Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

संजय भाटिया : हर बड़े नेता के करीबी बनते गए, पार्टी ने 2019 में इनाम में सांसद बना दिया

संजय भाटिया (Sanjay Bhatia) 2019 लोकसभा चुनावों में हरियाणा के करनाल निर्वाचन क्षेत्र से सांसद चुने गए हैं। संजट भाटिया मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और संघ के करीबी माने जाते है।

संजय भाटिया: संघ और मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के करीबी जो हाल ही में पहली बार सांसद बनेHaryana Vidhan Sabha Election Sanjay Bhatia profile

संजय भाटिया भारतीय जनता पार्टी हरियाणा के वर्तमान महासचिव हैं वह 2019 लोकसभा चुनावों में हरियाणा के करनाल निर्वाचन क्षेत्र से संसद सदस्य चुने गए थे। संजट भाटिया मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और संघ के करीबी माने जाते है। इससे पहले वह हरियाणा खादी और ग्रामोद्योग बोर्ड के अध्यक्ष भी रहे हैं।

संजय भाटिया का जन्म 1967 में हरियाणा के पानीपत में हुआ था इनके पिता का नाम जयदयाल भाटिया व माता का नाम चंद्रकांता भाटिया था। इनकी प्रारंभिक पढ़ाई पानीपत में ही हुई इसके बाद संजय ने कुरूक्षेत्र विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की। इनका विवाह अंजू भाटिया से हुआ है।

राजनीतिक सफर

संजय भाटिया छात्र जीवन से ही ये अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) से जुड़े रहे और सन् 1987 में पहली बार मंडल के राष्ट्रीय सचिव नियुक्त किए गए। इसके बाद ये लगातार भाजपा के कई शीर्ष पदों पर रहे और 1998 में भारतीय जनता युवा मोर्चा के राष्ट्रीय सचिव नियुक्त किए गए। इसके अलावा ये भाजपा के किसान मोर्चा संघ के राज्य सचिव भी रहे।

बंटी भाई के नाम से मशहूर संजट भाटिया मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और संघ के करीबी माने जाते है। इसके अलावा ये भाजपा के बड़े नेताओं अटल बिहारी बाजपेयी और लाल कृष्ण आडवानी के करीबी रहे हैं। उन्हें ये टिकट भाजपा के पूर्व नेता अश्विनी कुमार की जगह दिया गया और वह इस सीट पर जीतकर पहली बार सांसद बने हैं।

इससे पहले भी वह दो बार 2005 व 2009 में भाजपा से चुनाव लड़ चुके हैं लेकिन उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। पहली बार असेम्बली पहुंचे संजय भाटिया की पार्लियामेंट में उपस्थिति काफी शानदार रही है। हाल ही में हुए लोकसभा चुनावों में पार्टी के सभी 10 सीटों पर जीतने के बाद संजय भाटिया ने कहा था कि पार्टी को राज्य में अपने अच्छे प्रदर्शन का भरोसा पहले से ही था।

Next Story
Top