Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Haryana Assembly Election: कुमारी शैलजा का बीजेपी के संकल्प पत्र पर हमला, कहा 'काठ की हांडी बार-बार नहीं चढ़ती'

Haryana Assembly Election: हरियाणा की कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुमारी शैलजा (Kumari Selja) ने रविवार को बीजेपी (BJP) के जारी किए हुए घोषणा पत्र (Manifesto) पर चौतरफा हमला बोला है। उन्होंने 2014 के घोषणा पत्र से 2019 को संकल्प पत्र की तुलना की है और इसे जुमला पत्र बताया है।

Haryana Assembly Election: कुमारी शैलजा का बीजेपी के संकल्प पत्र पर हमला, कहा "काठ की हांडी बार-बार नहीं चढ़ती"Kumari Selja attacked BJP Manifesto for Haryana Assembly Election, declared it Bundle of Lies

Haryana Assembly Election: भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने रविवार को चंडीगढ़ स्थित पार्टी के कार्यालय पर हरियाणा विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी का संकल्प पत्र जारी कर दिया। भाजपा ने अपने संकल्प पत्र (Manifesto) में किसानों व महिलाओं के लिए विभिन्न योजनाओं की घोषणा की है। लेकिन पार्टी के लोक लुभावन घोषणा पत्र पर विपक्षी दलों ने हमला बोलना शुरू कर दिया है। हरियाणा कांगेस अध्यक्ष कुमाली शैलजा ने भाजपा के घोषणा पत्र को झूठ के पुलिंदे पर आधारित जुमला पत्र बताया है।

जनता को गुमराह करने की कोशिश

कुमारी शैलजा ने भाजपा के संकल्प पत्र पर हमला बोलते हुए कहा है कि हरियाणा की जनता उम्मीदें लिए बैठी थी कि भाजपा अपने 5 वर्षों के शासन का जवाब देगी। अपनी रिपोर्ट सामने रखेगी। लेकिन भाजपा ने एक बार फिर प्रदेश को झूठ के पुलिंदे पर तैयार घोषणापत्र से बहकाने की कोशिश की है। उन्होंने भाजपा के घोषणा पत्र पर तंज कसते हुए कहा है कि 'काठ की हांडी बार-बार नहीं चढ़ती'।

महिलाओं को बराबरी लायक नहीं समझा

घोषणा-पत्र के विमोचन के दौरान मंच पर किसी महिला के उपस्थित नहीं होने पर कुमारी शैलजा ने भाजपा पर निशाना साधा। कहा कि महिला सशक्तिकरण पर कोरे वादे और थोथी घोषणाएं करने वालों की मानसिकता ऐसी है कि जब आज घोषणा पत्र जारी करते हुए अपने मंच पर एक महिला को बराबरी के लायक नहीं समझा। बीजेपी का सपनों का हरियाणा हमारी माताओं, बहनों, बेटियों की हकमारी करने वाला है।

जुमला पत्र द्वितीय में वही वादे दोहराए

उन्होंने 2014 विधानसभा चुनाव में भाजपा द्वारा जारी किए गए घोषणा पत्र से नए घोषणा पत्र की तुलना करते हुए कहा है कि बीजेपी ने 2014 के जुमला पत्र में हर बच्चे, महिला, बुजुर्ग को स्वास्थय कार्ड देने की बात की थी। बीजेपी ने कहा था कि उन्हें कुपोषण मुक्त रखने के लिए विशेष धनराशि का प्रावधान किया जाएगा। फिर क्या वजह रही कि आज बीजेपी के जुमला पत्र-द्वितीय में वही वादा दोहराने की नौबत आई है? इस बार तो न स्वास्थ्य कार्ड देने की बात है न बजट में प्रावधान देने की। बस एक लाइन से जुमला फेंक दिया कुपोषण मुक्त हरियाणा बनाएंगे। उन्होंने आगे कहा कि 2014 में बीजेपी का वादा था कि सरकारी कर्मचारियों के वेतन-भत्ते पंजाब के समान किए जाएंगे। आज 2019 में फिर सरकारी कर्मियों की वेतन विसंगति दूर करने की घोषणा पढ़ दी। हकीकत यह है कि इन पांच वर्षों में भाजाप शासन ने सरकारी कर्मियों के लिए कुछ नहीं किया।

पांच सालों में किस सिटी को बनाया स्मार्ट

घोषणा पत्र में स्मार्ट सिटी की घोषणा को लेकर उन्होंने भाजपा पर वार करते हुए कहा है कि भाजपा ने घोषणा की है कि हरियाणा के कस्बों को स्मार्ट सिटी की तर्ज पर स्मार्ट बनाया जाएगा। बीजेपी सिर्फ इतना बता दे कि इन पांच सालों में हरियाणा की किस सिटी को स्मार्ट बनाया? क्या इस फेहरिस्त में शामिल करनाल और फरीदाबाद को स्मार्ट बना दिया? स्वास्थ्य की दिशा में संकल्प पत्र में की गई घोषणाओं को लेकर कुमारी शैलजा ने कहा कि नीति आयोग के हेल्थ इंडेक्स के अनुसार हरियाणा के पीएचसी और सीएचसी में 35.4 प्रतिशत स्टाफ नर्सेस की कमी है। इस कमी को दूर करने की दिशा में 5 साल तक बीजेपी सरकार निष्क्रिय रही। आज वेलनेस और मल्टीस्पेशलिटी अस्पताल के दावों पर जनता को बहकाना चाहती है।

Next Story
Top