Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Haryana Assembly Election: बागियों की आ गई बाढ़, जजपा ने ली बसपा की जगह

भाजपा (BJP) में खरखौदा (KharKhauda) से टिकट मांगने वाले पवन खरखौदा (Pawan KharKhauda) अब जजपा (JJP) के उम्मीदवार बने हैं। नारनाैंद (Narnaund) में कांग्रेसी नेता व पूर्व विधायक रामभगत शर्मा (Rambhagat Sharma) ने कैप्टन अभिमन्यु (Capt. Abhimanyu) को समर्थन दिया। आम आदमी पार्टी (AAP) के प्रदेश प्रवक्ता अजय गौतम (Ajay Gautam) ने भी पार्टी छोड़ दी है और जजपा ने उन्हें पंचकूला से उम्मीदवार बनाया है।

Haryana Assembly Election: बागियों की आ गई बाढ़, जजपा ने ली बसपा की जगहHaryana Assembly Election Rebels Leaders Flooded JJP Replaced BSP

टिकट वितरण (Ticket Distribution) के बाद प्रदेश में लगभग सभी पार्टियों में बागियों की बाढ़ आ गई। भाजपा (BJP) और कांग्रेस (Congress) के सबसे ज्यादा नेता पार्टी छोड़कर बागी हो गए हैं। अधिकतर ने जजपा (JJP) का दामन थामा लिया है। करीब दर्जनभर नेताओं ने जजपा (JJP) हाथों हाथ ज्वाइन की और उन्हें पार्टी ने टिकट भी दिया है। वहीं कई नेताओं ने निर्दलीय प्रतशी के रूप में ताल ठोक दी है। पिछले चुनावों के मुकाबले इस बार ये बदलाव आया है कि बागियों ने टिकट के लिए बसपा (BSP) की जगह जजपा में जाना पसंद किया है।

रामभगत शर्मा ने कैप्टन अभिमन्यु को दिया समर्थन

भाजपा में खरखौदा से टिकट मांगने वाले पवन खरखौदा अब जजपा के उम्मीदवार बने हैं। नारनाैंद में कांग्रेसी नेता व पूर्व विधायक रामभगत शर्मा ने कैप्टन अभिमन्यु को समर्थन दिया। आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता अजय गौतम ने भी पार्टी छोड़ दी है और जजपा ने उन्हें पंचकूला से उम्मीदवार बनाया है। गुरुग्राम से उमेश अग्रवाल पत्नी अनीता लूथरा को निर्दलीय चुनाव लड़वाएंगे। रानियां से टिकट कटने के बाद पूर्व सांसद रणजीत चौटाला ने निर्दलीय लड़ने का ऐलान कर दिया है।

जिलाराम शर्मा को कांग्रेस ने नहीं दिया टिकट

समस्त भारतीय पार्टी कांग्रेस से इस कदर नाराज हो गई है कि समस्त भारतीय पार्टी का कांग्रेस में विलय ही रद्द कर दिया। उनके नेता सुदेश अग्रवाल और नीलम अग्रवाल ने प्रेस कांफ्रेस में ही कांग्रेस का बैनर उतरवा फेंका। असंध से जिलेराम शर्मा को कांग्रेस ने नहीं दी टिकट दी और अब वे निर्दलीय चुनाव लडेंगे।

जजपा के उम्मीदवार बने विरेंद्र सिवाच

फतेहाबाद से भाजपा नेता विरेंद्र सिवाच ने पार्टी छोड दी और जजपा के उम्मीदवार हो गए हैं। सफीदों से कांग्रेसी नेता कर्मवीर सैनी अब निर्दलीय चुनाव लडेंगे। सफीदों से 2014 में आजाद विधायक जसबीर देशवाल ने कांग्रेस के कंडीडेट सुभाष देशवाल को दिया समर्थन। भिवानी से कांग्रेस के विधायक रहे पूर्व विधायक डा. शिवशंकर भारद्वाज जजपा में शामिल होने के बाद भिवानी से जजपा के उम्मीदवार बन गए हैं।

अटेली से पूर्व विधायक नरेश यादव ने कांग्रेस छोड दी है। टोहाना से डॉ. देवेंद्र बबली ने कांग्रेस को अलविदा कह दिया है और अब वे टोहाना से जजपा के प्रत्याशी बन चुके हैं। महम से टिकट नहीं मिलने की वजह से जिला परिषद के चेयरमैन बलराज कुंडू नाराज हो गए हैं और वे निर्दलीय चुनाव लडेंगे।

Next Story
Top