Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

हरियाणा: आरक्षण आंदोलन क्यों और कैसे घटा, अब होगी जांच

आंदोलन के दौरान हिंसा, आगजनी और इन घटनाओं की पटकथा लिखने वाले साजिशकर्ताओं खिलाफ जांच होगी।

हरियाणा: आरक्षण आंदोलन क्यों और कैसे घटा, अब होगी जांच
चंडीगढ़. जाट आरक्षण आंदोलन के दौरान हिंसा, आगजनी, लूटपाट की घटनाएं होने और इन घटनाओं की पटकथा लिखने वाले साजिशकर्ताओं का पता लगाने के लिए न्यायिक जांच आयोग के चेयरमैन जस्टिस एसएन झा और सदस्य एनसी पाढ़ी ने मंगलवार को चंडीगढ़ में वाइन कर लिया है। आयोग ने मुख्य सचिव डीएस ढेसी और गृह सचिव पीके दास के साथ चंडीगढ़ में बैठक हुई। उनसे आंदोलन की फीडबैक और आयोग का दफ्तर शुरू करने बारे चर्चा हुई।
जस्टिस एसएन झा और एनसी पाढ़ी के साथ जांच के बिंदुओं, तरीके आदि के बारे में हरिभूमि ने मंगलवार को विशेष बातचीत की। जस्टिस एसएन झा ने बताया कि अभी तो आयोग का दफ्तर सेटअप होगा। जैसे ही दफ्तर सेटअप हो जाएगा। आयोग की पहली बैठक के साथ छह महीने का कार्यकाल शुरू हो जाएगा। उस बैठक में तय करेंगे कि आयोग इस मामले की जांच कैसे करेगा। मगर यह काम जल्द शुरू हो जाएगा।
उन्होंने कहा कि आयोग इस पूरे घटनाक्रम, उसमें हुई चूक और आंदोलन भड़काने या इसकी साजिश रचने वालों का भी पता लगाएगा। आयोग जब यह फैसला कर लेगा कि जांच कैसे की जाएगी तो सार्वजनिक नोटिस जारी कर शिकायतें मांगी जाएंगी। ये शिकायतें शपथ पत्र पर लेनी हैं या साधारण कागज पर, यह महत्वपूर्ण बिंदू है। उसका फैसला के बाद ही आयोग आगे बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि आयोग किन्हीं दस्तावेजों के आधार पर ही जांच करेगा।
जांच के दौरान अगर कोई ऐसा बिंदू पाया गया जिसे जांच के दायरे में लाना जरूरी होगा, उसे जरूर लाया जाएगा। उन्होंने कहा कि दफ्तर सेटअप कई चरणों में होगा। आयोग को समुचित जगह चाहिए, एक चैंबर हो, जनता के बैठने की जगह होगा ताकि वे अपनी बात कह सकें। एक कोर्ट रूम हो। कुछ आदमी कोआर्डिनेट करने के लिए चाहिए।
जस्सि एसएन झा ने कहा कि आंदोलन क्यों भड़का, कैसे बढ़ा व बढ़ने के दौरान किसकी चूक रही, इस पर आयोग व्यक्गित केंद्रित जांच नहीं, संस्थागत जांच करेगा। उन्होंने कहा कि प्रशासन की चूक हुई है तो उसमें ऊपर से नीचे तक अफसरों, मुलाजिमों की नियुक्ति होती है। इन अफसरों, मुलाजिमों की जांच आयोग नहीं करेगा मगर प्रशासन की चूक मानी जाएगी। अफसरों की जांच उनके दायरे में नहीं, प्रशासन चूक हम बताएंगे। किसी ने साजिश रची है तो उसकी जांच होगी।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top