Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Haryana Assembly Election : राव इंद्रजीत-राव नरबीर के गढ़ में हारी भाजपा, यादवों के राजा भी नहीं दिला सके जीत

हरियाणा विधानसभा चुनावों में भाजपा को दक्षिण हरियाणा में हार मिली है। अहीरावल बेल्ट में राव इंद्रजीत और राव नरबीर के गढ़ में पार्टी हार गई है।

हरियाणा विधानसभा चुनावों में भाजपा का प्रदर्शन आशा से कमजोर रहा है। भाजपा दक्षिण हरियाणा की उन सीटों को भी हार गई जहां पर पार्टी मजबूत मानी जाती है। अहीरावल बेल्ट में राव इंद्रजीत और राव नरबीर के गढ़ में पार्टी हार गई है। बादशाहपुर और रेवाड़ी दोनों सीटें भाजपा को गंवानी पड़ी हैं। अहीरवाल के राजा राव इंद्रजीत भी पार्टी को जीत नहीं दिला सके।

हरियाणा विधानसभा चुनाव 2014 में भाजपा ने रेवाड़ी और गुरुग्राम जिले की सभी सातों सीटें जीती थीं। गुरुग्राम, बादशाहपुर, सोहना, पटौदी, रेवाड़ी, कोसली और बावल सीट पर जीतकर भाजपा उम्मीदवार विधानसभा पहुंचे थे। लेकिन इस बार केंद्रीय राज्य मंत्री राव इंद्रजीत और पीडब्ल्यूडी मंत्री राव नरबीर के गढ़ में हार का सामना करना पड़ा है। केंद्रीय राज्य मंत्री राव इंद्रजीत को रेवाड़ी का राजा माना जाता है। लेकिन कांग्रेस नेता कैप्टन अजय यादव के बेटे राव चिरंजीव से पार नहीं पा सके। राव चिरंजीव ने भाजपा के सुनील मुसेपुर को हरा दिया।

दूसरी तरफ पीडब्ल्यूडी मंत्री राव नरबीर को यादवों का बड़ा नेता माना जाता है। बादशाहपुर सीट से जीतकर 2014 में विधानसभा पहुंचे थे। लेकिन इस बार भाजपा ने मनीष यादव को टिकट दिया। लेकिन मंत्री राव नरबीर भाजपा प्रत्याशी को जीत नहीं दिला सके। निर्दलीय प्रत्याशी राकेश दौलताबाद से हार का सामना करना पड़ा।

दोनों नेताओं की उपेक्षा पड़ी भारी

भारतीय जनता पार्टी ने टिकट वितरण में दोनों नेताओं की उपेक्षा की थी। राव इंद्रजीत बेटी आरती राव के लिए रेवाड़ी से टिकट मांग रहे थे। लेकिन भाजपा ने आरती राव को टिकट नहीं दिया। जिससे पूरी अहीरवाल बेल्ट में गलत संदेश गया। ठीक उसी तरह राव नरबीर को पहली सूची में बादशाहपुर से टिकट नहीं दिया गया। बाद में उम्मीद थी की रेवाड़ी से टिकट दिया जा सकता है। लेकिन अंत में भाजपा ने उन्हें टिकट ही नहीं दिया।

Next Story
Top