Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पानीपत : पुलिस ने ऋषि चुलकाना गैंग के तीन सदस्यों को किया गिरफ्तार

ऋषि चुलकाना ने इस मामले में हाई कोर्ट से पैरोल ली थी और बाहर आते ही सोनीपत में एक व्यक्ति की हत्या का प्रयास किया था।

मकोका केस में वांटेड एक लाख का इनामी गैंगस्टर गिरफ्तारआरोपी गिरफ्तार (फाइल फोटो)

पानीपत पुलिस की सीआईए थ्री टीम ने ऋषि चुलकाना गैंग के तीन सदस्यों को शुक्रवार देर रात गिरफ्तार किया है। पकड़े गए गैंग के तीनों सदस्य नाबालिग हैं। तीनों नाबालिगों पर आरोप है कि कुछ समय पहले कमांडो गैंग के सदस्य राजेंद्र के साथ मार पिटाई कर उसे जान से मारने की धमकी दी थी। जिसमें आरोपियों के खिलाफ समालखा थाना में मुकदमा दर्ज है।

पानीपत पुलिस की सीआईए थ्री टीम ने गुप्त सूचना के आधार पर देर रात ऋषि चुलकाना गैंग के तीन सदस्यों को पकड़ने में कामयाबी हासिल की। देर रात पुलिस ने छापेमारी के दौरान तीनों को काबू कर लिया। आरोपियों के पास से तीन अवैध हथियार बरामद किए गए है। पुलिस ने तीनों आरोपियों को कोर्ट में पेश कर 2 दिन के रिमांड पर ले लिया है।

ऋषि चुलकाना पर कई केस दर्ज

ऋषि चुलकाना पर पानीपत, सोनीपत व करनाल में हत्या, हत्या के प्रयास के कई मुकदमे दर्ज हैं। ऋषि चुलकाना डीएफएससी के एक इंस्पेक्टर की हत्या का आरोप भी है।

दिनेश गैंग से की थी शुरुआत

बदमाश ऋषि चुलकाना ने गांव के ही दिनेश गैंग से आपराधिक जीवन की शुरुआत की थी। वह कुछ ही दिन में गैंग का शार्प शूटर बन गया। उसने गांव के ही फूड एंड सप्लाई में इंस्पेक्टर रमेश की हत्या कर दी थी। जिसमें आरोपी को साढ़े पांच साल की सजा सुनाई थी।

ऋषि चुलकाना ने इस मामले में हाई कोर्ट से पैरोल ली थी और बाहर आते ही सोनीपत में एक व्यक्ति की हत्या का प्रयास किया था। वह इसके बाद लगातार फरार चल रहा था। बताया जा रहा है कि ऋषि चुलकाना दसवीं तक पढ़ा है। आरोपी ने बीच में यूपी में डेयरी भी चलाई, लेकिन वह फिर से अपराध की दुनिया में आना चाहता था और समालखा में किसी वारदात को अंजाम देने की नीयत से आया था।

Next Story
Top