Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Haryana Assembly Election : भाजपा प्रत्याशियों ने किया जीत का दावा, विपक्षियों का एक्जिट पोल मानने से इंकार

हरियाणा विधानसभा चुनाव के मतदान के बाद हर प्रत्याशी जीत का दावा कर रहा है। भाजपा प्रत्याशी एक्जिट पोल के आधार पर जीत का दावा कर रहे हैं। जबकि विपक्षियों ने एक्जिट पोल को मानने से इंकार कर दिया है।

जानिए किन सीटों को भाजपा ने खोया, किस नई सीटों पर जीत दर्ज कीभाजपा

मतदान के बाद आए एग्जिट पोल को भाजपा के अलावा बाकि सभी दलों व निर्दलीयों ने नकार दिया है। इन नेताओं के अपने-अपने आधार पर जीत के दावें हैं। मतदान प्रक्रिया पूरी होने के बाद आज नेताओं ने अपने समर्थकों के साथ वोटिंग ट्रेंड को देखते हुए हार-जीत का गुणा भाग लगाया।

छावनी से भाजपा प्रत्याशी अनिल विज ने कहा कि भाजपा अपने 75 प्लस के लक्ष्य से कहीं आगे जाएगी। इसमें अंबाला छावनी की बंपर जीत भी शामिल है। विज ने लोकसभा चुनाव की तरह छावनी में बीस हजार से अधिक की जीत का दावा किया। लेकिन उनकी प्रतिद्वंदी वेणू सिंगला ने कहा कि जनता ने बदलाव के लिए वोट किया है। वेणू ने कहा कि अभी तक छावनी से बाहर के प्रत्याशियों से विज का मुकाबला था। लेकिन इस बार कांग्रेस ने स्थानीय प्रत्याशी को उतारा है तो जनता को अनिल विज का विकल्प मिला है। वहीं मुकाबले को तिकोना बनाने वाली कांग्रेस की बागी व आजाद प्रत्याशी चित्रा सरवारा ने कहा कि कांग्रेस का प्रत्याशी तीसरे नंबर पर रहेगा। छावनी में उनका मुकाबला अनिल विज के साथ है। छावनी के शहरी वोटों के अलावा हल्के के गांव ने एकतरफा उनके पक्ष में वोटिंग की है।

जनता ने विकास के नाम पर दिया वोट

अंबाला शहर-अंबाला शहर विधानसभा सीट पर मुकाबला तिकोना था। मौजूदा विधायक असीम गोयल ने कहा कि जनता ने विकास के नाम पर वोट दिया है। इसलिए लगातार दूसरी जीत तय है। लेकिन कांग्रेस के जसबीर मलौर ने कहा कि शहर में बीते पांच सालों में जो भ्रष्टाचार हुआ है,लोगों ने उसके विरोध में कांग्रेस को वोट दिया है। भाजपा प्रत्याशी को केवल शहर में वोट मिले है जबकि उन्हे गांव व शहर सभी जगह वोट मिले हैं।

लेकिन मुकाबले को तिकोना बनाने वाले पूर्व मंत्री निर्मल सिंह कहते हैं कि कांग्रेस प्रत्याशी तीसरे नंबर पर आएगा। उनका मुकाबला भाजपा के साथ है। उनके पुराने हल्के नग्गल के डेढ़ दर्जन गांवों ने उन्हें एक बार फिर से भारी समर्थन दिया है। वहीं कांग्रेस के टिकट वितरण से नाराज दिग्गज कांग्रेसियों ने शहर में उनके लिए बहुत वोट जुटाए हैं जिसके दम पर वे भारी जीत दर्ज करेंगे।

भाजपा हार नहीं टाल पाएगी

मुलाना-मुलाना हल्के से भाजपा प्रत्याशी राजबीर बराड़ा ने कहा कि मुलाना से उनकी जीत तय है। बीते पांच साल में हुए विकास कार्य व उनका इनेलो में रहते जुटाया व्यक्तिगत वोट बैंक उनकी जीत का आधार है। उनके विरोधी कांग्रेस प्रत्याशी वरूण मुलाना कहते हैं कि भाजपा ने हार के डर से मौजूदा विधायक संतोष सारवान का टिकट काटा था। लेकिन प्रत्याशी बदलने पर भी भाजपा हार नहीं टाल पाएगी। लोग पांच साल के सरकार के कारनामों व महंगाई तथा बेरोजगारी से तंग थे।

नाराययणगढ-भाजपा प्रत्याशी सुरेंद्र राणा ने कहा कि लोकसभा चुनाव की तरह भाजपा भारी मतों से जीतेगी। उन्होंने कहा कि सरकार के विकास कार्य व ईमानदार छवि के नाम पर लोगों ने वोट किया है। उन्होंने कहा कि उनकी जीत में कार्यकर्ताओं की मेहनत भी शामिल होगी।

Next Story
Top