Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Haryana Assembly Election: निर्दलीय प्रत्याशी को मिले सबसे अधिक मत, एक लाख से ज्यादा मत लेकर दिग्गजों को पीछे छोड़ा

हरियाणा विधानसभा चुनाव की मतगणना में बादशाहपुर विधानसभा सीट पर निर्दलीय प्रत्याशी ने 1138 प्रत्याशियों में सर्वाधिक मत हासिल किए हैं।

निर्दलीय प्रत्याशी को मिले सबसे अधिक मत, एक लाख से ज्यादा मतों के साथ दिग्गजों को पछाड़ाबादशाहपुर विधानसभा सीट निर्दलीय प्रत्याशी, राकेश दौलताबाद: फाइल फोटो

Haryana Assembly Election: हरियाणा विधानसभा चुनाव के नतीजे आ चुके हैं। विधानसभा चुनाव 2019 में भाजपा 40 सीटों पर जीत दर्ज कर विधानसभा में सबसे बड़ी बनी। वहीं 31 सीटों पर चुनाव जीतकर कांग्रेस दूसरे स्थान पर रही। जननायक जनता पार्टी ने 10 सीटों पर जीत दर्ज की। हरियाणा लोकहित पार्टी और इंडियन नेशनल लोक देल के खाते में केवल एक-एक सीट आई। हरियाणा विधानसभा चुनाव में कुल 1138 उम्मीदवार मैदान में चुनाव लड़ने उतरे थे। जिनमें विभिन्न दलों के दिग्गज नेता भी शामिल थे। इस सब के बीच हैरान कर देने वाली यह है कि जिस उम्मीदवार को हरियाणा विधानसभा चुनाव में सबसे अधिक मत मिले वो निर्दलीय प्रत्याशी है।

15 प्रत्याशियों ने लड़ा बादशाहपुर विधानसभा सीट पर चुनाव

हरियाणा की बादशाहपुर विधानसभा सीट से 15 उम्मीदवार विधायक बनने के सपने के साथ हरियाणा के चुनावी रण में उतरे। इस सीट पर प्रत्येक बड़ी पार्टी ने अपने उम्मीदवार को उतारा था। बादशाहपुर विधानसभा सीट से भाजपा से मनीष यादव, कांग्रेस से राव कमलबीर सिंह, बसपा से महाबीर, इनेलो से सोनू ठाकरन, भारतीय शक्ति चेतना पार्टी से चंदर पाल, स्वराज इंडिया से ममन यादव, सोशलिस्ट यूनिटी सेंटर ऑफ इंडिया से राम किशन प्रजापत, जजपा से ऋषिराज राणा, लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी से डॉ सतीश यादव चुनाव लड़ने के लिए मैदान में उतरे थे। इन विभिन्न पार्टियों के टिकट पर चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों के अलावा बादशाहपुर विधानसभा सीट पर 6 निर्दलीय प्रत्याशी रविंद्र यादव, राकेश दौलताबात, राकेश भारद्वाज, संदीप नरुका, हेमंत कुमार भी चुनाव लड़ने मैदान में उतरे थे।

सीएम खट्टर और भूपेंद्र हुड्डा को पीछे छोड़ा

हरियाणा विधानसभा चुनाव में 90 विधानसभा सीटों के लिए कुल 1138 प्रत्याशियों ने चुनाव लड़ा जिसमें से बादशाहपुर विधानसभा के निर्दलीय प्रत्याशी राकेश दौलताबाद सबसे अधिक मत मिले। एक लाख से अधिक मत हासिल कर उन्होंने हरियाणा मुख्यमंत्री और करनाल से भाजपा उम्मीदवार मनोहर लाल खट्टर और कांग्रेस दिग्गज नेता और पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा को भी पीछे छोड़ दिया। प्रदेश मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर 79,722 वोट हासिल कर विजयी रहे। वहीं गढ़ी सांपला किलोई से कांग्रेस प्रत्याशी भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने 97,330 मतों के साथ जीत दर्ज की। जननायक जनता पार्टी प्रमुख और उचाना विधानसभा सीट से पार्टी प्रत्याशी दुष्यंत चौटाला के पक्ष में 92,243 मत दान किए गए।

10,186 मतों से अपने प्रतिद्वंदी को हराया

लेकिन बादशाहपुर विधानसभी सीट से निर्दलीय उम्मीदवार राकेश दौलताबाद ने 1,06,783 मत हासिल कर सभी दिग्गज नेताओं को पीछे छोड़ दिया। हालांकि राकेश दौलताबाद ने अपने प्रतिद्वंदी भाजपा उम्मीदवार मनीष यादव को कुल 10,186 मतों से हराया। मनीष यादव को 96,566 मत मिले। 1,06,783 मत हासिल कर राकेश दौलताबाद हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019 के सबसे अधिक मत हासिल करने वाले प्रत्याशी बन गए।

Next Story
Top