Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दसवीं के छात्र की दोस्त ने की हत्या, 200 रुपये नहीं लौटाने पर चाकू घोंपकर मारा

लॉकडाउन के दौरान निकटवर्ती गांव सुनारियां कलां में दिल दहला देने वाली वारदात हुई। मात्र दो सौ रुपये नहीं लौटाने पर एक युवक ने अपने ही दाेस्त को चाकू से गोद दिया और फरार हो गया। घायल को पीजीआई भर्ती कराया गया, जहां तड़के उसकी मौत होे गई। पुलिस ने हत्या का केस दर्जकर जांच पड़ताल शुरू कर दी है। घटना सीसीटीवी में भी कैद हुई है। परिवार में इकलौते बेटे की मौत से मातम पसरा हुआ है। पुलिस ने आरोपित को देर शाम गिरफ्त में ले लिया है।

पति ने चाकू घोंपकर की पत्नी की हत्या, पुलिस से कहा प्रेमी के साथ भाग रही थीहमलावर ने एक महिला पर चाकू घोंपकर की हत्या

लॉकडाउन के दौरान निकटवर्ती गांव सुनारियां कलां में दिल दहला देने वाली वारदात हुई। मात्र दो सौ रुपये नहीं लौटाने पर एक युवक ने अपने ही दाेस्त को चाकू से गोद दिया और फरार हो गया। घायल को पीजीआई भर्ती कराया गया, जहां तड़के उसकी मौत होे गई। पुलिस ने हत्या का केस दर्जकर जांच पड़ताल शुरू कर दी है। घटना सीसीटीवी में भी कैद हुई है। परिवार में इकलौते बेटे की मौत से मातम पसरा हुआ है। पुलिस ने आरोपित को देर शाम गिरफ्त में ले लिया है।

पुलिस को दी शिकायत में किसान अशोक ने बताया कि उसके पास एक ही बेटा अशोक है। जिसने हाल ही में दसवीं के पेपर दिए हुए थे। वह घर पर ही रह रहा था। मंगलवार की शाम को करीबन चार बजे गांव का ही युवक उनके मकान परअ आया। उसने राेेहित को बाहर बुलाया। अशोक भी रोहित के साथ बाहर आ गया। कुछ देर बाद अशोेक वापस मकान में चला गया। इसी दौरान रोेहित खून से लथपथ होकर मकान में भागते हुए आया।

हमलावर युवक उसके पीछे पीछे मकान में आ घुसा। उसने रोहित पर चाकू से कई वार किए। अशोक और उसकी पत्नी सुुमन ने बेटे को बचाने की कोशिश की तो उन पर हमला करने का प्रयास किया। अशोेक आरोेपित के पीछे भागा लेकिन वह पैदल ही फरार हो गया। घायल युवक को उपचार के लिए पीजीआई ले जाया गया। जहां रात भर उपचार के बाद तड़के युवक की मौत हो गई। सूचना मिलने पर डीएसपी महेश कुमार, एसएचओ बलवंंत सिंह, एफएसएल एक्सपर्ट डाॅ. सरोज दहिया ने मौके का निरीक्षण कर सबूत जुटाए हैंं।

पांच दिन पहले आया था हत्यारोपित का फोन-

परिवार ने पुलिस को बताया कि हमलावर युवक ने चार पांच दिन पहले रोेहित की मां के पास फोन किया था कि आंंटी रोहित उसके दो सौ रुपये नहीं दे रहा हैै। मां के पूछने पर रोहित ने बताया कि उसने सौ रुपये का परना आरोपित को दिलवा दिया था। 60 रुपये मैने दे दिए थे। अन्य 40 रुपये भी दे दूंंगा। इसी रंजिश में आरोपित ने हमला कर रोहित की हत्या कर दी।

हत्यारे के पीछे भागा पिता

हत्यारा वारदात को अंजाम देकर रोेहित के घर से पैैदल ही भागने लगा। रोेहित का पिता अशोक उसे पकड़ने के लिए पीछे दौड़ा। लेकिन वह तेजी से भगा निकला। घटनाक्रम गली में स्थित एक अन्य मकान के सीसीटीवी कैमरे में कैद हुआ है। पुलिस ने कैमरे की डीवीआर अपने कब्जे में ले ली है।

मां बाप के सामने लाड़लेे पर किया हमला

परिवार को रोहित सेे बड़ी उम्मीदें थी। उन्होंने अपने इकलौते बेटे को प्यार से पाला था। रोहित की कोई बहन भी नहीं है। बुढ़ापे में दंपत्ति को बेटे का ही सहारा था। लेकिन मामूली सी बात पर ही रोहित की हत्या कर दी गई। मां बाप को इस बात का गहरा आघात पहुंचा है। ग्रामीणों ने बताया कि मां बाप के सामने ही उनके लाड़ले की बेहरहमी से हत्या कर दी गई और बेबस मां बाप कुछ नहीं कर सके। मौत सेे गांव में मातम का माहौल बना हुआ है। परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है।


Next Story
Top