लेकिन सपना की पॉपुलरटी पर इसका बिल्कुल असर नहीं पड़ा और वह हरियाणा समेंत उत्तर भारत के बाकी राज्यों में भी फेमस होने लगी। सपना की एक झलक पाने के लिए लाखों लोगों की भीड़ उमड़ने लगी। उनके प्रोग्रामों में बढ़ती भीड़ को कंट्रोल करने के लिए पुलिस को लगाया जाने लगा। लाठी चार्ज तो जैसे आम बात हो गई हो उनके प्रोग्राम में।

सपना का विवादों से भी नाता जुड़ने लगा। गुरुग्राम के एक प्रोग्राम में उन्होंने जाति विशेष पर टिप्पणी कर दी जिससे नाराज होकर उस वर्ग के लोगों ने सपना पर केस कर दिया। इसके बाद सपना के प्रोग्रामों पर थोड़े दिन के लिए रोक लग गई। सपना को लगा कि कैरियर खत्म हो गया और यही बात उनके दिमाग में बैठ गई जिसके बाद वह डिप्रेशन में चली गई। डिप्रेशन इतना हावी हुआ कि उन्होंने आत्महत्या करने तक करने की कोशिश कर डाली।


विवादों में आने के बाद सपना की पॉपुलरिटी टीवी पर आ गई और इसके बाद तो वह पूरे देश में पहचानी जाने लगी। बिग बॉस के 11वें एडीशन में उन्हें बुलाया गया, यहां वह भले ही विजेता न बन पाई हो पर राष्ट्रीय स्तर की मीडिया में वह छा गई, बॉलीवुड में भी इंट्री मिली और सपना ने दमदारी के साथ ऐक्टिंग की। वो अलग बात है कि उन्होंने जितनी सक्सेस बतौर डांसर और यूट्यूब पर पाई उतना बॉलीवुड में नहीं मिल सकी।

राजनीति में सपना के भाजपा का दामन पकड़ने से पहले कांग्रेस खेमे में भी शामिल होने की बात चली। पर सपना ने स्वयं सामने आकर इसे अफवाह बताया। फिलहाल अब वह भाजपा के खेमे से राजनीति की शुरूआत कर रही हैं।

इसके पहले अनौपचारिक रुप से वह भाजपा का सपोर्ट करती रही हैं। कहा ये भी जा रहा कि उन्हें पार्टी इसबार प्रदेश के विधानसभा चुनाव में भी प्रत्याशी के तौर पर उतारेगी। फिलहाल ये फैसला अभी भविष्य के गर्भ में छिपा है।

Share it
Top