Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लाखों रुपये से भरा एटीएम उखाड़ ले गए चोर, गुहला-चीका की बड़ी खबर

गुहला पुलिस ने पंद्रह किलोमीटर तक पीछा किया लेकिन चोरों को नहीं पकड़ पाई। गुहला थाना में कई सालों से नहीं है पीसीआर, थाना प्रभारी की गाड़ी भी अच्छी हालत में नहीं है।

Viral Video: कैंसर पीड़ित बच्चे ने कहा वो बैटमेन से मिलना चाहता है, डॉक्टर ने खुद पहन लिया कॉस्ट्यूम
X
बच्चे की खुशी के लिए डॉक्टर ने पहना बैटमेन कॉस्ट्यूम (फाइल फोटो)

हरिभूमि न्यूज. गुहला-चीका। बुधवार रात को चोर गुहला तहसील के सामने लगे विक्रांगी केंद्र से एटीएम उखाड़कर फरार हो गए। एटीएम में एक लाख तेरह हजार सौ रुपए थे। यह एटीएम डीएसपी कार्यालय से मात्र सौ गज की दूरी पर लगा हुआ है। एटीएम को तोड़ने की सूचना समय रहते मिलने के बावजूद गुहला पुलिस उस समय घटना स्थल पर पहुंची जब चोर एटीएम को गाड़ी में लोड कर चुके थे। चोरों ने जैसे ही पुलिस की गाड़ी सायरन सुना तो उन्होंने पिकअप को पंजाब सीमा की तरफ दौड़ा दिया और पुलिस को छकाते हुए स्यो माजरा, भाटियां गांव से होते हुए फरार हो गए। गुहला पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर चोरों की तलाश शुरू कर दी है। बुधवार रात लगभग साढ़े बारह बजे एक पिकअप गाड़ी में सवार मुंह पर कपड़ा बांधे सात से आठ व्यक्ति तहसील के सामने लगे विक्रांगी केंद्र के एटीएम पर पहुंचे और एटीए को शटर तोड़ उसके अंदर लगे कैमरे तोड़ दिए। उसके बाद एटीएम मशीन में रस्सा डाल उसे उखाड़ लिया। रात के समय एटीएम का शटर टूटने की आवाज सामने बने तहसील कार्यालय के चौकीदार को सुनी तो उसने तुरंत इसकी सुचना गुहला पुलिस को दी। पुलिस जब तक घटना स्थल पर पहुंचती तब तक चोर एटीएम मशीन को गाड़ी में लाद चुके थे। जैसे ही चोरों को पुलिस के आने की भनक लगी तो उन्होंने गाड़ी दौड़ा दी। खटारा गाड़ी में सवार पुलिस के जवान देखते रह गए और चोर उनकी आंखों के सामने से फरार हो गए। एटीएम के मालिक दीपक कुमार ने बताया कि वह विक्रांगी केंद्र में बैंक आफ बड़ौदा का कार्य करता है। यहीं पर उसने एटीएम लगाया हुआ है। गत शाम पांच बजे उसने एटीएम मशीन में एक लाख तीस हजार रुपए भरे थे और रात दस बजे एटीएम बंद कर वह घर चला गया था। रात को चोर एटीएम मशीन ही उखाड़ ले गए है। मशीन चोरी होते समय उसके अंदर एक लाख तेरह हजार सौ रुपए थे। गुहला पुलिस ने दीपक की शिकायत पर अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 380, 457 के तहत मामला दर्ज करी लिया है।

कैसे रुकेंगे अपराध जब पुलिस के पास नहीं है वाहन

पंजाब की सीमा से सटा गुहला थाना का क्षेत्र शुरू से ही नशा तस्करी के रूप में जाना जाता रहा है। यहां पर नशा बेचने के साथ साथ दूसरे अपराध भी होते रहते हैं। इन अपराधों को रोकने के लिए यहां पर पुलिस के पास पर्याप्त वाहन नहीं है। गुहला थाना और इसके अधीन आने वाली दो चौकियों में पीसीआर की कोई गाड़ी ही नहीं है। किसी भी प्रकार का अपराध होने पर थाना प्रभारी की खस्ता हाल गाड़ी से ही घटना स्थल तक पहुंचा जाता है। यदि एक ही समय पर अलग अलग घटना हो जाएं तो पुलिस कर्मचारियों को पहली जगह से गाड़ी के लौटने का इंतजार करना पड़ता है। लोगों का कहना है कि जब पुलिस के पास अच्छे वाहन ही नहीं है तो उनसे अपराध रोकने या चोर पकड़ने की उम्मीद कैसे की जा सकती है। कई बार मांग करने के बावजूद सरकार यहां पर पीसीआर मुहैया नहीं करवा रही। गत रात भी अगर पुलिस के पास अच्छी हालत की गाड़ी होती तो चोरों को पकड़ा जा सकता था।

एटीएम मशीन तोड़ने की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची थी लेकिन चोर भागने में कामयाब हो गए। चोरों की तलाश में पुलिस पार्टी को पंजाब में भेजा गया है। जल्द ही चोर मशीन सहित पुलिस की गिरफ्त में होंगे।- किशोरी लाल, डीएसपी गुहला।

Next Story