Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Haryana Election Result 2019 : हरियाणा चुनाव में भाजपा के पिछड़ने के 5 बड़े कारण

हरियाणा विधानसभा चुनाव नतीजों में किसी भी पार्टी को पूर्ण बहुमत नहीं मिला है। आइये जानते हैं भाजपा किन कारणों से पिछड़ी...

Haryana Election Result 2019 : हरियाणा चुनाव में भाजपा के पिछड़ने के 5 बड़े कारण

हरियाणा विधानसभा चुनाव के रुझान और कुछ सीटों पर आये नतीजों के हिसाब से भारतीय जनता पार्टी को बड़ा झटका लगा है। भाजपा के कई बड़े नेता इस चुनाव में अपनी सीट नहीं बचा पाए। बदलते समीकरण को देखते हुए भाजपा आलाकमान अमित शाह सीएम खट्टर से दिल्ली में मुलाकात कर रहे हैं। सबसे बड़ा खेल तो यह हुआ कि ओम प्रकाश चौटाला के पौत्र दुष्यंत चौटाला ने 10 महीने पहले जननायक जनता पार्टी (जजपा) बनाई। अजय सिंह चौटाला के बड़े पुत्र दुष्यंत चौटाला इस समय किंगमेकर की भूमिका निभा रहे हैं। आखिर कैसे 2014 में पूर्ण बहुमत से प्रदेश में सरकार बनाने वाली भाजपा कैसे हरियाणा में पिछड़ गई, आइये जानते हैं विस्तार से...

टिकट बंटवारा बना पहला कारण

भाजपा का हरियाणा में खराब प्रदर्शन के लिए टिकट वितरण को सबसे बड़ा कारण माना जा रहा है। भारतीय जनता पार्टी ने इस चुनाव में 12 नये चेहरों पर दांव खेला, जबकि इनमें से पांच सीटों पर भाजपा के उम्मीदवार अपनी सीट नहीं बचा पाए। पार्टी के पुराने कार्यकर्ताओं की नाराजगी पार्टी को झेलनी पड़ी है।

किसानों की कर्जमाफी

हरियाणा में सरकार ने किसानों की कर्जमाफी को लेकर जो वादे किए उन्हें पूर्ण रूप से पूरा नहीं किया गया। इस योजना में 4750 करोड़ किसानों का कर्ज माफ़ होना था, जो अभी तक अधर में है, इससे सीधा 10 लाख किसानों को फायदा होता।

बेरोजगारी

हरियाणा में सरकारी नौकरी के बड़े-बड़े वादे किए गए, लेकिन भर्ती प्रक्रिया में ही रोजगार का खेल चलता रहा। 5 लाख लोगों को सरकारी नौकरी देना का वादा सिर्फ पन्नों और भाषणों तक ही सिमट कर रहा गया।

भाजपा में गुटबाजी

भाजपा की गुटबाजी का फायदा जजपा और कांग्रेस को सीधे तौर पर मिला। जबकि इन पार्टी के नेताओं ने गुटबाजी भूलकर अपना काम किया गया। जिसके कारण भी विपक्ष मजबूत स्थिति में लौटा है।

भाजपा के विधायकों ने की बगावत

भाजपा के टिकट काटने के बाद विधायकों ने बगावत कर दी। पार्टी प्रत्याशी के खिलाफ ही निर्दलीय पर्चा भर दिया। रेवाड़ी सीट से रणधीर ने निर्दलीय चुनाव लड़ा जिससे सीधे तौर पर भाजपा को नुकसान हुआ है।

Next Story
Top