Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

कैप्टन अभिमन्यु इंटरव्यू : बोले कैप्टन, विपक्षी भी मानते हैं कि नारनौंद में बहुत काम हुआ है

कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि जनता संकल्प कर चुकी है कि एक बार फिर से भाजपा की सरकार बनानी है। पांच साल में हमने प्रदेश के विकास में कोई कसर नहीं छोड़ी है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में नारनौंद सहित सभी 90 हलकों में विकास के कामों ने बहुत तेजी से गति पकड़ी है।

महाराजा सूरजमल का साथ लिया होता तो देश का इतिहास अलग होता: कैप्टन अभिमन्युहरियाणा पूर्व मंत्री कैंप्टन अभिमन्यू (फाइल)

हरियाणा में विधानसभा चुनाव प्रचार खत्म होने से पहले वित्तमंत्री और नारनौंद से भाजपा प्रत्याशी कैप्टन अभिमन्यु ने कई समाचार चैनल्स को दिए इंटरव्यू में बड़े मार्जिन से जीत की बात कही है। वित्तमंत्री का कहना है कि लोगों ने मन बना लिया है कि भाई भतीजावाद और भ्रष्टाचार की राजनीति का दौर अब हमेशा के लिए समाप्त कर देना है। भाजपा की एक समान विकास की नीति, सुशासन और पारदर्शी सरकार का समर्थन करना है। नारनौंद में अपने मुकाबले वह किसी को नहीं मानते। उनका कहना है कि नारनौंद के चुनाव में अगर कहीं मुकाबला है तो वह दो नंबर और तीन नंबर के लिए है। नारनौंद में तो विपक्षी भी कहते हैं कि बहुत विकास कार्य हुए हैं, इन्हें और आगे ले जाना है अगले पांच साल में। देश और प्रदेश के बड़े मुद्दों पर उन्होंने अपने विचार भी रखे।

प्रश्न: क्या मुद्दे नारनौंद में इस चुनाव में आपको दिखाई दे रहे हैं?

कैप्टन अभिमन्यु: जनता संकल्प कर चुकी है कि एक बार फिर से भाजपा की सरकार बनानी है। पांच साल में हमने प्रदेश के विकास में कोई कसर नहीं छोड़ी है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में नारनौंद सहित सभी 90 हलकों में विकास के कामों ने बहुत तेजी से गति पकड़ी है। अगले पांच साल जो हमें मिलने जा रहे हैं उसमें और भी बहुत ज्यादा काम करने हैं। नारनौंद में ये मेरा चुनाव नहीं है। ये जनता का चुनाव है और जनता अपने विकास के लिए खुद चुनाव लड़ रही है। हरियाणा को जातिवाद की राजनीति ने बड़ा नुकसान किया है, लेकिन इस चुनाव में केवल मुद्दा है तो वो विकास और सुशासन है। नारनौंद में विकास का बीज अंकुरित हो गया है। अगले पांच साल में इसे पौधा बनाना है।

प्रश्न: नारनौंद के लिए अगले पांच साल का विजन क्या है?

कैप्टन अभिमन्यु: जनता के कामों को और आगे बढ़ाना है। समान विकास का सिलसिला यूं ही तेज करेंगे। नारनौंद के लिए पांच साल में जितना काम किया है और उससे भी कई गुणा तेजी से अगले पांच में काम होगा, क्योंकि अब एक आधारभूत ढांचा तैयार हो चुका है। जनता से जो अनुभव मिला है, जनता जो चाहती है वह सब काम होंगे। मूलभूत सुविधाएं उपलब्ब्ध हो गई हैं। सड़कें बन गई हैं। पानी की व्यवस्था करीबन दुरुस्त हो चुकी है, जहां काम बाकी है वो भी जल्दी हो जाएंगे। पशुओं का बड़ा अस्पताल अगले छह महीने में पूरा हो जाएगा। शिक्षा और स्वास्थ्य पर पूरा ध्यान है। बिजली 24 घंटे अगले पांच साल में देनी है। सभी 59 गांव में पानी के लिए प्रोजेक्ट चल रहे हैं। रोजगार बड़ा मुद्दा है। इंडस्ट्रियल बैकवर्ड एरिया इसको घोषित करवाया है ताकि उद्योग लगाने वालों को ज्यादा सुविधाएं दे सकें।

प्रश्न: भाजपा ने भी घोषणा पत्र जारी किया है, दूसरी पार्टियों ने भी वादे किए हैं, क्या कहेंगे आप?

कैप्टन अभिमन्यु: कांग्रेस अब वो कांग्रेस नहीं रही है। अपने घोषणापत्र को तो वो चुनाव के बाद खोलकर भी नहीं देखते हैं। भारतीय जनता पार्टी ने केवल वो वादे किए हैं जो जनता असल में चाहती है। जनता से पूछकर ही घोषणापत्र तैयार किया गया है, हर वादा पूरा होगा।

प्रश्न: भाजपा का 75 पार का जो नारा है उस पर क्या कहेंगे?

कैप्टन अभिमन्यु: निश्चित तौर पर जनता इसे सार्थक करने जा रही है। इस चुनाव में जनता विपक्षी पार्टियों को ये सबक भी सिखाएगी अब गैर जिम्मेदारी से राजनीति करने का दौर चला गया है। अब भाजपा से सीख लेकर सबको जनहित की राजनीति करनी है।

प्रश्न: आपकी पार्टी का इस चुनाव में मुकाबला किससे हैं?

कैप्टन अभिमन्यु: हमारे मुकाबले में कोई नहीं है। विपक्ष की लड़ाई दूसरे-तीसरे और चौथे नंबर के लिए है। रही बात मेरे हलके नारनौंद की तो लोग यहां तय कर चुके हैं कि किसी भी सूरत में विकास से समझौता नहीं करना है और जात पात की राजनीति में नहीं फंसना है। हरियाणा में हमारा संकल्प है कि 75 पार सीटें जीतेंगे। इस चुनाव में भाजपा के सामने कोई भी पार्टी चुनौति पेश नहीं कर सकती।

प्रश्न: जजपा और कांग्रेस के बारे में क्या कहेंगे?

कैप्टन अभिमन्यु: सबका स्वागत है। मैदान में वो भी हैं और हम भी हैं। नारनौंद की जनता इस बार परिवारवाद, जातिवाद की राजनीति को हमेशा हमेशा के लिए समाप्त करने वाली है। नारनौंद मेरा परिवार है, मैं इस परिवार का सदस्य हूं। यहां विकास की गति को न थमने देंगे और ना ही रुकने देंगे।

प्रश्न: भाजपा तो 370 के मुद्दे को भी उठा रही है? आपको लगता है ये चुनाव में कोई मुद्दा है?

कैप्टन अभिमन्यु: हरियाणा के जवानों, यहां की धरती के लिए जम्मू-कश्मीर और धारा 370 हटाया जाना एक भावनात्मक मुद्दा है। यहां के जवान देश की सीमा पर डटे हुए हैं। सबको उनकी सुरक्षा की चिंता रहती है। धारा 370 का बाबा साहेब ने भी विरोध किया था और सरदार बल्लभभाई पटेल ने भी किया था। एक देश में दो विधान नहीं चल सकते हैं। यह हरियाणा में इसलिए मुद्दा है कि क्योंकि जम्मू कश्मीर में हरियाणा के लाल कुर्बानियां देते हैं। देश की सेना में हर दसवां जवाना हरियाणा का है तो ऐसे में जम्मू कश्मीर से जुड़ी हर बात से हमारा भावनात्मक मुद्दा है।

प्रश्न: मुख्यमंत्री ने कहा था कि हरियाणा में एनआरसी होगा?

कैप्टन अभिमन्यु: क्यों नहीं होना चाहिए। हम राजनीतिक में फायदे के लिए कोई काम नहीं करते, हमारे लिए जनता का हित सर्वोपरी है। नौरकियों में मैरिट की बात भी लोगों ने कहा कि इसे लोग नाराज हो जाएंगे। आज आप देखें, युवा योग्यता से नौकरी पाकर कितने खुश हैं, आज बच्चों में पढने की होड लगी हुई, हरियाणा में ये बडा बदलाव है।

प्रश्न: जनता क्या आपको फिर से कप्तानी देगी? जीत के प्रति कितने आश्वस्त हैं आप?

कैप्टन अभिमन्यु: कप्तानी तो बहुत साल पहले सेना ने मुझे दे दी थी। जनता की तो सेवा का काम जिम्मे है। नारनौंद में ऐसा वातावरण बन चुका है कि ये चुनाव नारनौंद के विकास और नारनौंद के विकास के विरोध में राेडे अटकाने वालों की पहचान का है। मैंने एक फौजी की तरह अनुशासन में रहकर यहां की जनता की सेवा की है। आज आप नारनौंद में घूमें तो विपक्षी भी कहेंगे कि काम तो बहुत हुए हैं। पिछली बार मेरा पीने का पानी पहुंचाने का संकल्प था इस बार हर टेल तक पूरा पानी पहुंचाने का संकल्प है। रेललाइन भी अगले पांच साल में तैयार हो जाएगी। जनता मेरी कप्तान मैं तो उनके आदेश पाकर काम पर जुटा हूं।

प्रश्न: आप पहले नंबर पर आते हैं तो दूसरे नंबर पर कौन है?

कैप्टन अभिमन्यु: पहले और दूसरे नंबर के बीच में काफी अंतर रहने वाला है। अतीत में वो हमारी पार्टी में रहे हैं और दूसरी कई पार्टियों में भी रहे हैं। उनका अपना इतिहास है और उनके राजनीतिक इतिहास से जनता भली भांति परिचित है, उनके बारे में मैं क्या कहूं वो मेरे से बडे हैं। वो उस पार्टी के प्रत्याशी हैं जो जननायक चौधरी देवीलाल के नाम पर बनी है लेकिन जो प्रत्याशी हैं वो तो जननायक को ही जीवनभर गालियां देते रहे। इनकी पार्टी और इनके प्रत्याशी की आपस में ही कैमेस्ट्री नहीं बन सकती है। एक विधायक के नाते उन्होंने कोई काम नहीं किए। मुझे नहीं लगता कि किसी का कोई मुकाबला है। इस बार एकतरफ विकास के लिए वोट डाले जाने हैं। भाई भतीजावाद, भ्रष्टाचार के दौर से निकलकर अब उससे कभी नहीं जाने चाहती।

प्रश्न: चुनाव प्रचार आज खत्म हो जाएगा। किसी तरह की एंटी इकमबेंसी आपको इस चुनाव में दिखाई दी है?

कैप्टन अभिमन्यु: नहीं, जनता खुश है। माहौल सबकुछ बता देता है। एकसमान विकास से जनता खुश है और भाजना को जनसमर्थन मिल रहा है। विपक्ष के लोगों के बच्चे तक भी पारदर्शिता से नौकरी लगे हैं, इससे बडा बदलाव क्या होगा प्रदेश में। गिरोह वाली संस्कृति तो हरियाणा में बहुत हो चुकी है जनता ने देखकर ही भाजपा को पिछली बार चुना था। गिरोह संस्कृति को भाजपा ने तोड दिया है। ऐसी संस्कृति से निकले लोगों को पारदर्शिता से दिक्कत होती है तो उसका कोई समाधान नहीं है। विचाराधारा और मुद्दे पर विरोध करें तो समझ में आता है लेकिन सही चीजाें का विरोध सही नहीं है। स्वच्छ लोकतंत्र के आधार पर वो भी राजनीति करें, प्रदेश के लोगों की भलाई इसी में है। आज प्रदेश के युवाओं को भरोसा है कि हम पढेंगे तो बढेंगे, ये कितनी अच्छी बात है।

प्रश्न: हुड्डा साहब के नेतृत्व में चुनाव लडा जा रहा है कांग्रेस द्वारा, क्या मुकाबला कर रहे हैं वो भाजपा का?

कैप्टन अभिमन्यु: हुड्डा साहब को कमान सौंपने का मतलब है कि कांग्रेस फिर वही भ्रष्टाचार के मामले और परिवारवाद से बाहर ही नहीं निकलने देना चाहती है। इन्हीं के कारण तो हरियाणा में कांग्रेस डूबी है। इनके कमान सौंपने से कांग्रेस समर्थित लोग ही मायूस हैं। उन्हें फिलहाल तो कानून को जवाब देने हैं।

हरियाणा के बदलाव में आपका क्या योगदान रहा? चुने जाने पर सरकार से आपकी खुद की क्या उम्मीद है?

वित्तमंत्री के नाते मैंने हरियाणा के वित्त प्रबंधन को सुदृढ किया है। पांच साल में किसी भी विकास कार्य के लिए धन की कमी नहीं होने दी है। संतुष्ट हूं कि हरियाणा के वित्त प्रबंधन की तारीफ होती है। रही बात अगले पांच साल की तो मैं नारनौंद का विधायक बनूंगा और जो संगठन जिम्मेदारी देगा वो सौ प्रतिशत निभाऊंगा। अपने तरफ से मैंने हमेशा बेस्ट किया है। जनता की सेवा कर पाया इसके लिए मैं सबका आभारी हूं।

Next Story
Top