Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मनोहर लाल खट्टर : साधारण आरएसएस प्रचारक से हरियाणा की सत्ता के सवोच्च शिखर तक

ईमानदार छवि और सादी जीवन शैली वाले मनोहर लाल खट्टर की ख्याति (Manohar Lal Khatter) भाजपा(BJP) में एक ऐसे नेता की है जो हर काम को बड़ी कुशलता से करता है। 2014 के चुनावों(Haryana Vidhan Sabha Election) में भाजपा(BJP) को बहुमत मिलने पर मोदी सरकार ने इन्हें हरियाणा राज्य का मुख्यमंत्री(CM) नियुक्त किया।

सीएम मनोहर लाल खट्टर से सार्थक संवादसीएम मनोहर लाल खट्टर से सार्थक संवाद

मुख्यमंत्री मनोहर लाल (Manohar Lal Khatter) खट्टर हरियाणा(Haryana Vidhan Sabha Election) की राजनीति में मजबूत पकड़ रखने वाले भाजपा(BJP) के पहले गैर जाट नेता हैं। सीएम खट्टर हरियाणा की राजनीति में पिछले चार दशकों से लगातार सक्रिय रहकर संगठन को मजबूत करने में लगे रहें हैं।

ईमानदार छवि और सादी जीवन शैली वाले खट्टर की ख्याति भाजपा में एक ऐसे नेता की है जो हर काम को बड़ी कुशलता से करता है। हलांकि राजनीतिक जानकार मानते हैं कि उनके हरियाणा की सत्ता के शिखर तक पहुंचने में अहम रोल प्रधानमंत्री मोदी से उनकी भी नजदीकी रही है। खट्टर ने भाजपा और आरएसएस संगठन को पर्दे के पीछे से काम करते हुए मजबूती प्रदान की और पार्टी में अपना लोहा मनवाया है।

विरोधी भी मानते हैं इनकी रणनीतिक कुशलता का लोहा



खट्टर की रणनीतिक कुशलता का लोहा उनके विरोधी भी मानते हैं हाल ही के लोकसभा चुनाव 2019 उनकी राजनीतिक कुशलता का ताजा उदाहरण हैं जिसमें भाजपा का परचम राज्य की सभी 10 सीटों पर लहराया था।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रचारक रहे खट्टर 1996 से हरियाणा की राजनीति मे सक्रिय भूमिका निभाते रहे हैं इसी दौरान हरियाणा का प्रभारी रहते हुए उन्हे प्रधानमंत्री मोदी के साथ रहकर काम करने का मौका मिला। उनकी कुशल रणनीति को देखते हुए उन्हें 2002 में जम्मू कश्मीर का चुनाव प्रभारी नियुक्त किया गया।

हरियाणा में होने वाले पिछले आम चुनावों में करनाल से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ चुनाव प्रचार अभियान की शुरूआत की जिसके बाद भाजपा को प्रदेश में बड़ी सफलता मिली और पार्टी को राज्य की 80 में 47 सीटों पर जीत मिली।

पारिवारिक पृष्ठभूमि


साधारण किसान परिवार से आने वाले मनोहर लाल खट्टर का परिवार विभाजन के बाद पाकिस्तान से भारत आया था। इनके पिता व दादा हरियाणा के रोहतक जिले के निदाना गांव मे आकर बस गए और जीविका के लिए एक छोटी सी दुकान चलाने लगे।

मनोहर लाल खट्टर का जन्म 1954 में इसी गांव में हुआ, इन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय से स्नातक की इसके बाद सन् 1980 में आरएसएस में शामिल हो गए और पूर्ण-कालिक प्रचारक के तौर पर काम करने लगे। 14 वर्षों तक संघ के लिए काम करने के बाद इनकी कुशल नेतृत्व प्रतिभा को देखते हुए सन् 1994 में इन्हें हरियाणा भाजपा का महासचिव बनाया गया जिसका इन्होंने बड़ी कुशलता से संचालन किया।

इन्होंने 1999 लोकसभा चुनाव में इनेलो के साथ गठबंधन करके राज्य की सभी 10 सीटों पर पार्टी को जीत दिलाई। जिसके बाद से खट्टर की छवि एक योग्य प्रशासक और कुशल रणनीतिकार के रूप में चर्चित हो गई और हरियाणा की राजनीति में इनका दबदबा लगातार बढ़ता गया और 2014 के चुनावों में पार्टी को बहुमत मिलने पर भाजपा की मोदी सरकार ने इन्हें राज्य का मुख्यमंत्री नियुक्त किया।

Next Story
Top