Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

हरियाणा : अफसरों का पर्यावरण पर विशेष जोर, पराली न जलाने पर मिलेंगे 50 हजार

मुख्य सचिव ने प्रदेश के किसानों को लुभावने वादों के जरिए भी पराली न जलाने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि जो भी गांव इस बार पराली नहीं जलाएगा उस ग्राम पंचायत को इनाम स्वरूप 50 हजार रुपए दिए जाएंगे। इसके लिए पंचायतों को पहले बताना होगा कि इसबार उनके गांव में कोई भी पराली नहीं जलाएगा।

हरियाणा : अफसरों का पर्यावरण पर विशेष जोर, पराली न जलाने पर मिलेंगे 50 हजारharyana Government facing challenge to stop farmers from burning parali

हरियाणा के बड़े अफसरों को पराली (Parali) जलाने से होने वाले नुकसान की चिंता होने लगी है। इसलिए इसबार धान कटाई के पहले ही पूरा अमला सक्रिय हो गया है। इसबार पराली न जलाई जाए इसके लिए लुभावने इनाम के अलावा दंड का भी प्रावधान किया गया है।

अफसरों ने एक किसान एप (Kisan App) तैयार करवाया है जो पराली जलाने वाले पर नजर रखेगी। इस एप में कोई भी व्यक्ति खेतों में पराली जलाते हुए इंसान की फोटो खींचकर अपलोड कर सकता है। फोटो देखने पर सरकार कार्रवाई करेगी। सरकार ने कोशिश की है कि इसबार 6 लाख हेक्टेयर जमीन पर पराली न जलाई जाए।

बुधवार को प्रदेश के मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा (Keshini Anand Arora) ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश के सभी जिलों के आलाधिकारियों को संबोधित किया। उन्होंने अफसरों से लोगों को पराली जलाने से होने वाले नुकसान को बताने का निर्देश दिया साथ ही उन्हें पर्यावरण के लिए जागरुक करने की भी बात कही।

मुख्य सचिव ने प्रदेश के किसानों को लुभावने वादों के जरिए भी पराली न जलाने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि जो भी गांव इस बार पराली नहीं जलाएगा उस ग्राम पंचायत को इनाम स्वरूप 50 हजार रुपए दिए जाएंगे। इसके लिए पंचायतों को पहले बताना होगा कि इसबार उनके गांव में कोई भी पराली नहीं जलाएगा।

पराली जलाने को लेकर सजा देने से ज्यादा अफसरों की कोशिश है कि लोगों को जागरुक किया जाए। इसके लिए उन्हें मोबाइल एप के जरिए लगातार मैसेज भेजे जा रहे हैं। साथ ही फसल अवशेषों के प्रबंधन को लेकर भी बताया जा रहा कि कैसे पराली न जलाकर उसे अन्य उपकरणों के माध्यम से सही किया जा सकता है।

Next Story
Share it
Top