Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

किस्सा सीटों काः बंसीलाल के किले में भाजपा ने लगाई सेंध, विधानसभा चुनावों में ढहा सकती है तोशाम का किला

हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री बंसीलाल के गढ़ तोशाम विधानसभा क्षेत्र में भाजपा ने सेंध लगा दी है। लोकसभा चुनावों में बंसीलाल के गढ़ में भी भाजपा ने पहली बार जीत हासिल की थी। भाजपा यदि विधानसभा चुनावों में सफलता को बरकरार रखती है तो बंसीलाल का किला पूरी तरह से ढह जाएगा।

किस्सा सीटों काः बंसीलाल के किले में भाजपा ने लगाई सेंध, विधानसभा चुनावों में ढहा सकती है तोशाम का किला

भले ही विपक्षी पार्टियां लोकसभा चुनावों में पीएम नरेंद्र मोदी की लहर बताकर अपनी हार की झेंप मिटा रहीं हैं। लेकिन पहली बार भाजपा पूर्व सीएम बंसीलाल के गढ में सेंध लगाने में कामयाब हुई है। हालांकि विधानसभा चुनावों में अलग समीकरण हो सकते है पर एक बार तो भाजपा ने बंसी के दुर्ग को ढहा ही दिया। लोकसभा चुनावों में भाजपा उम्मीदवार को तोशाम की जनता ने 34543 मतों से जीताकर लोकसभा में भेजा। यदि भाजपा विधानसभा चुनावों में सफलता को बरकरार रखने में कामयाब हो जाती है तो तोशाम का दुर्ग पूरी तरह से ढह जाएगा।

तोशाम विधानसभा से 1962 से लेकर वर्ष 2014 तक एक बार जगन्नाथ और दो बार वर्तमान सांसद धर्मबीर सिंह विधायक बने हैं। बाकी समय में तोशाम की जनता ने पूर्व सीएम बंसीलाल और उसके परिवार को ही जीताकर विधानसभा में भेजा है। लेकिन इस बार भाजपा ने समीकरण पूरी तरह से बिगाड़ दिए हैं। अगर लोकसभा चुनावों में भाजपा को मिले वोटों की संख्या पर गौर किया जाए तो इस बार बंसी परिवार से तोशाम के रास्ते चंडीगढ़ जाने की डगर कठिन लग रही है।

1962 जगन्नाथ की जीत के बाद पूर्व सीएम बंसीलाल ने तोशाम को अपना दुर्ग बना लिया था। 1967 में बंसीलाल को तोशाम की जनता ने चुनकर विधानसभा भेजा। उसके बाद से बंसीलाल और उनके परिवार का कब्जा रहा। 1987 में लोकदल की लहर के साथ तोशाम की जनता ने धर्मबीर सिंह का जिताया। इसके बाद 2000 में धर्मबीर सिंह फिर तोशाम से चुनाव जीतें। लेकिन तीन बार को छोड़ दिया जाए तो अब तक तोशाम की जनता ने बंसीलाल परिवार का साथ दिया है। तोशाम में हरबार की तरह इस बार भी बंसीलाल के परिवार को उम्मीद है कि जीत का सेहरा फिर से बंधेगा। लेकिन भाजपा ने बंसीलाल परिवार को घेरने की रणनीति बना ली है। अब चुनाव आने पर ही हकीकत का पता चल पाएगा। 

सरकार ने कराए सवा सौ करोड़ के कार्य




सीएम मनोहर सरकार ने तोशाम हलके को भी दिल खोलकर पैसा दिया। अभी तक हलके में करीब सवा सौ करोड़ रुपए के कार्य हो चुके है। इतनी ही राशि के कार्य प्रस्तावित योजना तहत पहुंचने वाले है। अभी तक तोशाम हलके में 8 सामुदायिकी केंद्र, पांच व्यायाम शालाएं, 7 अंबेडकर भवन के अलावा करीब 60 करोड़ रुपये के अन्य कार्य हुए है। तोशाम की विधायक किरण चौधरी ने कहा कि उन्होंने ही पहले तोशाम में विकास करवाया था और आगे भी वे ही विकास करवाएंगी। पानी की कमी झेल रहे तोशाम हलके के नहरी सिस्टम को दुरुस्त करवाएंगी।

ये रहे हैं अभी तक विधायक

1962

जगन्नाथ

निर्दलीय

1967, 1972

बंसीलाल

कांग्रेस

1977,1982

सुरेंद्र सिंह

निर्दलीय, कांग्रेस

1987

धर्मबीर

लोकदल

1991,1996

बंसीलाल

ह. विकास पार्टी

2000

धर्मबीर

कांग्रेस

2005

सुरेंद्र सिंह

कांग्रेस

2005

किरण चौधरी

कांग्रेस

2009

किरण चौधरी

कांग्रेस

2014

किरण चौधरी

कांग्रेस

पृथ्वीराज चौहान लगाते थे तोशाम में कचहरी

तोशाम विधानसभा अपने अंदर अनेक ऐतिहासिक स्थल व जानकारी समेटे हुए है। लेकिन यहां के पहाड़, खानों की खनन पूरे देश में सुनाई देती है। चूंकि यहां के पत्थर में लोहा सर्वाधिक होने की वजह से ज्यादा डिमांड रहती है। वहीं तोशाम का पहाड़ भी अनेक ऐतिहासिक चीजों को गवाह बना है। 12 वीं सदी में दिल्ली के महाराजा पृथ्वीराज चौहान ने तोशाम की पहाड़ी पर अपनी एक छोटी कचहरी स्थापित करवाई थी। जिसके अवशेष आज भी देखे जा सकते है। यहां पर पृथ्वीराज चौहान पहुंचकर लोगों की समस्याएं सुनते थे और उनका मौके पर निराकरण भी करते थे। वहीं बाबा मुंगीपा की तपस्या की बदौलत आज भी इलाके के 80 गांवों में बाबा के प्रति जबरदस्त आस्था है। चूंकि बाबा मुंगीपा ने तोशाम की पहाडी पर ही घोर तपस्या करके सिद्धी पाई थी। अधिकांश गांवों के लोग बाबा की पूजा अर्चना करते है।

Next Story
Top