Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

भाजपा ने राव इंद्रजीत के करीबियों के काटे टिकट, रेवाड़ी सीट पर भी बेटी को नहीं बनाया प्रत्याशी

भारतीय जनता पार्टी ने राव इंद्रजीत को दोहरा नुकसान पहुंचाया है। राव इंद्रजीत की बेटी आरती राव को रेवाड़ी से अभी तक उम्मीदवार घोषित नहीं किया है। इसके अलावा राव इंद्रजीत के करीबियों के टिकट भी काट दिए हैं।

Haryana Assembly Election : भाजपा पर राव इंद्रजीत का दवाब नहीं आया काम, बेटी आरती राव को नहीं दिया रेवाड़ी से टिकटRao Inderjit

हरियाणा विधानसभा चुनावों में भाजपा की तरफ से प्रत्याशियों की घोषणा कर दी गई है। भाजपा प्रत्याशियों के निर्णय में केंद्रीय राज्य मंत्री राव इंद्रजीत की नहीं चली है। राव इंद्रजीत की बेटी को रेवाड़ी से प्रत्याशी अभी तक घोषित नहीं किया गया है। इसके अलावा उनके करीबियों के भी टिकट काट दिए गए हैं।

हरियाणा की राजनीति में हमेशा राव इंद्रजीत को अहीरवाल बेल्ट के राजा के तौर पर लिया गया। राव इंद्रजीत भले किसी भी पार्टी में रहे हों लेकिन हमेशा दक्षिण हरियाणा के प्रत्याशियों का फैसला उनसे पूछकर लिया गया। 2014 में भी राव इंद्रजीत की सलाह पर ही भाजपा ने प्रत्याशियों की घोषणा की थी। उस वक्त राव इंद्रजीत ने अपने करीबियों को टिकट दिलाए थे। लेकिन ऐसा पहली बार 2019 में हुआ है जब राव इंद्रजीत की टिकट निर्धारण में नहीं सुनी गई है।

राव इंद्रजीत अपनी बेटी आरती राव के लिए रेवाड़ी से टिकट मांग रहे थे। लेकिन भाजपा ने अभी तक रेवाड़ी से प्रत्याशी की घोषणा ही नहीं की है। बेटी को टिकट दिलाने पर अड़े राव इंद्रजीत के लिए ये बड़ा झटका है। क्योंकि 78 प्रत्याशियों की सूची में भाजपा ने उनकी बेटी के नाम की घोषणा नहीं की है। जिससे तय है कि राव इंद्रजीत की बेटी को भाजपा टिकट नहीं देगी।

करीबी विधायकों के काटे टिकट





भाजपा ने जहां राव इंद्रजीत की बेटी को टिकट नहीं दिया है। वहीं उनके करीबी विधायकों के टिकट भी काट दिए हैं। जानकारी के मुताबिक सोहना के विधायक तेजपाल तंवर राव इंद्रजीत के करीबियों में शामिल हैं। जबकि पटौदी विधायक विमला चौधरी उनकी सबसे खास विधायकों में से मानी जाती है। लेकिन भाजपा ने इन दोनों विधायकों के टिकट काट दिए हैं। इनके स्थान पर दूसरे उम्मीदवारों पर भरोसा किया है। इसके अलावा गुरुग्राम से भी वर्तमान विधायक उमेश अग्रवाल को प्रत्याशी नहीं बनाया है।

रेवाड़ी से लड़ सकते हैं राव नरबीर

केबिनेट मंत्री राव नरबीर को रेवाड़ी सीट से चुनाव लड़ाने का फैसला किया गया है। सूत्रों के मुताबिक राव इंद्रजीत बेटी आरती राव के लिए रेवाड़ी से टिकट मांग रहे हैं। जबकि भाजपा ने किसी भी सासंद, मंत्री के परिजन को टिकट नहीं देने का फैसला किया है। ऐसे में राव इंद्रजीत रेवाड़ी में बगावत कर बेटी को खड़ी कर सकते हैं। पार्टी को संभावित नुकसान से बचाने के लिए रेवाड़ी से लड़ाया जा सकता है। क्योंकि राव नरबीर भी अहीरवाल बेल्ट के बड़े नेता है। इसके अलावा रेवाड़ी में उनकी अच्छी खासी पकड़ है।

Next Story
Top