Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अस्पताल ने दी महिला की बॉडी, कफन हटाया तो निकला पुरुष का शव

गुरुग्राम के एक बड़े प्राइवेट हॉस्पिटल में शव को उसके परिजनों को सौंपे जाने को लेकर बड़ी लापरवाही सामने आई है।

अस्पताल ने दी महिला की बॉडी, कफन हटाया तो निकला पुरुष का शव

गुरुग्राम के एक बड़े प्राइवेट हॉस्पिटल में शव को उसके परिजनों को सौंपे जाने को लेकर बड़ी लापरवाही सामने आई है।

इस अस्‍पताल ने परिवार को महिला की जगह किसी अन्‍य पुरुष का शव दे दिया।

अस्पताल की लापरवाही का खुलासा तब हुआ जब क्रिया कर्म के दौरान डेड बॉडी से कफन हटाया गया।

महिला की जगह दिया पुरुष का शव

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, उत्‍तर प्रदेश के कासगंज निवासी 50 वर्षीय मंगो देवी के सिर में 10 दिन पहले गंभीर चोट लगने के कारण उनका सेक्‍टर-9 स्थित ईएसआईसी अस्‍पताल में इलाज चल रहा था।

जिसके बाद 20 नवंबर को उन्हें गुरुग्राम के साउथ सिटी स्थित पार्क हॉस्पिटल में रेफर किया गया। जहां बीते मंगलवार इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।

यह भी पढ़ें- शर्मनाक! साढ़े चार साल के बच्‍चे पर लगा नाबालिग के रेप का आरोप

इसके बाद अस्पताल ने महिला के 30 वर्षीय बेटे को 1 बजे रात डेड बॉडी ले जाने के लिए कह दिया।

इसी दौरान ही अस्‍पताल से लापरवाही हुई और अस्‍तपाल के स्‍टाफ ने महिला की जगह किसी अन्‍य पुरुष का शव उन्हें सौंप दिया।

क्रिया क्रम के दौरान हुआ खुलासा

क्रिया क्रम के दौरान जब इस बात का पता चला तो परिवार ने अस्‍पताल से संपर्क किया तो मालूम चला गलती से डेड बॉडी बदलकर दे दी गई है।

इसके बाद अस्‍पताल ने महिला की डेड बॉडी को कासगंज भेजा।

इस मामले पर अस्‍पताल के प्रवक्‍ता का कहना है कि इसमें दोनों तरफ से गलती हुई है। परिजनों ने बॉडी लेते समय चेक नहीं किया, जिससे अस्पताल स्टाफ ने गलत बॉडी दे दी।

Next Story
Share it
Top