Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बंद नहीं होगा गुड़गांव रैपिड मेट्रो का संचालन, पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट ने DMRC को सौंपा जिम्मा

गुड़गांव रैपिड मेट्रो का संचालन कथित घाटे को लेकर बंद किया गया था। लेकिन पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट के एक फैसले ने मेट्रो सेवा बंद न करने का आदेश दे दिया।

बंद नहीं होगा गुड़गांव रैपिड मेट्रो का संचालन, पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट ने DMRC को सौंपा जिम्माPunjab and Haryana High Court order - Gurgaon Rapid Metro will not stop operating

पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट (Punjab And Haryana High Court) ने गुड़गांव रैपिड मेट्रो (Gurgaon Rapid Metro) में सफर करने वालों को खुशखबरी दी है। कोर्ट ने शुक्रवार को लंबे समय से गुड़गांव मेट्रो संचालन का विवाद का निपटारा कर दिया। कोर्ट के आदेश के बाद अब रैपिड मेट्रो का संचालन नहीं रुकेगा।

DMRC को सौंपा हैंडओवर का काम

कोर्ट के आदेश के मुताबिक 19 अक्टूबर तक रैपिड मेट्रो का जिम्मा संभाल रही मौजूदा कंपनियां आरएमजीएल और आरएमजीएसएल ही इसका संचालन करेंगी। इसके बाद ही दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ही रैपिड मेट्रो का संचालन करेगी। दो रिटायर्ड जजों की देखरेख में 23 सितंबर से हैंडओवर की प्रकिया शुरू होगी।

90 दिन के लिए बंद रहा रैपिड मेट्रो का संचालन

गुड़गांव रैपिड मेट्रो का संचालन कथित घाटे को लेकर बंद किया गया था। लेकिन पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट ने आज मेट्रो सेवा बंद न करने का आदेश दे दिया। बता दें कि रैपिड मेट्रो का संचालन कर रही आरएमसीएसएल ने सात जून 2019 को हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण को नब्बे दिन का नोटिस देकर सेवा बंद करने को कहा था। इसका समय 9 सितंबर 2019 2019 को पूरा हो चुका था।

CAG को ऑडिट का आदेश

कोर्ट ने इस पर आज फैसला सुनाते हुए कंपनी को संचालन जारी रखने को कहा है। कोर्ट ने एक महीने में सीएजी को ऑडिट का आदेश दिया। हरिंदर ढींगरा ने नियमों को दरकिनार करने पर सवाल उठाए थे।

Next Story
Share it
Top