Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

घरेलू हिंसा के मामले बढ़े :  हरियाणा राज्य महिला आयोग ने जिलों में काउंसलर्स तैनात किए

लॉक डाउन में घरेलू हिंसा और क्लेश के मामले बढ़ते जा रहे हैं इसी को देखते हुए हरियाणा राज्य महिला आयोग ने जिलेवार काउंसलर्स की सूची जारी कर दी है।

घरेलू हिंसा के मामले बढ़े :  हरियाणा राज्य महिला आयोग ने जिलों में काउंसलर्स तैनात किए
X

चंडीगढ़। बाकी राज्यों की तरह हरियाणा में भी कोरोना वायरस संक्रमण के दौरान लॉक डाउन में घरेलू हिंसा और क्लेश के मामले बढ़ते जा रहे हैं। कोरोना वायरस संक्रमण के दौरान इस तरह के मामलों में के साथ-साथ मॉनिटरिंग रखने के लिए हरियाणा महिला आयोग की ओर से जिलेवार काउंसलर्स की सूची जारी कर दी गई है। इसके अलावा इस तरह के मामलों से निपटने के लिए मनोचिकित्सक और काउंसलर्स, महिला पुलिस सामाजिक संगठनों की मदद ली जा रही है।

हरियाणा महिला आयोग की ओर से गत दिवस जारी 18 अप्रैल के आदेशों में बताया गया है कि राष्ट्रीय महिला आयोग की ओर से मिले दिशा-निर्देशों के बाद में महिलाओं के हितों की सुरक्षा और घरेलू हिंसा की घटनाओं के साथ-साथ लॉक डाउन में विवादों से निपटने के लिए काउंसलर की सूची जारी कर दी गई है। हरियाणा में भी लॉक डाउन के दौरान महिलाओं को हर संभव मदद करने के लिए यह आदेश जारी किए गए हैं।

कोरोना वायरस संक्रमण महामारी के दौरान भी राज्य महिला आयोग ने घरों के अंदर घरेलू हिंसा और तनाव जैसी घटनाओं के प्रकाश में आने के बाद इनसे निपटने के लिए तैयारी कर रही है। मात्र महिलाएं ही नहीं बल्कि कुछ मामलों में पुरुषों, बच्चों बुजुर्गों के साथ में अभद्र व्यवहार जैसी घटनाएं भी महिला आयोग के संज्ञान में आ रही हैं। एक ही छत के नीचे रहने वाले इन सभी सदस्यों को बेहतर ढंग से रहने और सकारात्मक सोच रखने के लिए काउंसलर गाइड कर रहे हैं। इसके अलावा महिला आयोग की ओर से दुर्गा शक्ति एप डाउनलोड करने के साथ-साथ हरियाणा पुलिस की वह में सुरक्षा विंग को लेकर भी महिलाओं को जागरूक किया है। इतना ही नहीं हर जिले में एक केंद्र बनाकर 24 घंटे सातों दिन महिला हेल्पलाइन की व्यवस्था की गई है जिसके लिए नंबर 1091 दिया गया है। हेल्पलाइन नंबर पर फोन कर समस्या की जानकारी दी जा सकती है।

घरेलू हिंसा सहित अन्य कई तरह के मामले आ रहे

हरियाणा महिला आयोग उपाध्यक्ष प्रीति भारद्वाज का कहना है कि कोरोना संक्रमण की महामारी और लॉक डाउन के दौरान भी महिला आयोग महिलाओं की मदद के लिए काम करना है। हमारे पास इन दिनों काफी मामले घरेलू हिंसा और कई तरह की समस्याओं से जुड़े आ रहे हैं। जिनकी मदद के लिए महिला आयोग ने पूरी व्यवस्था की है। इसके अलावा हमने सभी 22 जिलों के लिए काउंसलर नामों की सूची जारी कर दी है। जो वेबसाइट पर भी अपडेट की गई है।

ऐसे कर रहे काउंसलिंग

राज्य महिला आयोग की ओर से महिला पुलिस के साथ समन्वय रखते हुए जिन परामर्श दाताओं को शामिल किया गया है, उनमें डॉ. मोनिका मोदी, सविता सिंह, डॉक्टर विजय प्रभा के साथ-साथ एजुकेशन और एकेडमिक गाइडेंस के लिए डॉक्टर सुमन नासा, डॉक्टर पूनम वधवा लीगल गाइडेंस के लिए रेखा विश्नोई प्रीति तनेजा के साथ-साथ मनो विशेषज्ञ रागिनी मंजूलिका प्रतिभा एवं रेणू माथुर बीके शिवानी जी बीके अंजू जी बीके ज्योति जी शिवानी के मोबाइल नंबर भी जारी किए गए हैं। इन विशेषज्ञों में अध्यात्म से लेकर मेडिकल एजुकेशन के साथ-साथ कई तरह के विशेषज्ञों को शामिल किया गया है।

ये मामले भी बढ़े

राज्य महिला आयोग की ओर से इन दिनों डाउन के कारण घरों में रहने वाले बुजुर्गों और कई तरह की बीमारियों से ग्रसित महिलाओं के स्वास्थ्य को लेकर भी फोकस किया जा रहा है। इस तरह के मामलों में मनो विशेषज्ञ और काउंसलर्स की मदद ली जा रही है। ताकि उनको मानसिक तौर पर भी इस चुनौती से निपटने के लिए तैयार किया जा सके।

सेल्फ हेल्प ग्रुप के अलावा एनजीओ कर रहे सहयोग

हरियाणा राज्य महिला आयोग सभी जिलों और देहात में सेल्फ हेल्प ग्रुप के साथ-साथ सामाजिक संस्थाओं, विभिन्न संगठनों, उजाला मंच सेविका समिति ब्रह्माकुमारी राजयोग केंद्र, संस्थागत लीगल बॉडी और हरियाणा स्टेट लीगल सर्विस अथॉरिटी के काउंसलर की भी मदद ली जा रही है। मुख्यमंत्री भी लॉक डाउन के दौरान आ रही विभिन्न चुनौतियों को लेकर अपनी बात रख चुके हैं। हरियाणा में भी घरेलू हिंसा और लॉक डाउन के दौरान 24 घंटे घरों में रहने के कारण कई तरह की घटनाएं हो रही हैं। जिससे दिनचर्या प्रभािवत हो रही है।

Next Story