Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

हरियाणा चुनाव : हर पार्टी में मची है टिकट को लेकर घमासान, कार्यकर्ताओं ने खोला अपने ही विधायक के खिलाफ मोर्चा

हरियाणा में सियासी गर्मी दिनोंदिन बढ़ती जा रही है। विधानसभा चुनाव की तारीखों की औपचारिक घोषणा नहीं हुई है पर पार्टियों के अन्दर टिकट को लेकर पारा हाई होता जा रहा है। सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी हो या फिर कांग्रेस व इनेलो, सभी ऐसी शख्सियत को मैदान में उतारना चाहते हैं जिसकी जमीनी पकड़ मजबूत हो और जनता के बीच वह लोकप्रिय हो।

Haryana Assembly Election 2019: सी-वोटर का सर्वे, हरियाणा भारी बहुमत से सरकार बनाएगी भाजपाHaryana Assembly Election 2019: CVoter Survey BJP Will Form Haryana Govt With Huge Majority

हरियाणा में सियासी गर्मी दिनोंदिन बढ़ती जा रही है। विधानसभा चुनाव (Haryana Vidhansabha Chunav) की तारीखों की औपचारिक घोषणा नहीं हुई है पर पार्टियों के अन्दर टिकट को लेकर पारा हाई होता जा रहा है। सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी हो या फिर कांग्रेस व इनेलो, सभी ऐसी शख्सियत को मैदान में उतारना चाहते हैं जिसकी जमीनी पकड़ मजबूत हो और जनता के बीच वह लोकप्रिय हो।

चुनाव की तारीखों का ऐलान न होने के कारण फिलहाल पार्टियों ने पत्याशियों के नामों की सूची रोक रखी है लेकिन एक बात तो तय है कि तैयारियां सभी पार्टियों ने पूरी कर ली है। भाजपा के खेमें में प्रत्याशियों के चुनाव को लेकर सबसे ज्यादा परेशानी आने वाली है। क्योंकि वर्तमान विधायक को हटाना और उसके स्थान पर दूसरी पार्टी से आए नेता को टिकट देना कार्यकर्ताओं को हजम नहीं होगा।

कुछ सीटों पर पार्टी के कार्यकर्ताओं ने अपने ही विधायक के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है। वर्तमान विधायक की शिकायतों को लेकर प्रदेश के साथ केंद्रीय नेतृत्व को चिट्ठी लिखी है। और इसबार किसी और को प्रत्याशी बनाए जाने की बात कही है। केंद्रीय नेतृत्व इन पत्रों के लेकर बेहद सजगता बरत रहा है। सूत्रों की माने तो करीब 20 से 25 विधायकों का टिकट कटना तय बताया जा रहा है।


चुनाव को लेकर एक महात्वपूर्ण बात ये है कि भाजपा खेमें से टिकट की चाह रखने वालों की संख्या सबसे ज्यादा है। कहीं तो एक ही सीट पर 18 से ज्यादा लोगों ने टिकट को लेकर दावेदारी की है। वहीं प्रदेश में कई मंत्रियों व विधायकों की ऐसी भी सीटें है जहां उनके मुकाबले दूसरा कोई भी दावेदार नहीं है। कांग्रेस के खेमें में भी टिकट को लेकर उहापोह की स्थिति बनी हूई है।

कांग्रेस के वर्तमान 16 विधायकों को दोबारा टिकट मिलना तय बताया जा रहा है। इसके अलावा बाकी की सीटों के लिए पार्टी जिताऊ चेहरे की खोज में लगी हूई है जो पार्टी की नैया को पार लगा दे। प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा व पार्टी अध्यक्ष कुमारी शैलजा का आशीर्वाद जिसपर रहेगा टिकट उसी को मिलेगा। बाकी पार्टी का आलाकमान भी चुनाव को लेकर लगातार नजर बनाए हुए है।

Next Story
Top