Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Haryana Election: मनोहर लाल खट्टर बोले- पांच साल चलायी सरकार, बिना पर्ची-खर्ची के 72 हजार नौकरियां दीं

मुख्यमंत्री खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने कहा कि हमने पांच साल सरकार (Haryana Govt) चलाई और बिना खर्ची और बिना पर्ची 72 हजार नौकरियां दी। हमने पहले सरकार चलाने वाले पता नहीं क्यों स्थाई भर्ती नहीं करते थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि आचार संहिता (Code Of Conduct) लगी हुई है, इसलिए नई बात नहीं कही जा सकती। जो बातें हो चुकी हैं, उन्हीं का जिक्र किया जा सकता है।

चार साल पहले मनोहर सरकार को गिराने की थी तैयारी, अब भाजपा ने उनको सिखा दिया सबक
X
Haryana Assembly Election : Four years ago, preparations were made to topple the Manohar government, now BJP has taught them a lesson

मुख्यमंत्री मनोहर लाल (Manohar Lal Khattar) शनिवार को रोहतक (Rohtak) पहुंचे। यहां दिल्ली बाईपास (Delhi ByPass) स्थित एक निजी गार्डन (Garden) में अतिथि अध्यापकों ने उनका धन्यवाद करने के लिए कार्यक्रम का आयोजन किया। मुख्यमंत्री ने उनसे सीधी बातचीत की और स्पष्ट किया कि आचार संहिता लगी हुई है, इसलिए कोई घोषणा या आश्वासन नहीं दिया जा सकता।

इस दौरान मनोहर लाल ने पूर्व की सरकारों पर भी निशाना साधा और कहा कि पहले भर्ती पता नहीं कैसे होती थी, सीधी यानी स्थाई भर्ती करते ही नहीं थे, इसमें नेताओं का निजी लाभ होता या और कोई बात, कहा नहीं जा सकता। उन्होंने इनेलो पर करारा वार किया और कहा कि एक भर्ती तो ऐसी भी थी कि पूर्व सीएम को 10 साल की कैद हुई।

मुख्यमंत्री जिस वक्त गेस्ट टीचर्स से बात कर रहे थे तो एक अध्यापक ने कहा कि आने वाली सरकार भी भाजपा की होगी और आप पहली कलम से अतिथि अध्यापकों की मांगों को पूरा करके मुहर लगा देना। अध्यापक का इतना कहना था कि मुख्यमंत्री ने चुटीले अंदाज में कहा कि भाई! पहली कलम का नाम ना इसने बहुत नुकसान कर दिया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने पांच साल सरकार चलाई और बिना खर्ची और बिना पर्ची 72 हजार नौकरियां दी। हमने पहले सरकार चलाने वाले पता नहीं क्यों स्थाई भर्ती नहीं करते थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि आचार संहिता लगी हुई है, इसलिए नई बात नहीं कही जा सकती। जो बातें हो चुकी हैं, उन्हीं का जिक्र किया जा सकता है।

मुख्यमंत्री ने गेस्ट टीचर्स को कहा कि हमने भरसक प्रयास किए कि आप लोगों को परेशानी ना आए। अधिकारियों से भी बात की। पिछले दिनों नियम बनाया गया कि आप लोगों को 58 साल की उम्र तक नौकरी से नहीं हटाया जाएगा। ए अच्छी बात है, कर्मचारियों के के लिए जो भी सबसे अच्छा हम कर सकते वहीं किया जा रहा है।

लाइसेंस रिन्यू करवाना है

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि पांच साल हमने कर्मचारियों का खूब ध्यान रखा। अब हमारा लाइसेंस एक्सपायर हो गया है। इसे रिन्यू करवाना है और इसे रिन्यू करवाने की ताकत आप लोगों में है। इस दौरान सभी गेस्ट टीचर्स ने एक आचाज में कहा कि सभी आपके साथ हैं और जो नारा 75 पार का आपने दिया है, उससे ज्यादा हम लेकर जाएंगे। गेस्ट टीचर्स पर पहली सरकारों में गोली चलवाई जाती थी।

बेरोजगारी के आंकड़े में गड़बड़ है

मुख्यमंत्री ने कहा कि चुनाव का समय है और अचानक प्रदेश में 28 % बेरोजगारी का आंकड़ा प्रमुखता से दिखाया जाने लगा। सवाल यह है कि ए आंकड़ा अचानक आया कहां से। सीएमआईई से ए आंकड़ा लिया जा रहा है।

यहां बताना जरूरी होगा कि इस कंपनी के एमडी महेश व्यास हैं और हैरानी की बात है कि महेश व्यास 2019 के लोकसभा चुनाव में चिदंबरम के नेतृत्व में बनी मेनिफेस्टो कमेटी को सुझाव देने वाले सदस्यों में शामिल थे।

महेश व्यास के रिश्तेदार अजय शाह इस सर्वे निकालने वाली कंपनी के मालिक हैं। ए बेरोजगारी का आंकड़ा सिर्फ भाजपा सरकार की इमेज खराब करने के लिए है और कुछ नहीं।

पूरा दिन चला बैठक का दौर

भाजपा ने प्रदेश कार्यालय में शनिवार को मैराथन बैठक करके रणनीति बनाई। हरियाणा विधानसभा चुनाव प्रभारी नरेंद्र सिंह तोमर, हरियाणा प्रदेश प्रभारी व राष्ट्रीय महामंत्री डॉ. अनिल जैन, हरियाणा प्रदेश संगठन महामंत्री सुरेश भट्ट, प्रदेश महामंत्री व सांसद संजय भाटिया ने सबसे पहले हरियाणा विधानसभा प्रबंधन कमेटी की बैठक ली।

इसमें डॉ. जैन और सभी नेताओं ने स्पष्ट किया कि टिकट के बंटवारे में परिवारवाद के लिए कोई जगह नहीं है। भाजपा अपने क्राइटेरिया के हिसाब से चलेगी। ऐसा नहीं होगा कि भाजपा के किसी नेता के भाई, भतीजे, बेटे को टिकट दी जाए। परिवारवाद खत्म करने की जिस मुहिम के खिलाफ भाजपा लड़ रही है, उसे आगे बढ़ाया जाएगा।

विस्तारकों और मोर्चों के साथ भी बनाई रणनीति

प्रदेश विधानसभा चुनाव प्रभारी व केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर, विधानसभा विस्तार को की बैठक को संबोधित किया। उत्तर प्रदेश के मंत्री और प्रदेश से विधानसभा प्रभारी चौधरी भूपेंद्र सिंह, सुरेश भट्ट ने विस्तारक प्रदेश संयोजक भारत भूषण मिड्ढा ने सभी को चुनावी टिप्स दिए।

सभी मोर्चों के प्रभारियों के साथ भी बैठक करके कहा कि बेफिक्र रहें, सरकार भाजपा की ही बनेगी, लेकिन ओवर कांफिडेंस में ना आएं। अपनी तैयारियों को कमजोर ना पड़ने दें। दिन रात मेहनत करें।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story