Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

महेंद्रगढ़ में भाजपा नेताओं के बीच ही होगा मुकाबला, रामबिलास शर्मा के सामने राव दान सिंह

हरियाणा विधानसभा चुनाव (Haryana Assembly Election) में भाजपा की टक्कर खुद के नेताओं के बीच ही होगी। महेंद्रगढ़ जिले की ग्राउंड रिपोर्ट (Mahendragarh District Ground Report) कहती है कि भाजपा का टिकट पाने के लिए नए और पुराने नेताओं के बीच टक्कर है। विपक्ष फिलहाल पांच साल से दिखाई नहीं पड़ता। यहां पर शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा (Haryana Education Minister Ram Bilas Sharma) और कांग्रेस नेता राव दान सिंह (Rao Dan Singh) के बीच वर्चस्व को लेकर टक्कर हो सकती है।

महेंद्रगढ़ में भाजपा नेताओं के बीच ही होगा मुकाबला, रामबिलास शर्मा के सामने राव दान सिंह

हरियाणा विधानसभा चुनावों (Haryana Assembly Election) को लेकर महेंद्रगढ़ जिले (Mahendragarh District Ground Report) में चुनावी सरगर्मियां तेज हो चली हैं। अहीरवाल नेताओं के दबदबे वाले क्षेत्र में केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत ने अभिनंदन रैली कर अपना दबदबा दिखाया है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल की जन आशीर्वाद यात्रा के बाद राव इंद्रजीत सिंह ने नारनौल-नांगल चौधरी हलके के ठीक बीच में अभिनंदन रैली की है। ताकि दक्षिण हरियाणा में टिकट बंटवारे को लेकर उनकी बादशाहत कायम रहे।

दूसरी तरफ महेंद्रगढ़ में भाजपा के सामने अभी तक विपक्ष नहीं है। पुराने और नए भाजपाई ही विपक्ष की भूमिका निभा रहे हैं। टिकट की चाहत में नेता एक-दूसरे को गिराने में जुटे हैं। यानि की नए-पुराने भाजपाइयों के बीच ही मुकाबला बना हुआ है। फिलहाल विपक्ष गायब सा नजर आ रहा है। हम अगर 2014 की स्थिति की बात करें तो जिले की चारों सीटों पर कमल का फूल खिला था। अटेली में संतोष यादव ने सर्वाधिक 48601 अंतर से जीत हासिल की। महेंद्रगढ़ हलका से प्रो. रामबिलास शर्मा 34491 वोट के अंतर से जीते। नारनौल हलका से ओमप्रकाश यादव 4573 के अंतर से जीत दर्ज की थी और नांगल चौधरी हलका से इनेलो की मंजू चौधरी से कड़े मुकाबले में डा. अभयसिंह यादव ने महज 981 वोटों के अंतर से जीत दर्ज की थी। ऐसे में इस बार फिर विपक्ष का महेंद्रगढ़ में पार पा जाना बड़ी चुनौती होगा।

कोरियावास में मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास

भाजपा सरकार की तरफ से जिले में बड़े स्तर पर कार्य कराए गए हैं। जिससे पांच साल में भाजपा काफी ज्यादा मजबूत हुई है। कोरियावास में 598 करोड़ से बनने वाले मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास हो चुका है। एनएच 148बी, एनएच 152डी व एनएच-11 की भी मंजूरी मिल चुकी है। खुड़ाना में आईएमटी का शिलान्यास हो गया है। इसके अलावा नारनौल के नागरिक अस्पताल में ट्रामा सेंटर की मंजूरी दी गई है। महेंद्रगढ़ में 100 बेड के अस्पताल की मंजूरी भी मनोहर सरकार ने दी है। सिहमा, निजामपुर, अटेली, उन्हाणी में कॉलेज भवन की मंजूरी दी गई है। इसके अलावा नहरी पानी अंतिम टेल तक पहुंचाने के लिए 143 करोड़ खर्च किया गया है। निजामपुर क्षेत्र में लॉजिस्टिक हब की मंजूरी, जमीन एक्वायर करने का कार्य अंतिम चरण में है।

राव दान सिंह लड़ेंगे वर्चस्व की लड़ाई




विपक्ष में यदि सबसे मजबूत नेता की बात करें तो पूर्व सीपीएस राव दानसिंह हैं। जो कि शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा के सामने वर्चस्व की लड़ाई लड़ेंगे। उनके अलावा कांग्रेस के पास कोई बड़ा नेता नहीं है। जबकि इनेलो के दो फाड़ होने पर जेजेपी-इनेलो के वर्कर बंट गए है। सूत्रों के मुताबिक महेंद्रगढ़ हलके से रामबिलास शर्मा को राव दान सिंह चुनौती दे सकते हैं। इसके अलावा नारनौल से कांग्रेस के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री राव नरेंद्रसिंह, अटेली से पूर्व सीपीएस अनीता यादव जरूर मजबूत हुए हैं। इसके अलावा दुष्यंत चौटाला ने जेजेपी से महेंद्रगढ़ से जिला अध्यक्ष राव रमेश पालड़ी और नारनौल से कमलेश सैनी को टिकट दिया है। ऐसे में नए समीकरण बनने की संभावना है।

विपक्ष के लिए पाला बदलने वाले चुनौती

विपक्ष के लिए इस समय वो नेता बड़ी चुनौती बन गए हैं जो कि पार्टी छोड़कर भाजपा में जा रहे हैं। नारनौल हलका में निर्दलीय चुनाव लड़कर करीब 10 हजार वोट हासिल करने वाले सुरेश सैनी ने भाजपा ज्वाइन की है। अटेली हलका से जेजेपी जिला अध्यक्ष सत्यवीर नौताना और उनकी बेटी जेजेपी लोकसभा प्रत्याशी स्वाति यादव भाजपा पाले में आए हैं। महेंद्रगढ़ हलका से लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी के प्रदेश युवा अध्यक्ष एवं लोकसभा प्रत्याशी राव रमेश पायलट ने भी भाजपा ज्वाइन की है। जेजेपी के मीडिया प्रभारी एवं जिला व्यापार मंडल के अध्यक्ष बजरंगलाल अग्रवाल ने भी खेमा बदल भाजपा ज्वाइन की है। भाजपा ज्वाइन करने वाले इन नेताओं का अपना प्रभाव है, इसका फायदा विधानसभा चुनाव में देखने को मिलेगा।

ये लड़ सकते हैं विधानसभा चुनाव

भाजपा की बात करें तो विधायक ओमप्रकाश यादव, नप चेयरपर्सन भारती सैनी, जिला अध्यक्ष शिव कुमार महता, जिला प्रमुख राजेश देवी, राकेश शर्मा एडवोकेट, गोबिंद भारद्वाज, महेश यादव, संदीप नीरपुर एडवोकेट, मार्केट कमेटी चेयरमैन जेपी सैनी, बाबूलाल पटीकरा, डा. मनीष यादव, गणेश राव व सुरेश सैनी है। कांग्रेस पार्टी से पूर्व स्वास्थ्य मंत्री राव नरेंद्रसिंह, पूर्व विधायक राधेश्याम शर्मा व किरण समर्थक देवेंद्र हुडिना है। जेजेपी ने कमलेश सैनी को उम्मीदवार घोषित कर दिया है। इनेलो से राव होशियारसिंह, जयसिंह सैनी उम्मीदवारी की दौड़ में है। महेंद्रगढ़ हलके में भाजपा से प्रो. रामबिलास शर्मा, कंवरसिंह यादव, सुरेंद्र कौशिक, अजय सिगड़ा व राव रमेश पायलट दौड़ में है। कांग्रेस से राव दानसिंह व सत्यवीर हैं। जेजेपी ने राव रमेश पालड़ी व आप ने अजय शर्मा को उम्मीदवार घोषित कर ही दिया है। निर्दलीय के रूप में सरताज ग्रुप के पीआरओ कुलदीप यादव, इंजीनियर संदीप यादव, राकेश गौतम व राकेश बसई भी चर्चा में है। अटेली से संतोष यादव, मनीष राव, स्वाति यादव, प्रो. वीरसिंह यादव, सीताराम यादव, जसवंत बबलू व हनुमान दौड़ में है। कांग्रेस से पूर्व विधायक नरेश यादव, पूर्व सीपीएस अनीता यादव, सुरेंद्र नंबरदार, हिम्मत यादव व राव अर्जुनसिंह उम्मीदवारी की दौड़ में है। नांगल चौधरी हलका से भाजपा पार्टी से डा. अभयसिंह, दयाराम यादव, सत्यव्रत शास्त्री, एडवोकेट अनील मांदी, संदीप शिमली है। जेजेपी से मूला राम, मंजू चौधरी, डा. गजेसिंह चौपड़ा, रोहताश व डीएन यादव है।

Next Story
Top